30.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

UP News : अपराधियों को सजा दिलाने में अलीगढ़ पुलिस NO 1 , दूसरे नंबर पर आगरा

अलीगढ़ में अपराधियों को सजा दिलाने के मामले में अलीगढ़ पुलिस प्रदेश में पहला स्थान पाया है. ऑपरेशन कनविक्शन के तहत अपराधियों को सजा दिलाने के लिए एसएसपी की निगरानी में काम किया गया

अलीगढ़ : NCRB के आंकड़े बताते हैं कि अराधियों को सजा दिलाने में अलीगढ़ पुलिस ने प्रदेश में पहला स्थान पाया है. ऑपरेशन कनविक्शन के तहत अपराधियों को सजा दिलाने के लिए एसएसपी की निगरानी में काम किया गया. हालांकि एसएसपी इसका श्रेय अपने वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन और अधीनस्थों की मेहनत एवं अभियोजन विभाग द्वारा उचित सहयोग को दिया है . एसएसपी कला निधि नैथानी ने बताया कि पुलिस द्वारा न्यायालय में प्रभावी पैरवी करते हुए गवाहों का समय से उपस्थित कराया गया. जिसके चलते अपराधियों को सजा दिलाने में अलीगढ़ पुलिस को प्रदेश में अव्वल स्थान प्राप्त हुआ है.

अपराधियों के विरुद्ध कराई प्रभावी पैरवी

सजा दिलाने के विभिन्न मानकों की समीक्षा भी की गई. उत्तर प्रदेश पुलिस मुख्यालय की ओर से चलाए जा रहे अभियान ऑपरेशन कनविक्शन के क्रम में अपराधियों के विरुद्ध प्रभावी पैरवी कराकर सजा दिलाने का कार्य किया जा रहा है. इसमें हत्या, लूट, बलात्कार, एनडीपीएस एक्ट, दहेज हत्या जैसे जघन्य अपराधों को चिन्हित कर अभियोजन विभाग के समन्वय से सजा दिलाई जा रही है.

यूपी पुलिस ने रैंकिग का बनाया फार्मूला

एसएसपी कला निधि नैथानी के निर्देशन में मॉनिटरिंग सेल द्वारा न्यायालय में विचाराधीन अभियोग में पैरवी करने के साथ ही गवाहों की समय से उपस्थिति सुनिश्चित की जाती है. थाना पुलिस व अभियोजन की टीम को लगाकर मुकदमों में लगातार पैरवी कराई जा रही है. इसके बेहतर परिणाम प्राप्त हो रहे हैं. अपराधियों को सजा दिलाने के रैंकिंग का फार्मूला भी तय है. जिसमें मृत्युदंड या आजीवन कारावास एवं 20 वर्ष से अधिक सजा के लिए अधिकतम 30 अंक रखा गया है, अन्य सजा के लिए 20 अंक निर्धारित है. चार्जशीट लगने के एक वर्ष के भीतर सजा के लिए 10 अंक निर्धारित है. वहीं, पास्को और बलात्कार में कराई गई सजा के लिए 10 अंक निर्धारित किए गये. जिसमें पहले पायदान पर अलीगढ़ पुलिस का नाम शामिल है. अलीगढ़ में 25 से अधिक थानों वाली कैटेगरी में रखा गया है, वहीं, सजा दिलाने के मामले में आगरा पुलिस दूसरे नंबर पर और कानपुर नगर पुलिस तीसरे नंबर पर आया है.

Also Read: अलीगढ़: रेलवे स्टेशन पर हमसफर एक्सप्रेस में पत्नी पर ब्लेड से हमला कर किया गंभीर रूप से घायल, जानें मामला
सनसनीखेज प्रकरणों में 140 लोगों में से 92 को कराई सजा

अलीगढ़ में मृत्युदंड, आजीवन कारावास एवं 20 वर्ष से अधिक सजा 58 लोगों को कराई गई है. वहीं अन्य दूसरे मामलों में 354 लोगों के खिलाफ सजा कराई गई है. चार्जशीट लगने के 1 वर्ष के भीतर मृत्युदंड, आजीवन कारावास, 20 वर्ष की सजा 8 लोगों को कराई गई है. इसके साथ ही विभिन्न सनसनीखेज प्रकरणों में 140 लोग चिन्हित किए गये. जिसमें 92 लोगों को सजा कराई गई. इसके साथ ही पास्को व दुराचार में 40 लोगों को सजा कराई गई. इन सभी को पैरामीटर मानकर अलीगढ़ की रैंकिंग पहले पायदान पर है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें