अब बेरोजगारी का आंकड़ा तैयार करेगा डीवाइएफआइ

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

डीवाइएफआइ ने 12 फरवरी को उत्तरकन्या अभियान का किया आह्वान

फरवरी के अंतिम सप्ताह में दिल्ली अभियान के दौरान प्रधानमंत्री को राज्य के बेरोजगारों की सूची सौंपेगा डीवाइएफआइ
सिलीगुड़ी : केन्द्र सरकार के डिजिटल इंडिया को चुनौती देते हुए डीवाईएफआई कर्मी स्मार्टफोन लेकर एनआरबी (नेशनल रजिस्टर ऑफ बेरोजगारी) के समर्थन में बंगाल के युवाओं तक जायेंगे.
फरवरी के अंतिम में डीवाईएफआई के बैनर तले दिल्ली अभियान के माध्यम से प्रधान मंत्री को बंगाल के बेरोजगार युवक-युवतियों का आंकड़ा सौंपा जायेगा. 10 जनवरी से राज्य के सभी जिलों में डीवाईएफआई कर्मियों ने एनआरबी के साथ युवाओं का नाम जोड़ने का काम शुरू कर दिया है.
गुरुवार को सिलीगुड़ी के हिलकार्ट रोड स्थित अनिल विश्वास भवन में मीडियाकर्मियों से बात करते हुए डीवाईएफआई के प्रदेश कमेटी के सचिव शायनदीप मित्रा ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि दिल्ली अभियान से पहले 12 फरवरी को सिलीगुड़ी में डीवाईएफआई की ओर से उत्तरकन्या अभियान का आह्वान किया गया है.
शायनदीप मित्रा ने बताया कि केन्द्र सरकार एनआरसी, एनपीआर तथा सीएए को लागू करने की योजना बना रही है. उन्होंने बताया कि देश में तेजी से बढ़ रही बेरोजगारी की ओर किसी का ध्यान नहीं है.
रेलवे का निजीकरण किया जा रहा है. खाली पड़े सैकड़ों पदों पर भी नियुक्ति नहीं हो रही है. उन्होंने आरोप लगाते हुए कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी प्रधान मंत्री से कोलकाता में मुलाकात कर राज्य में एनपीआर को लागू करना चाहती है. लेकिन वे ऐसा कभी नहीं होने देंगे.
उन्होंने देश में एनआरबी(नेशनल रजिस्टर ऑफ बेरोजगारी) को लागू करने की मांग की. उन्होंने बताया कि डीवाईएफआई कर्मी स्मार्ट फोन लेकर युवाओं के पास जायेंगे. जहां ऑनलाइन युवाओं का बेरोजगारी फॉर्म भरकर बंगाल में बेरोजगार युवक युवतियों की एक सूची तैयार की जायेगी.
फरवरी के अंत में आयोजित होने वाली दिल्ली अभियान के दौरान उक्त सूची प्रधानमंत्री को सौंपी जायेगी. उत्तर बंगाल की स्थिति पर चिंता जाहिर करते हुए मित्रा ने बताया कि राज्य सराकर इस ओर ध्यान नहीं दे रही है. उन्होंने बताया कि उत्तर बंगाल इतना महत्वपूर्ण स्थान होने के बाद भी यहां एसएससी का रीजनल सेंटर भी नहीं है. इसके अलावे बंद चाय बगान तथा यहां के श्रमिकों की हालत काफी खराब है.
रोजगार के नाम पर यहां के युवाओं को ठगा जा रहा है. इसी को लेकर आगामी 12 फरवरी को डीवाईएफआई की ओर से सिलीगुड़ी में उत्तर कन्या अभियान का आह्वान किया गया है. उन्होंने चेतावनी देते हुए बताया कि अगर पुलिस अभियान में बाधा उत्पनी करती है तो इसके बाद के नतीजे की जिम्मेदारी पुलिस को लेनी होगी. इस दौरान डीवाईएफआई के प्रदेश कमेटी के अध्यक्ष मीनाक्षी मुखर्जी व अन्य सदस्य भी उपस्थित थे.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें