1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. u turn of akhilesh yadav now said will get the corona vaccine of the government of india and will also appeal to the people to get it aml

अखिलेश यादव का यू-टर्न, अब कहा- भारत सरकार का टीका लगवायेंगे और लोगों से भी अपील करेंगे

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
अखिलेश यादव
अखिलेश यादव
पीटीआई

लखनऊ : समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) के कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) लेने के बाद भाजपा ने अखिलेश यादव पर हमला शुरू कर दिया है. भाजपा ने टीका लगवाने के लिए जहां मुलायम सिंह को धन्यवाद कहा, वहीं अखिलेश (Akhilesh Yadav) पर जमकर निशाना साधा है. भाजपा का कहना है अब अखिलेश यादव क्या करेंगे. उन्होंने ही तो कोरोना वैक्सीन को मोदी का टीका कहा था. इसके बाद अखिलेश ने जवाब दिया है कि वे भी कोरोना का टीका लगवायेंगे.

अखिलेश ने ट्वीट किया कि हम भाजपा के वैक्सीन के खिलाफ थे, लेकिन भारत सरकार के टीके का हम स्वागत करते हैं. हम टीका भी लगवायेंगे और टीके की कमी की वजह से जो लोग वैक्सीन नहीं लगवा पा रहे हैं उनसे भी लगवाने की अपील करेंगे. उन्होंने पीएम मोदी के मुफ्त वैक्सीन देने की घोषणा पर कहा कि जनाक्रोश को देखते हुए आखिरकार सरकार ने कोरोना के टीके के राजनीतिकरण की जगह ये घोषणा कर दी कि वो टीके लगवायेगी.

बता दें कि मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को एक निजी अस्पताल में कोरोना वैक्सीन लगवाया. पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया कि आज पार्टी के संस्थापक और पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए टीका लगवाया. मुलायम के टीका लगवाने के साथ ही भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने समाजवादी पार्टी का ट्वीट टैग करते हुए अपने ट्वीट में कहा कि एक अच्छा संदेश, आशा करता हूं कि सपा के कार्यकर्ता और उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष भी अपनी पार्टी के संस्थापक से प्रेरणा लेंगे.

इसके बाद यह सिलसिला यहीं नहीं थमा. यूपी में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट कर कहा कि अखिलेश यादव को माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाने का काम किया है. मौर्य ने कहा कि समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह द्वारा स्वदेशी टीका लगवाना इस बात का प्रमाण है कि अखिलेश यादव ने अफवाह फैलायी थी और उन्हें सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए.

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने इस साल जनवरी में जब कोरोना टीकाकरण की घोषणा की थी तब अखिलेश यादव ने वैक्सीन का विरोध किया था. उन्होंने कहा था कि वह भाजपा का टीका नहीं लगवायेंगे. उन्होंने कहा था कि उन्हें देश के वैज्ञानिकों पर पूरा भरोसा है, लेकिन भाजपा पर नहीं. उन्होंने केंद्र सरकार से मुफ्त वैक्सीन का मांग की थी और कहा था कि जब हमारी सरकार सत्ता में आयेगी तब सभी को फ्री में वैक्सीन लगवायेगी.

Posted By: Amlesh nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें