34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Lok Sabha Election 2024: अमेठी में प्रियंका गांधी ने किया रोड शो, कहा- यहां किशोरी लाल शर्मा ने 40 साल की है सेवा

प्रियंका गांधी ने लोकसभा चुनाव 2024 (Lok Sabha Election 2024) के पांचवे चरण के प्रचार को अंतिम दिन अमेठी में रोड शो किया. यहां उन्होंने किशोरी लाल शर्मा के लिए वोट मांगे.

अमेठी: प्रचंड गर्मी के बीच शनिवार को खुले वाहन पर प्रियंका गांधी ने (Lok Sabha Election 2024) अमेठी में रोड शो किया. उनके साथ कांग्रेस प्रत्याशी किशोरी लाल शर्मा भी थे. जायस कस्बे में सर्कुलर रोड से ये रोड शो शुरू हुआ और बस स्टॉप तक जारी रहा. उन्होंने इस दौरान कहा कि किशोरी लाल शर्मा ने 40 साल अमेठी की सेवा की है. रायबरेली और अमेठी में हमारे लिए कोई अंतर नहीं है.

पांच लाख पार के लगे नारे
प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने कहा कि (Lok Sabha Election 2024) समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के कार्यकर्ता एक सेना बनकर लड़कर रहे हैं. वो इंडिया गठबंधन को यूपी में विजयी बनाएंगे. उन्होंने कहा कि 10 सालों से इस देश का आम आदमी, गरीब, किसान प्रताड़ित है. इस देश के किसानों की पुकार थी कि हमारी आवाज सुनिए. मजदूरों की पुकार थी कि हमें राहत दीजिए. महिलाओं की पुकार थी कि हमारे साथ अत्याचार हो रहा है, हमें सुरक्षा दीजिए. जन-जन की पुकार थी कि हमारी सुनवाई हो लेकिन नरेंद्र मोदी की सरकार में आपकी कोई सुनवाई नहीं हुई. आज इस देश में आंधी उठी है. इस देश की पुकार है कि भाजपा की तानाशाह सरकार को हटाया जाए और देश में एक नई चेतना से नई राजनीति स्थापित हो. यहां से देश को संदेश दीजिए आप एक नई तरह की स्वच्छ राजनीति चाहते हैं और मोदी जी की सरकार को उखाड़कर फेंक दीजिए. इसी के साथ उन्होंने जनता से पांच लाख पार है के नारे भी लगवाए.

हम बीजेपी की रणनीति पर नहीं चलेंगे
प्रियंका गांधी ने एक चैनल से बातचीत में कहा कि राहुल और मैं पूरे देश में प्रचार कर रहे है. हम दोनों ही चुनाव लड़ते तो पूरे देश में प्रचार नहीं कर पाते. राहुल अमेठी से भाग गए हैं इस सवाल के जवाब में प्रियंका ने कहा कि मोदी वडोदरा से क्यों नहीं लड़ रहे हैं. हम भाजपा की रणनीति पर नहीं चलेंगे. भाजपा चाहती है हम दोनों एक ही जगह बैठ जाएं पूरे देश में प्रचार न करें.

अमेठी रायबरेली से हमारा जज्बाती रिश्ता
प्रियंका गांधी ने कहा कि अमेठी रायबरेली से हमारा रिश्ता अलग है, ये गहरा जज्बाती रिश्ता है. यहां की जनता भी जानती है कि राजीव गांधी, सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने क्या किया है. रेल कोच फ़ैक्ट्री, अस्पताल, हाईवे दिया. विकास कभी रुकता नहीं है. आज आप दो काम करेंगे, कल आप को चार काम करने पड़ेंगे. अमेठी में राहुल गांधी हारे. लेकिन हमारा मक़सद सिर्फ़ चुनाव नहीं है. हमारा मक़सद सिर्फ सेवा करना है. लेकिन स्मृति ईरानी वहां सिर्फ़ चुनाव लड़ने जीतने आई हैं.

हमारे खिलाफ दुष्प्रचार किया
उन्होंने कहा कि हमारे ख़िलाफ़ दुष्प्रचार किया गया कि हम ज़मीन हड़पने आये हैं. लेकिन लोग समझ गये हैं सच जान गये हैं. रॉबर्ट वाडरा के चुनाव लड़ने के सवाल पर प्रियंका गांधी ने कहा कि हम डट के लड़ रहे हैं. अमेठी में हम चुनाव लड़ रहे हैं रायबरेली में भी चुनाव लड़ रहे हैं. किशोरी लाल शर्मा अमेठी से प्रत्याशी है वो स्मृति ईरानी को हराएंगे.

19 साल की उम्र में पिता के टुकड़े लेकर आई…
प्रियंका के जनता से इमोशनल अपील करने के सवाल पर कहा कि मैं 19 साल की उम्र में अपने पिता के टुकड़े लेकर आई थी. मैं गर्व से कहती हूं और कहूंगी कि मेरे पिता-दादी ने शहादत दी है. उन्होंने 33 गोलियां खाई थी. मुझसे इल्ज़ाम लगा रहे है कि मैं इमोशनल पिच करती हूं. मोदी जी छोटी-छोटी बातों पर रोते हैं, ये इमोशनल पिच नहीं है. उन्होंने कहा कि रायबरेली और अमेठी की जनता ने हमेशा हमारी मुश्किल में मदद की है.

मंगलसूत्र नहीं काम के बल पर मांगिए वोट
प्रियंका गांधी ने कहा कि काम के बल पर वोट मांगिये. मंगल सूत्र पर वोट क्यों मांग रहे हैं. दस साल में क्या किया, बेरोज़गारी के लिए क्या किया, एक बार जनता को बताएं मोदी जी. महंगाई पर क्यों कुछ नहीं कहते हैं. लोगों को घबराहट होती है जब समान ख़रीदने जाते हैं. पैसे कम पड़ जाते हैं. इसका जवाब दें मोदी जी मंच पर आकर. प्रियंका ने कहा उज्जवला किसकी स्कीम थी. राशन देना कांग्रेस की स्कीम थी. भाजपा को लगता है ये एहसान कर रहे हैं ये काम है उनका.

जनता समझ गई उनके जीवन में कुछ नहीं बदला
उन्होंने कि मोदी जी फिजूल की बातें करते हैं. जनता को बताइये जो वो जानना चाहते हैं. आप ने बैंक के लोन माफ़ करा दिये पैसे वाले लोगों के. जनता समझ गई है कि हमारे जीवन में कुछ नहीं बदला. इसीलिए कांग्रेस पार्टी अपनी गारंटी देती है. प्रियंका ने एंटी हिंदू के मामले में सवाल पूछने पर कहा कि हमारी पार्टी के सबसे बड़े नेता महात्मा गांधी थे. उनका पूरा आंदोलन सत्य अहिंसा पर चला. जो हिंदू धर्म की सीख है. महात्मा गांधी की को जब गोली लगी उनके मुख से क्या निकला हे राम!

धर्म राजनीतिक मामला नहीं
राम मंदिर के सवाल पर प्रियंका ने कहा कि धर्म राजनैतिक मामला नहीं हैं हम लोगों की भावनाओं का आदर करते हैं. भाजपा ने आमंत्रण नहीं भेजा, लेकिन हम देश की भावनाओं का आदर करते हैं हम जनता के प्रतिनिधि हैं. महिला हूं लड़ सकती हूं की मुहिम के सवाल पर कहा कि ये मुहिम अच्छी थी. यूपी में चली नहीं लेकिन उसका एक अलग नतीजा आया कि पूरे देश में चेतना आई कि महिलायें एक महत्वपूर्ण शक्ति हैं. राजनैतिक दलों में जागरूकता आई है. महिलाओं को लेकर ये अच्छा है. हम चाहते थे कि देश में महिलाओं को लेकर चेतना आए.

यूपी में अंडर करंट
प्रियंका गांधी ने परिवार की पार्टी के सवाल पर कहा कि हमारी पार्टी 32 सालों तक सरकार नहीं रही. यूपी में काम करने का नतीजा इस चुनाव में दिखेगा. हमें मालूम था कि उस चुनाव में नतीजा नहीं आएगा. आज यूपी में अंडर करंट है. उसकी वजह है कि हम गांव में हर जगह लड़े हैं. प्रियंका ने कहा नया भारत चाहता है हमें नया प्रत्याशी चाहिए, परिवार का नहीं चाहिए. भाजपा के गिनिये कितने परिवार इनकी पार्टी में हैं. हमारी पार्टी इनकी तरह नहीं है जहां सिर्फ़ मोदी जी और अमित शाह निर्णय लेते हैं. हमारी पार्टी लोकतांत्रिक पार्टी है. हमारे यहां परिवार निर्णय नहीं लेता भाजपा में तो मंत्री रोते हैं अकेले में.

हम विपक्ष में, सवाल उठाना हमारा काम
प्रियंका गांधी ने कामदार वर्सेज़ नामदार के सवाल पर कहा कि सबसे बड़े नामदार मोदी जी खुद हैं. हम विपक्ष में हैं सवाल उठाना हमारा काम है. हम विपक्ष के नेता हैं. हम सवाल उठाएंगे. पीएम के पद की गरिमा होती है. महान नेताओं ने पद संभाला है, लेकिन किसी ने इस तरह की भाषा नहीं इस्तेमाल की. आप जनता को बेवक़ूफ़ समझ रहे है. चाय वाला पीएम बने कांग्रेस को ये हज़म नहीं है, इसपर प्रियंका गांधी ने कहा कि हमने कभी ऐसा नहीं कहा, ये लोकतंत्र हमने ऐसा बनाया कि मोदी जी आज ग़रीब परिवार से आकर पीएम बने.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें