1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. kanpur
  5. manager stole bmw car from his own showroom in kanpur nrj

Kanpur News : मैनेजर ने अपने ही शोरूम से चुराई बीएमडब्ल्यू कार, ऑनलाइन सट्टा खेलने के शौक ने बनाया चोर

दोनों कारों की कीमत लगभग सवा करोड़ रुपए है. फजलगंज इंस्पेक्टर देवेंद्र दुबे ने बताया कि स्पीड वर्क्स ऑटो प्राइवेट लिमिटेड के शोरूम में हिंदनगर आशियाना लखनऊ के रहने वाले आशू सिंह मैनजर था. 22 मार्च को वह बीएमडब्ल्यू व निसान की टेरेनो कार ग्राहक को दिखाने के बहाने ले गया था लेकिन वापिस नहीं लौटा.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Lucknow
Updated Date
पुलिस के हत्थे चढ़ा चोर.
पुलिस के हत्थे चढ़ा चोर.
Prabhat Khabar

Kanpur News: कानपुर के फजलगंज में कार के शोरूम में काम करने वालों मैनेजर ने ग्राहक को दिखाने के बहाने दो लग्जरी कारें चोरी कर लीं. पुलिस ने शोरूम के जनरल मैनेजर की तहरीर पर एफआईआर दर्ज कर आरोपी को लखनऊ से गिरफ्तार कर लिया. दोनों लग्जरी कारें भी बरामद कर ली गई हैं. पूछताछ करने के बाद आरोपी मैनेजर को पुलिस ने जेल भेज दिया.

निशानदेही पर दोनों कारें बरामद

वहीं दोनों कारों की कीमत लगभग सवा करोड़ रुपए है. फजलगंज इंस्पेक्टर देवेंद्र दुबे ने बताया कि स्पीड वर्क्स ऑटो प्राइवेट लिमिटेड के शोरूम में हिंदनगर आशियाना लखनऊ के रहने वाले आशू सिंह मैनजर था. 22 मार्च को वह बीएमडब्ल्यू व निसान की टेरेनो कार ग्राहक को दिखाने के बहाने ले गया था लेकिन वापिस नहीं लौटा. इसके बाद कंपनी के जनरल मैनेजर आकाश श्रीवास्तव ने एफआईआर दर्ज कराई. इसके बाद पुलिस ने आशू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. उसकी निशानदेही पर दोनों कारें बरामद कर ली गई हैं.

गाड़ी वापस करने पर देता था धमकी

कंपनी के जीएम ने आरोप लगाया है कि आरोपी बीएमडब्ल्यू कार में तकनीकि खराबी और निसान गाड़ी ग्राहक को दिखाने को लेकर गया था. जब वह वापस नहीं लौटा तो फोन करने पर गाली-गलौज कर जानमाल की धमकी देने लगा. इसके बाद जनरल मैनेजर ने धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. फजलगंज पुलिस ने सर्विलांस की मदद से आरोपित को गिरफ्तार किया. वहीं, थाना प्रभारी फजलगंज देवेंद्र कुमार दुबे का कहना है कि कंटनेर यार्ड के पास झाड़ियों से गाड़ियां बरामद की गई हैं.

BMW का 9.25 लाख में किया था सौदा

चौकी प्रभारी मिल एरिया छत्रजीत सिंह ने बताया कि आरोपित ने बीएमडब्ल्यू कार का 6.20 लाख रुपये में और निसान गाड़ी का 3.05 लाख रुपये में सौदा किया था. आरोपित ने रकम अपने खाते में मंगाई थी लेकिन खरीदारों को गाड़ी नहीं दे पाया था. पूछताछ में सामने आया कि आरोपित ऑनलाइन जुआ खेलने का लती था. इसके चलते वह 22 लाख रुपये हार गया था. कर्ज उतारने के लिए रुपयों की जरूरत थी. इस कारण उसने यह कदम उठाया था.

रिपोर्ट : आयुष तिवारी

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें