1. home Home
  2. world
  3. pakistan appoints nadeem anjum as new isi chief mtj

फैज हमीद को हटाकर नदीम अंजुम को बनाया पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI का चीफ

शक्तिशाली खुफिया एजेंसी आईएसआई के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद को पेशावर कोर का कमांडर बना दिया गया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पंजाब रेजिमेंट से हैं नये आईएसआई चीफ नदीम अंजुम
पंजाब रेजिमेंट से हैं नये आईएसआई चीफ नदीम अंजुम
Twitter (Payam-E-Yar)

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को एक बार फिर सेना के आगे झुकना पड़ा. इमरान खान के चहेते माने जाने वाले आईएसआई प्रमुख फैज हमीद को उनके पद से हटा दिया गया है. उनकी जगह लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अंजुम को ISI का नया चीफ बनाया गया है. पाकिस्तानी सेना ने बुधवार को यह चौंकाने वाली घोषणा की.

शक्तिशाली खुफिया एजेंसी आईएसआई के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद को पेशावर कोर का कमांडर बना दिया गया है. पाकिस्तानी सेना के मीडिया प्रकोष्ठ इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) ने कहा कि लेफ्टिनेंट जनरल नदीम अंजुम को लेफ्टिनेंट जनरल हमीद के स्थान पर इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) का नया महानिदेशक नियुक्त किया गया है.

आईएसआई प्रमुख की नियुक्ति प्रधानमंत्री द्वारा की जाती है, लेकिन परंपरा के अनुसार प्रधानमंत्री पाकिस्तान के सेना प्रमुख की सलाह से इस शक्ति को उपयोग करते हैं. आईएसआई प्रमुख का पद पाकिस्तानी सेना में सबसे महत्वपूर्ण पदों में से एक माना जाता है. सेना ने देश के करीब 73 साल के इतिहास में आधे से अधिक समय तक देश पर शासन किया है.

शुरू में सेना ने एक आधिकारिक बयान में कहा था कि लेफ्टिनेंट जनरल हमीद को अन्यत्र नियुक्त किया गया है, लेकिन उनके स्थान पर आईएसआई प्रमुख के पद पर किसी नियुक्ति की तत्काल घोषणा नहीं की थी. लेफ्टिनेंट जनरल अंजुम पाकिस्तानी सेना की पंजाब रेजिमेंट से हैं और वह कराची कोर कमांडर के साथ ही कमांड एंड स्टाफ कॉलेज क्वेटा के कमांडेंट के रूप में भी काम कर चुके हैं.

बाजवा के करीबी थे हमीद

हमीद को 16 जून, 2019 को एजेंसी का प्रमुख नियुक्त किया गया था. उससे पहले उन्होंने आईएसआई में आंतरिक सुरक्षा के प्रमुख के रूप में काम किया था. हमीद को सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा का करीबी माना जाता है और उन्हें ऐसे महत्वपूर्ण समय में आईएसआई प्रमुख नियुक्त किया गया था, जब कई बाहरी और आंतरिक सुरक्षा चुनौतियां थीं.

उन्होंने सितंबर में अफगानिस्तान की राजधानी काबुल का दौरा किया था और मीडिया के साथ एक संक्षिप्त बातचीत में कहा था कि अफगानिस्तान में ‘सब कुछ ठीक’ हो जायेगा. उन्होंने यह बयान उस समय दिया था, जब सरकार की घोषणा में देरी के कारण तालिबान अधिकारियों के बीच मतभेदों की अफवाहें थीं. सेना ने एक आधिकारिक बयान में वरिष्ठ स्तर पर दो और नियुक्तियों की भी घोषणा की.

इसमें कहा गया है कि लेफ्टिनेंट जनरल मोहम्मद आमिर को गुजरांवाला कोर का कमांडर नियुक्त किया गया है, जबकि लेफ्टिनेंट जनरल असीम मुनीर को सेना का क्वार्टर मास्टर जनरल (क्यूएमजी) नियुक्त किया गया है. पड़ोसी देश अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद से उत्पन्न हुई परिस्थितियों के मद्देनजर पाकिस्तान में इस बदलाव को महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें