1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. youth in gorakhpur jammed against agnipath scheme gorakhpur sahjanwan road nrj

गोरखपुर में युवाओं ने Agnipath Scheme के विरोध में किया जाम, बोले- धोखा है हमारे साथ

गोरखपुर-सहजनवां रोड को जाम कर दिया. छात्रों का कहना है कि वह कई बरसों से सेना की भर्ती की तैयारी कर रहे हैं. 3 साल से सेना में कोई भर्ती नहीं हो रही है. अब सिर्फ 4 साल की नौकरी वाली योजना पेश कर दी गई है. यह छात्रों के साथ और नौजवानों के साथ धोखा है.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Gorakhpur
Updated Date
'अग्नि‍पथ स्‍कीम' के विरोध में गोरखपुर-सहजनवां रोड को जाम कर दिया.
'अग्नि‍पथ स्‍कीम' के विरोध में गोरखपुर-सहजनवां रोड को जाम कर दिया.
प्रभात खबर

Gorakhpur News: भारतीय सेना में भर्ती की 'अग्नि‍पथ स्‍कीम' का विरोध कई राज्यों के साथ-साथ उत्तर प्रदेश में भी हो रहा है. गुरुवार को गोरखपुर में इसका असर देखने को मिला है. योजना से नाराज युवाओं ने गुरुवार को गोरखपुर सहजनवा रोड पर जाम लगा दिया. उन्होंने 4 साल की नियुक्ति पर सवाल उठाते हुए इस व्यवस्था को बदलने की मांग की है. यह युवा खजनी थानाक्षेत्र से पैदल विरोध करते सजनवा रोड पर पहुंचे थे.

डेढ़ घंटे तक रही अफरा-तफरी

इसके बाद उन्‍होंने गोरखपुर-सहजनवां रोड को जाम कर दिया. छात्रों का कहना है कि वह कई बरसों से सेना की भर्ती की तैयारी कर रहे हैं. 3 साल से सेना में कोई भर्ती नहीं हो रही है. अब सिर्फ 4 साल की नौकरी वाली योजना पेश कर दी गई है. यह छात्रों के साथ और नौजवानों के साथ धोखा है. इस बीच डेढ़ घंटे तक गोरखपुर-सहजनवा और सहजनवा-खजनी रोड को जाम कर दिया. सूचना पर स्थानीय पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे. काफी देर बाद वे सबको शांत करा सके. अग्नि‍पथ योजना का विरोध गोरखपुर के साथ ही पास के जिलों में भी देखने को मिला.

क्या है अग्नि‍पथ स्‍कीम?

अग्नीपथ योजना के तहत युवाओं को 4 साल की अवधि के लिए सेना में शामिल होने का मौका दिया जाएगा. साढ़े 17 साल से 21 साल के युवा इस भर्ती में शामिल हो सकेंगे. इसके लिए दसवीं से बारहवीं तक के छात्र आवेदन कर सकेंगे. इसकी शुरुआत 90 दिन के भीतर हो जाएगी. इस साल 46 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी. भर्ती के बाद युवाओं को 6 महीने की ट्रेनिंग दी जाएगी. ट्रेनिंग का समय भी इस चार साल में शामिल रहेगा. सेना में भर्ती होने के बाद सेवा के दौरान शहीद होने या दिव्यांग होने पर आर्थिक मदद का प्रावधान भी है. अगर कोई अग्निवीर देशसेवा के दौरान शहीद हो जाता है तो उसे सेवानिधि समेत एक करोड़ से ज्यादा की राशि ब्याज समेत दी जाएगी. इसके अलावा बची हुई नौकरी के समय तक वेतन भी दिया जाएगा .अगर कोई जवान भर्ती के दौरान दिव्यांग हो जाता है तो उसे 44 लाख रुपए की राशि दी जाएगी और बची हुई नौकरी का वेतन भी दिया जाएगा. 4 साल की नौकरी के बाद युवाओं को सेवानिधि पैकेज दिया जाएगा जो 11.71 लाख रुपए होगा.

रिपोर्ट : कुमार प्रदीप

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें