1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. know everything about koo app made in india app sets to become indian twitter alternative how and where to download get all details here latest news in hindi rjv

Koo App कैसे और कहां से करें डाउनलोड? Made In India ऐप के बारे में जानें वो सबकुछ जो आप जानना चाहते हैं

आजकल Koo App की काफी चर्चा हो रही है और इसे माइक्रोब्लॉगिंग साइट Twitter का देसी विकल्प माना जा रहा है. बेंगलुरु के Aprameya Radhakrishna और Mayank Bidawatka ने अपनी टीम के साथ मिलकर पिछले साल इस देसी ऐप को डेवेलप किया था और खास बात ये है कि यह Digital India AatmaNirbhar Bharat Innovate Challenge का विजेता रहा है. इस भारतीय ऐप को प्रोमोट करने के लिए कई भारतीय हस्तियां सामने आई हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Koo sets to become Indian alternative of Twitter
Koo sets to become Indian alternative of Twitter
fb

Koo App is Indian Alternative of Twitter: आजकल Koo App की काफी चर्चा हो रही है और इसे माइक्रोब्लॉगिंग साइट Twitter का देसी विकल्प माना जा रहा है. बेंगलुरु के Aprameya Radhakrishna और Mayank Bidawatka ने अपनी टीम के साथ मिलकर पिछले साल इस देसी ऐप को डेवेलप किया था और खास बात ये है कि यह Digital India AatmaNirbhar Bharat Innovate Challenge का विजेता रहा है. इस भारतीय ऐप को प्रोमोट करने के लिए कई भारतीय हस्तियां सामने आई हैं.

बता दें कि साल 2020 में भारत सरकार ने कई चीनी ऐप्स को बैन कर दिया था. सरकार ने भारतीय डेवलपर्स को प्रोत्साहन देने के लिए आत्मनिर्भर भारत कैंपेन भी शुरू किया. पीएम मोदी की आत्मनिर्भर भारत पहल पर देश में कोशिशें काफी तेज हो गई हैं और देसी टेक कंपनियां तरह-तरह के मोबाइल ऐप्लिकेशन पर काम कर रही हैं, जो सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म के साथ ही अन्य जरूरी चीजों से जुड़े हैं. Koo App इसी कोशिश का नतीजा है.

पीयूष गोयल के ट्वीट से आया चर्चा में

Koo App इन दिनों चर्चा में तब आया, जब केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर बताया कि उन्होंने मेड इन इंडिया माइक्रोब्लॉगिंग प्लैटफाॅर्म Koo जॉइन कर लिया है. असल में कुछ समय से ट्विटर और भारत सरकार के बीच विवाद की स्थिति बनी हुई है और ऐसे में हर तरह से कोशिश की जा रही है कि जितने भी पॉपुलर ऐप्स हैं, उनके देसी विकल्प की तरफ भी लोगों का ध्यान आकर्षित किया जाए.

Koo के फीचर्स कैसे हैं?

Koo में अधिकतम 400 अक्षरों तक के छोटे पोस्ट लिख सकते हैं. यह ऐप यूजर को टेक्स्ट, ऑडियो, वीडियो में मैसेज को शेयर करने का ऑप्शन देता है. ऐप को भारतीयता की फीलिंग देने के लिए इसमें हिंदी के साथ-साथ बांग्ला, गुजराती, तेलुगू, कन्नड़, तमिल, मलयाली, मराठी, पंजाबी, असमिया और उड़िया भाषाओं का सपोर्ट भी शामिल किया गया है.

Koo को कैसे डाउनलोड करें?

Koo को Google Play और Apple App Store दोनों प्लेटफॉर्म के जरिये डाउनलोड (How to Download Koo App) और इंस्टॉल किया जा सकता है. iOS बेस्ड App Store पर ऐप की रेटिंग 4.2 है. वहीं, Google Play पर ऐप की रेटिंग 4.7 है और यह रेटिंग अब तक 55 हजार से ज्यादा लोगों द्वारा की जा चुकी है.

दो दिनों में 30 लाख डाउनलोड

Koo के को-फाउंडर मयंक बिदावत (Mayank Bidawatka) के अनुसार, पिछले दो दिनों में Koo के डाउनलोडिंग में 10 गुना की बढ़ोतरी दर्ज की गई है. ऐसे में केवल दो दिनों में Koo ऐप को लगभग 30 लाख) से ज्यादा बार डाउनलोड किया गया है. मयंक की मानें, तो बीते 48 घंटों में Koo ऐप पर सबसे ज्यादा संख्या में साइन-अप किया गया है.

Koo ऐप ट्विटर पर टॉप ट्रेंडिंग में

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने बीते मंगलवार को Koo ऐप को ज्वाइन करने का ऐलान किया था. इसके बाद से ही Koo ऐप की डाउनलोडिंग में तेजी देखी जा रही है. साथ ही, ट्विटर पर #kooapp टॉप ट्रेंडिंग पर रहा. इससे जुड़े लगभग 21,000 पोस्ट किये गये. साथ ही, ट्विटर पर #BanTwitter भी ट्रेंड हुआ. गोयल सहित कई मंत्री Koo ऐप डाउनलोड कर रहे हैं. पीयूष गोयल के अलावा, भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा, भाजपा के आईटी हेड अमित मालवीय ने भी Koo ऐप ज्वाइन करने का ऐलान किया है.

Twitter का भारतीय विकल्प Koo

Koo को Twitter के भारतीय विकल्प के तौर पर शुरू किया गया है. ऐप को आत्मनिर्भर भारत कैंपेन का सपोर्ट मिल रहा है. कई बड़े नेता और लोकप्रिय हस्तियां इस ऐप के लिए साइन-अप कर रही हैं और लोगों को इसे सपोर्ट करने का आग्रह भी किया जा रहा है. इनमें केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad), पीयूष गोयल (Piyush Goyal), जैसे बड़े नाम शामिल हैं. यही नहीं, मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (MeitY), इंडिया पोस्ट (India Post), माईगॉव (MyGov) ने भी Koo में अपने अकाउंट बना लिए हैं. अब दिग्गज भारतीय नेताओं और बड़े मंत्रालयों द्वारा इसके प्रचार करने के बाद Koo को लोग जान रहे हैं.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें