1. home Hindi News
  2. tech and auto
  3. bike car insurance buying a new car or two wheeler to be cheaper buying cars and bikes to get cheaper from august 1 by this new rule know how cheaper cars new car discounts car insurance prices third party insurance comprehensive vehicle insurance irdai automobile news

खुशखबरी : सस्ता हो गया Car और Bike खरीदना, जानि‍ए कैसे

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
new rule to make car and bike affordable
new rule to make car and bike affordable
file photo

Comprehensive Vehicle Insurance, Cheaper Cars and Bikes, Car Bike Insurance: अगस्त महीने की पहली तारीख (August 1, 2020) से नयी कार या टू-व्हीलर खरीदने पर आपको अब थोड़ी कम कीमत चुकानी पड़ेगी. नये वाहनों के लिए ऑन-रोड कीमतों में बीमा नियामक और विकास प्रधिकरण (IRDAI) द्वारा अपने लॉन्ग-टर्म इंश्योरेंस पैकेज योजनाओं को वापस लेने के नतीजे के रूप में मामूली कमी देखने को मिलेगी.

तीन या पांच साल के लिए लंबी अवधि के मोटर वाहन बीमा को अनिवार्य करने के लिए नियम को खत्म कर दिया गया है और इंडस्ट्री अब अनिवार्य रूप से एक वर्ष, ओन-डैमेज इंश्योरेंस कवर पर वापस आ गया है जो एक नये वाहन को खरीदते समय जरूरी है.

व्हीकल इंश्योरेंस में हुए बदलाव

इस रोलबैक के साथ, ग्राहक के पास लॉन्ग-टर्म ओन-डैमेज पॉलिसी खरीदने का विकल्प नहीं होता है, भले ही वे करना चाहते हों. इसका मतलब यह हुआ कि नये वाहन मालिकों को एक वर्ष के लिए व्यापक कवर खरीदने की जरूरत है, जबकि थर्ड पार्टी इंश्योरेंश अभी भी कार और दोपहिया वाहनों के लिए तीन और पांच साल के लिए जरूरी है.

IRDAI ने मूल रूप से इस वर्ष जून में लॉन्ग-टर्म मोटर वाहन बीमा योजनाओं को वापस लेने के अपने निर्णय को अधिसूचित किया था, इन नीतियों के प्रदर्शन से संबंधित चिंताओं को खोजने के बाद यह फैसला लिया गया.

ऑटो, मोबाइल और गैजेट्स से जुड़ी हर Latest News in Hindi से अपडेट रहने के लिए बने रहें हमारे साथ.

ऑन-रोड कीमतों में बढ़ोतरी से खरीदारी प्रभावित

गौरतलब है कि मोटर चालकों और पैदल चलने वालों के लिए सड़कों को सुरक्षित बनाने के लिए सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद सितंबर 2018 में लॉन्ग-टर्म इंश्योरेंस कवर पेश किया गया था. कार के लिए तीन साल की अवधि के लिए या टू-व्हीलर वाहनों के मामले में पांच साल के लिए संयुक्त (ओन-डैमेज + थर्ड पार्टी) इंश्योरेंस खरीदने का निर्देश अनिवार्य कर दिया था.

ऑन-रोड कीमतों में अचनाक बढ़ोतरी का असर खरीदारी पर पड़ा. IRDAI ने तब बीमा कंपनियों को 1 सितंबर 2019 से वाहनों के लिए स्टैंडअलोन सालाना ओन-डैमेज इंश्योरेंस प्रदान करने के लिए कहा, क्योंकि थर्ड पार्टी का हिस्सा पहले से ही तीन या पांच साल की नीति के तहत कवर किया गया था. ओन-डैमेज कवर की तुलना में थर्ड पार्टी इंश्योरेंस पॉलिसियों की लागत काफी कम है.

नयी कार या बाइक की खरीदना होगा सस्ता

यह नियम 1 अगस्त से लागू हो जाएंगे. नये नियम लागू होने के बाद उन लोगों पर इसका सीधा असर होगा जो 1 अगस्त के बाद नयी कार खरीदने जा रहे हैं. हालांकि जो इस तारीख से पहले कार खरीद चुके हैं, वो भी इससे प्रभावित हुए बिना नहीं रहेंगे. इस लॉन्ग टर्म इंश्योरेंस पैकेज को 1 सितंबर, 2018 को सुप्रीम कोर्ट द्वारा पेश किया गया था. लॉन्ग टर्म का मतलब दोपहिया वाहनों के लिए पांच साल और चार पहिया वाहनों के लिए तीन साल 'मोटर थर्ड पार्टी पॉलिसी' लागू की थी.

इसके बाद बीमा कंपनियों ने लॉन्ग टर्म पैकेज वाले प्लान पेश किये थे, जिसमें थर्ड पार्टी और ओन डैमेज कवर मिलता था. मोटर व्हीकल इंश्योरेंस में बदलाव करने से तो अगले महीने से नयी कार या बाइक की खरीदारी थोड़ी सस्ती पड़ सकती है. इससे कोरोना काल में लाखों लोगों को फायदा मिलेगा. इरडा ने कहा कि लॉन्ग टर्म पैकेज पॉलिसी के कारण नया वाहन खरीदना लोगों के लिए मंहगा साबित होता है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें