बीएसएफ की गोली से मरा मवेशी तस्कर, जवान जख्मी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मालदा : भारत-बांग्लादेश सीमा पर मवेशी तस्करी रोकने के दौरान हथियारबंद तस्करों के हमले में एक बीएसएफ जवान घायल हो गया, जबकि बीएसएफ की गोली से एक तस्कर की मौत हो गयी.
गुरुवार को भोर में यह घटना वैष्णवनगर थाने के भारत-बांग्लादेश सीमा पर स्थित दौलतपुर इलाके में घटी. सीमा पर लगी कंटीली बाड़ काटकर 20-25 तस्कर बड़ी संख्या में मवेशियों की तस्करी कर रहे थे. बीएसएफ की 180 नंबर बटालियन के जवानों ने इसका विरोध किया.
इसी दौरान एक जवान पर धारदार हथियार से हमला किया गया. आरोप है कि तस्करों की ओर से बीएसएफ पर गोली भी चलायी गयी. जवाब में बीएसएफ ने भी गोली चलायी, जिसमें नईम शेख (20) नामक एक तस्कर की मौत हो गयी. इस बीच मवेशियों को लेकर तस्कर इलाके से भाग निकले.
बीएसएफ के हाथ चार मवेशी लगे हैं. बीएसएफ ने आरोपी तस्कर का शव वैष्णवनगर थाना पुलिस को सौंप दिया. पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मालदा मेडिकल कॉलेज भेजा है.
मृतक के एक रिश्तेदार अब्दुल आलिम ने बताया कि नईम शेख दौलतपुर गांव में एक मोदीखाना में काम करता था. लेकिन कुछ दिनों पहले वह इलाके के कुछ बदमाशों के चंगुल में फंसकर मवेशी तस्करी के काम में लग गया. नईम के सिर के पीछे बीएसएफ की गोली लगने से मौत हुई है.
घटना के संबंध में बीएसएफ सूत्रों ने बताया कि गुरुवार को भोर रात में मवेशी तस्कर दौलतपुर इलाके में 13 जगहों पर कंटीली बाड़ काटकर मवेशियों की तस्करी की कोशिश कर रहे थे.
यह मामला जैसे ही बीएसएफ जवानों की नजर में आया, उन्होंने तस्करों को ललकारा, लेकिन बदमाशों ने बीएसएफ पर धारदार हथियार से हमला किया और गोली चलायी. इसमें 180 नंबर बटालियन का एक जवान घायल हुआ, जिसे प्राथमिक चिकित्सा के लिए मेडिकल कॉलेज भेजा गया. पुलिस और तस्करों की मुठभेड़ में एक तस्कर की मौत हो गयी.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें