1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. know everything about prime minister wi fi access network interface pm vani scheme nrj

UP में अब कोटे की दुकानों पर आपको मिलेगा वाई-फाई का फ्री कनेक्शन, लखनऊ समेत 10 जिलों से होगी शुरुआत

शुरुआत में पायलट प्रोजेक्ट के तहत इस योजना को प्रदेश के 10 जिलों गोरखपुर, मेरठ, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, आगरा, लखनऊ, वाराणसी, कानपुर नगर एवं अयोध्या में लागू किया जाएगा. 4 से 9 मई तक जिला पूर्ति कार्यालय दूरसंचार विभाग के सहयोग से कोटेदारों की कार्यशाला आयोजित कर योजना की जानकारी देगा.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Lucknow
Updated Date
सांकेतिक तस्‍वीर
सांकेतिक तस्‍वीर
File Photo

Lucknow News: कोटे की दुकानों पर अब आपको वाई-फाई का फ्री कनेक्शन मिलेगा. दूरसंचार विभाग की प्राइम मिनिस्टर्स वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस (पीएम-वाणी) स्कीम के तहत यह सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है. इस स्कीम से राशन वितरक यानी कोटेदार और जनता दोनों को लाभ होगा. इस हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्शन से राशन वितरण में आने वाली समस्या से तो छुटकारा मिलेगा ही. साथ ही, इच्छुक लोगों को कनेक्शन देकर कोटेदार हर महीने तीन से आठ हजार रुपए कमा सकेंगे.

यूपी के 10 जिलों में लागू करेंगे योजना

शुरुआत में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर इस योजना को प्रदेश के 10 जिलों गोरखपुर, मेरठ, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, आगरा, लखनऊ, वाराणसी, कानपुर नगर एवं अयोध्या में लागू किया जाएगा. 4 से 9 मई तक जिला पूर्ति कार्यालय दूरसंचार विभाग के सहयोग से कोटेदारों की कार्यशाला आयोजित कर योजना की जानकारी देगा. कोटे की दुकानों की आय एवं ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट कनेक्टिविटी को मजबूत करने के उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की जा रही है.

ऐसे ले सकेंगे योजना का लाभ

पब्लिक वाई-फाई हाटस्पाट डिवाइस के माध्यम से ब्राडबैंड सेवा उपलब्ध कराई जाएगी. कोटेदार को डिवाइस खरीदने के लिए छोटी पूंजी की जरूरत होगी. कोई लाइसेंस शुल्क नहीं देना होगा. कोटे की दुकानें पब्लिक डाटा ऑफिस (पीडीओ) के रूप में काम करेंगी. यह योजना एच्छिक होगी. जिला आपूर्ति अधिकारी एक महीने में कोटेदारों से आवेदन प्राप्त कर डिवाइस आदि लगवाने की प्रक्रिया पूरी करेंगे. पीएम-वाणी योजना के तहत कोटेदारों की दुकानों के आसपास 200 मीटर परिधि में वाई-फाई की सुविधा मिल सकेगी. इससे कोटेदारों की आय भी बढ़ेगी और बेहतर कनेक्टिविटी से खाद्दान्न वितरण में सुविधा होगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें