1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. yogi sarkar in action on black marketing of remdesivir and fabiflu special team will raid selectively vwt

रेमडेसिविर और फैबीफ्लू की कालाबाजारी पर एक्शन में योगी सरकार, गैंगस्टर एक्ट और रासुका के तहत अंदर किए जाएंगे धंधेबाज

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.
फोटो : ट्विटर.

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होने वाली रेमडेसिविर और फैबीफ्लू की कालाबाजारी रोकने के लिए सूबे की योगी सरकार पूरे एक्शन में आ गई है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना मरीजों को दी जाने वाले रेमडेसिविर और फैबीफ्ले जैसी लाइफ सेविंग मेडिसीन की कालाबाजारी रोकने के लिए स्पेशल टीम गठित करने का निर्देश दिया है. बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-11 की बैठक में रेमडेसिविर इंजेक्शन और फैबीफ्लू जैसी लाइफ सेविंग मेडिसीन की सप्लाई को लेकर रिव्यू किया है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गृह विभाग को लाइफ सेविंग मेडिसीन की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट और रासुका के तहत सख्त कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं. इसके साथ ही, उन्होंने पुलिस महानिदेशक को इस संबंध में एक स्पेशल टीम गठित कर सूबे में छापेमारी करने के भी निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा कि लाइफ सेविंग मेडिसीन की निर्बाध सप्लाई के लिए इनकी लगातार निगरानी की जाए. रेमेडेसिविर बनाने वाली कंपनियों से लगातार संपर्क में रहें. इसके अलावा, सभी ऑक्सीजन रीफिल सेंटर्स पर जिम्मेदार अधिकारियों की तैनाती की जाए. यह सुनिश्चित करें कि ऑक्सीजन का डिस्ट्रीब्यूशन पारदर्शी ढंग से हो. ऑक्सीजन टैंकर को जीपीएस से जोड़ा जाए और प्लांट्स पर पर्याप्त पुलिस के जवान तैनात किए जाएं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बेहद सुखद है कि पिछले 24 घंटे में सूबे में 14 हजार से भी अधिक मरीज कोरोना संक्रमण से ठीक होकर अस्पतालों से डिस्चार्ज किए गए हैं. राज्य के लोग धैर्य और संयम बनाए रखें. उन्होंने कहा कि राज्य में उच्चस्तरीय चिकित्सा सुविधाएं हों अथवा लाइफ सेविंग मेडिसीन की उपलब्धता और किसी भी चीज की कमी नहीं है. कोरोना के लक्षण होने पर टेस्ट कराएं, डॉक्टरों के निर्देशों का पालन करें.

योगी ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में उत्तर प्रदेश में पूर्ण लॉकडाउन लगाने का कोई विचार नहीं है. हमें लोगों के जीवन और जीविका दोनों की ही चिंता है. परिस्थितियों का मूल्यांकन करते हुए सरकार सभी जरूरी कदम उठा रही है. मुख्यमंत्री योगी ने निर्देश दिए कि अस्पतालों में खाली बिस्तरों के बारे में हर दिन जानकारी सार्वजनिक की जाए. इससे मरीजों के परिजनों को काफी सहूलियत होगी. इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर की भूमिका इस कार्य मे अत्यंत उपयोगी है. इसे प्रभावी ढंग से लागू किया जाए.

Posted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें