1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. prayagraj crime news 11 people sent to jail in nawabganj murder case sht

नवाबगंज हत्याकांड में अब तक 11 लोगों को भेजा गया जेल, एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत से दहल गया था इलाका

नवाबगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत खगलपुर गांव में 5 लोगों की हत्या के मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सात और लोगों को जेल भेज दिया हैं. पुलिस ने जिन 7 लोगों को जेल भेजा है, इनका जिक्र राहुल तिवारी ने अपने सुसाइड नोट में किया था.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Prayagraj
Updated Date
Nawabganj Murder Case
Nawabganj Murder Case
File Photo

Prayagraj News: नवाबगंज थाना क्षेत्र अंतर्गत खगलपुर गांव में 4 लोगों की हत्या के मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सात और लोगों को जेल भेज दिया हैं. पुलिस ने जिन 7 लोगों को जेल भेजा है, इनका राहुल तिवारी ने अपने सुसाइड नोट में जिक्र किया था. राहुल के सुसाइड नोट के मुताबिक, उसके ससुराल वाले उसे जमीन विवाद में लगातार प्रताड़ित कर रहे थे.

अब तक 11 लोगों को भेजा जा चुका है जेल

पुलिस ने मामले में सोमवार को कार्रवाई करते हुए मृतक राहुल तिवारी के ससुराल के रहने वाले सुनील त्रिपाठी, अवधकिशोर दूबे, नमोनारायण दुबे, संतोष त्रिपाठी, शिवम, ज्योति देवी (मृतक राहुल के साले की पत्नी), मंजू देवी (मृतक राहुल के साले की पत्नी) को सुसाइड नोट के आधार पर जेल भेज दिया. इससे पहले रविवार को पुलिस ने मृतक राहुल तिवारी के बड़े भाई मुन्ना तिवारी की तहरीर पर राहुल के साले पिंटू, चंद्रशेखर और साले के दोस्त मैनेजर और आशु के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज करते हुए जेल भेज था.

गिरफ्तारी के लिए बनाई गई सात टीमें

एसएसपी प्रयागराज अजय कुमार ने घटना के खुलासे के लिए STF, क्राइम ब्रांच समेत सात टीम गठित की थी. सभी टीमों ने ताबड़तोड़ छापेमारी करते हुए मृतक राहुल तिवारी के दोनों सालों और उसके दो दोस्तों को 10 घंटे के भीतर उठा लिया था. घटना के संबंध में राहुल के बड़े भाई मुन्ना तिवारी ने जमीनी विवाद में हत्या की आशंका व्यक्त करते हुए उसके साले पिंटू, चंद्रशेखर व साले के दोस्त मैनेजर और आशु के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया था.

राहुल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आत्महत्या की पुष्टि

पुलिस के मुताबिक, राहुल तिवारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आत्महत्या की पुष्टि हुई है. जबकि राहुल की पत्नी प्रीति और तीन बच्चों की मौत गला रेतने से हुई थी. वहीं पुलिस को राहुल के शव के पास से दो पन्नों का सुसाइड नोट भी बरामद हुआ था. जिसमें करीब ग्यारह लोगों के नाम जिक्र है. पुलिस सुसाइड नोट का हैंडराइटिंग एक्सपर्ट से जांच करा रही है. पुलिस का कहना है कि जांच अभी जारी है.

एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत से दहल गया था इलाका

गौरतलब है कि नवाबगंज के खगलपुर में शनिवार सुबह एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत से पूरा इलाका दहल उठा था. एयरफोर्स कर्मी सुरेश शुक्ला के मकान में किराए पर रह रहे राहुल तिवारी का शव घर के आंगन में साड़ी के फंदे पर लटकता हुआ मिला था. जबकि पत्नी का खून से लथपथ शव कमरे के अंदर चारपाई पर और बच्चों का तखत पर पड़ा हुआ था.

दोषियों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश

पत्नी और बच्चों की हत्या धारदार हथियार से की गई थी. पुलिस को जांच के दौरान घर के बाहर एक धारदार हथियार बरामद हुआ था. जबकि राहुल के परिजनों ने ससुराल वालों पर संपत्ति के विवाद में हत्या का आरोप लगाया है. वहीं घटना के संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक व्यक्त करते हुए घटना के संबंध में कड़ी कारवाई के निर्देश दिए थे.

रिपोर्ट- एसके इलाहाबादी

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें