1. home Home
  2. state
  3. up
  4. sp president akhilesh yadav furious over the arrest of former ips amitabh thakur said we dont want bjp slt

Amitabh Thakur News: पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर की गिरफ्तारी पर भड़के अखिलेश यादव, कहा नहीं चाहिए भाजपा

पूर्व आइपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर की गिरफ्तारी को लेकर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट कर इसे भाजपा सरकार की पुलिस का अभूतपूर्व कार्य बताया है. उन्होंने कहा कि ऐसी भाजपा सरकार नहीं चाहिए.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पूर्व आइपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर गिरफ्तार
पूर्व आइपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर गिरफ्तार
social media

Amitabh Thakur Arrested: उत्तर प्रदेश के जबरिया रिटायर आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को लखनऊ की हजरतगंज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उनके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के बाहर आत्मदाह करने वाली महिला को आत्महत्या के लिए उकसाने और आपराधिक साजिश रचने समेत कई अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया गया था.

पूर्व आइपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर की गिरफ्तारी के बाद से ही सियासी गलियारों में उठापटक शुरू हो गई. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मामले में भाजपा पर तीखा हमला बोला है. उन्होंने ट्वीट कर इसे भाजपा सरकार की पुलिस का अभूतपूर्व कार्य बताया है.

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, ''भूतपूर्व पुलिस के विरुद्ध भाजपा सरकार की पुलिस का अभूतपूर्व कार्य! भाजपाई राजनीति लोगों के बीच दरार पैदा करके ही जिंदा है. अब भाजपा सरकार के दबाव के कारण पुलिस ही पुलिस के ख़िलाफ़ काम करने पर मजबूर है. एक सेनानिवृत आईपीएस के साथ ऐसा व्यवहार अक्षम्य है.''

अमिताभ ठाकुर को 9 सितंबर तक जेल

हजरतगंज कोतवाली पुलिस ने पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर को गिरफ्तार करने के बाद शुक्रवार शाम को प्रभारी सीजेएम सत्यबीर सिंह की कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें 9 सितंबर तक के लिए न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया दिया गया.

गिरफ्तारी के बाद अमिताभ ठाकुर को मेडिकल के लिए सिविल अस्पताल ले जाया गया. यहां उन्होंने मीडिया से कहा कि सीएम योगी मेरी हत्या करा सकते हैं. मुझे जानबूझकर प्रताड़ित किया जा रहा है. जिस केस से मेरा कोई मतलब नहीं, उसमें मुझे फंसाया जा रहा है.

दोनों ने अमिताभ ठाकुर का नाम लिया था

सोशल मीडिया पर लाइव वीडियो बनाते समय दोनों ने कहा था कि अतुल राय के इशारे पर वाराणसी के पूर्व SSP अमित पाठक, पूर्व IPS अमिताभ ठाकुर, निलंबित डिप्टी SP अमरेश सिंह बघेल, दरोगा संजय राय और उसके बेटे समेत कुछ जज उनके पीछे पड़े हुए हैं. पीड़िता और उसके दोस्त ने आरोप लगाया था कि कोर्ट के ट्रायल के दौरान अमिताभ ने सोशल मीडिया पर पोस्ट करके मामले को हल्का करने का प्रयास किया और लोगों को मिसगाइड किया.

यूपी पुलिस मुख्यालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि सुप्रीम कोर्ट के बाहर आत्मदाह का प्रयास करने वाली पीड़िता और उसके साथी के मौत से पहले दिए गए बयान पर पूरे मामले की जांच की गई. जिसमे संयुक्त जांच समिति ने प्रथम दृष्टया बसपा सांसद अतुल राय और रिटायर्ड आईपीएस अमिताभ ठाकुर को पीड़िता को आत्महत्या के लिए उकसाने और आपराधिक साजिश रचने का दोषी पाया था.

Posted By Ashish Lata

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें