1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. up panchayat election result 2021 bjp samajwadi party bsp up vidhansabha chunav prt

UP Panchayat Chunav Result 2021: सपा का लहराया परचम, अपने ही गढ़ में पिछड़ी बीजेपी, कहीं ये आगामी विधानसभा चुनाव के लिए खतरे की घंटी तो नहीं, पढ़िए पूरी रिपोर्ट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
UP Panchayat Chunav Result
UP Panchayat Chunav Result
फाइल फोटो
  • यूपी जिला पंचायत सदस्य चुनाव

  • सपा ने मारी बाजी

  • अपने गढ़ में ही हारी बीजेपी

UP Panchayat Chunav Result 2021: यूपी पंचायत चुनाव के नतीजे जैसे जैसे आते गये बीजेपी की निराशा बढ़ती गयी. इस बार पंचायत चुनाव समाजवादी पार्टी के नाम रहा. पार्टी ने पूरे प्रदेश में बेहतर प्रदर्शन किया है. बीजेपी चुनाव में सपा से बुरी तरह पिट गई है. यहां तक ही राम और कृष्ण की नगरी अयोध्या और मथुरा में जो कि बीजेपी का गढ़ माना जाता है, वहां भी बीजेपी बुरी तरह पिट गई. कई जगहों पर तो पार्टी का सूपड़ा ही साफ हो गया. ऐसे में अगले साल यूपी में विधानसभा चुनाव होने वाले है, कहीं ये नतीजे बीजेपी के लिए खतरे की घंटी तो नहीं.

अपने ही गढ़ में पटखनी खा गयी बीजेपीः यूपी पंचायत चुनाव (UP Panchayat Election 2021) में बीजेपी को अयोध्‍या, मथुरा, वाराणसी समेत कई और जगहों पर करारा झटका लगा है. अयोध्‍या और मथुरा जैसी जगहों पर एक तरह से बीजेपी का सूपड़ा साफ हो गया है. इन नतीजों से साफ है कि पार्टी के लिए आगे की राहें आसान नहीं है. पंचायत चुनाव में बीजेपी को समाजवादी पार्टी से कड़ी टक्कर मिली है. अयोध्‍या की 40 सीटों में बीजेपी के खाते में सिर्फ 6 सीटें ही आईं हैं. जो पार्टी के लिए चिंता की बात है. जबकि, सपा ने यहां 24 सीटों पर जीत हासिल की है.

मथुरा की बात करें तो यहां भी बीजेपी को निराशा ही हाथ लगी है. मथुरा में मायावती की बहुजन समाज पार्टी पार्टी (BSP) ने बाजी मारी है. बीएसपी के 12 उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है. तो वहीं, भाजपा को सिर्फ 8 सीटों से ही संतोष करना पड़ा है. जाहिर है अगले साल यूपी में विधानसभा चुनाव होने हैं, और जिस तरह से पंचायत चुनाव के नतीजे आयें है वो प्रदेश की योगी सरकार औऱ बीजेपी के लिए खतरे की घंटी से कम नहीं हैं.

मीडिया की खबरों में जो आंकड़े आ रहे है उसके अनुसार, यूपी पंचायत चुनाव में समाजवादी पार्टी को 747 सीटों पर जीत मिली है. वहीं, बीजेपी को 690 सीटें मिली हैं. जबकि, बसपा को 381 सीटों पर ही संतोष करना पड़ा है. गौरतलब है कि चुनावी अभियान में बीजेपी ने पूरी ताकत झोंक दी थी. बीजेपी के कई बड़े नेताओं ने भी प्रचार अभियान में बढ़ चढ़ हिस्सा लिया था. इसके बाद भी बीजेपी को चुनाव में मनमुताबित सफलता नहीं मिली. यहां तक की अपने गढ़ में ही उसे हार का मुंह देखना पड़ा. ऐसे में अब अगले साल होनेवाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी की नजर है. लेकिन विधानसभा चुनाव में बीजेपी को जनता कितना तवज्जों देती है ये देखने वाली बात होगी.

Posted By Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें