1. home Home
  2. state
  3. up
  4. mahant narendra giri death case cbi team reached prayagraj to investigate the death of mahant narendra giri acy

Mahant Narendra Giri Death Case: महंत नरेंद्र गिरि की मौत मामले की जांच करने प्रयागराज पहुंची सीबीआई टीम

महंत नरेंद्र गिरि की मौत की जांच करने के लिए सीबीआई टीम प्रयागराज पहुंच गई है. वहीं, सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिससे कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Mahant Narendra Giri Death Case : CBI team reached Prayagraj
Mahant Narendra Giri Death Case : CBI team reached Prayagraj
File photo

Mahant Narendra Giri Death Case: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत महेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत के मामले की जांच केंद्रीय जांच एजेंसी यानी सीबीआई को सौंप दी गई है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की थी, जिसे स्वीकार कर लिया गया है. वहीं, सीबीआई की टीम प्रयागराज पहुंच चुकी है.

सीबीआई के लिए मामले की जांच करना आसान नहीं रहने वाला है. कई ऐसे सवाल हैं, जिनका जवाब सीबीआई को ढूंढ़ना है. महंत नरेंद्र गिरि की मौत के बाद जो वीडियो वायरल हुआ है, उसने कई सवालों को जन्म दिया है. सोशल मीडिया पर वायरल यह वीडियो मौत के तुरंत बाद का बना हुआ दिखाई दे रहा है. वीडियो में कमरे के अंदर पंखा चल रहा है और महंत नरेंद्र गिरि का शव जमीन पर पड़ा है. एक शीशे की टेबल पर नायलोन की पीली रस्सी भी पड़ी हुई है.

सोशल मीडिया पर इस नए वीडियो के सामने आने के बाद सवाल यह खड़ा किया जा रहा है कि महंत नरेंद्र गिरि का शव अगर पंखे से लटका हुआ था, तो फिर कमरे का पंखा चल कैसे रहा था? नए वीडियो में आईजी केपी सिंह संदिग्ध मौत के संबंध में प्रयागराज के बाघंबरी मठ में रहने वाले लोगों से पूछताछ करते हुए दिखाई दे रहे हैं. करीब पौने दो मिनट का यह वीडियो उस कमरे का है, जिसमें महंत नरेंद्र गिरि का शव तथाकथित तौर पर पंखे से लटका हुआ मिला था.

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो की शुरुआत होते ही महंत नरेंद्र गिरि का शव फर्श पर पड़ा हुआ दिखाई दे रहा है और ठीक उसके बगल में महंत के तथाकथित सुसाइड नोट में उनके उत्तराधिकारी बताए जा रहे बलबीर गिरि खड़े दिखाई दे रहे हैं. वीडियो के अगले फ्रेम में एक फोटोग्राफर और एक दारोगा नजर आते हैं. इसके बाद कमरे में पड़े बिस्तर और वहां सजाई गईं तस्वीरों और सर्टिफिकेट दिखता है.

इसके बाद वीडियो में कमरे के अंदर लगा पंखा दिखाई देता है, तो घूमता हुआ नजर आ रहा है. पंखे की रॉड जिस चुल्ले में फंसी होती है, इसी चुल्ले में पीले रंग की नॉयलॉन की उस रस्सी का एक हिस्सा भी फंसा नजर आता है, जिससे बनाए गए फंदे पर महंत का शव के साथ पड़ा हुआ दिखाई दे रहा है. वीडियो में फर्श पर मृत पड़े महंत के गले में रस्सी का एक टुकड़ा भी फंसा दिखाई देता है.

इसके अलावा, मौत के दौरान महंत नरेंद्र गिरि का मोबाइल फोन बंद था. सवाल उठ रहा है कि ऐसा क्यों हुआ? साथ ही यह भी पूछा जा रहा है कि जिस कमरे में शव मिला, उसका दरवाजा सबसे पहले किसने खोला? उसने पुलिस को क्यों सूचना नहीं दिया?  महंत के साथ जो पुलिसकर्मी सुरक्षा में तैनात थे, वे उस वक्त कहां थे जब कमरे का दरवाजा तोड़ा गया था. फिलहाल, सीबीआई के लिए इन सवालों का जवाब तलाशना आसान नहीं होगा.

Posted By : Achyut Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें