1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. kanpur encounter live updates 8 policemen including co martyred in kanpur uttar pradesh latest news cm yogi

Kanpur Encounter Updates: पुलिस को मिली थी पिंटू सेंगर हत्याकांड के शूटर के भी छिपने की सूचना

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सीएम योगी ने सख्त कार्रवाई के दिये निर्देश
सीएम योगी ने सख्त कार्रवाई के दिये निर्देश
TWITTER

Kanpur Encounter Live Updates उत्तर प्रदेश के कानपुर में अपराधियों ने एक दिल दहला देने वाली घटना को अंजाम दिया है. कानपुर चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में अपराधियों को पकड़ने पहुंची पुलिस टीम पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं, इसमें 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं. एसओ बिठूर समेत 6 पुलिसकर्मी गम्भीर रूप से घायल हैं. सभी घायल पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की शहादत पर दुख व्यक्त किया है और डीजीपी को मामले में सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया और मामले की रिपोर्ट मंगायी है. फिलहाल घटनास्थल पर ADG ( लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार पहुंच चुके हैं.

email
TwitterFacebookemailemail

पिंटू सेंगर हत्याकांड के शूटर के भी छिपने की मिली थी सूचना

बसपा नेता पिंटू सेंगर की बीते 20 जून को दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. वारदात को अंजाम देकर हत्यारे फरार हो गये थे. सीसीटीवी फुटेज में दो बाइक पर चार संदिग्ध जाते दिखाई दिये थे. मामले में मृतक के परिजनों ने सात नामजद सहित आठ लोगों को पर एफआईआर दर्ज करायी थी. सूत्रों की मानें तो पुलिस को पता चला कि, पिंटू हत्याकांड के शूटर भी हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के घर छिपे हुए हैं. इसकी सूचना पर बिठूर, चौबेपुर और शिवराजपुर थाना क्षेत्र की फोर्स बिल्हौर सीओ देवेंद्र मिश्रा के साथ रात में दबिश डालने गांव पहुंची थी.

email
TwitterFacebookemailemail

नौ माह बाद रिटायर होने वाले थे सीओ देवेंद्र मिश्र

मूल रूप से बांदा के महेबा गांव के रहनेवाले सीओ बिल्हौर देवेंद्र कुमार मिश्र ऑपरेशन के दौरान टीम का नेतृत्व कर रहे थे. लेकिन, बदमाशों की गोली का शिकार हो गये. वे मार्च 2021 में ही रिटायर होनेवाले थे. साल 1980 में उन्हें दारोगा के पद पर तैनाती मिली थी. साल 2007 में प्रोन्नत होकर इंस्पेक्टर बने और 2016 में गाजियाबाद के मोदीनगर में बतौर क्षेत्राधिकारी तैनाती मिली थी. उनका परिवार स्वरूपनगर में पॉमकोट अपार्टमेंट रह रहा है. मौत की खबर परिजनों को रो-रोकर बुरा हाल है.

email
TwitterFacebookemailemail

पुलिसकर्मियों से हुई चूक की जांच की जायेगी : एडीजी

बिकरु गांव में सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्याकांड के पीछे मुखबिरी होने की बात सामने आ रही है. सूत्रों की मानें तो हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पहले से ही मालूम हो गया था कि रात में उसके घर दबिश पड़ने वाली है. कौन-कौन टीम में शामिल रहेगा और फोर्स की संख्या कितनी हो सकती है? इसकी डिटेल्स विकास के पास थी. बदमाशों को यहां तक पता था कि पुलिसवालों के पास कौन-कौन से हथियार होंगे. यही वजह थी कि बदमाश ने घर के सामने जेसीबी खड़ी कर पुलिस का रास्ता रोक दिया था. एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि पुलिसकर्मियों से चूक हुई है. इसकी जांच की जायेगी.

email
TwitterFacebookemailemail

व्यर्थ नहीं जायेगा पुलिसकर्मियों का बलिदान : सीएम

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर में दुर्दांत हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के साथ मुठभेड़ में शहीद सभी आठ पुलिसजन को नमन करने के साथ ही डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी से तत्काल मौके की रिपोर्ट तलब की है. मुख्यमंत्री के निर्देश पर हरकत में आ चुकी पुलिस की एक दर्जन टीमें विकास दुबे को गिरफ्तार करने के लिए ताबड़तोड़ दबिश दे रही हैं. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कानपुर में 'कर्तव्य पथ' पर अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले आठ पुलिसकर्मियों को मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि. शहीद पुलिसर्मियों ने जिस अपरिमित साहस व अद्भुत कर्तव्यनिष्ठा के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन किया, उत्तर प्रदेश कभी भूलेगा नहीं। उनका यह बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा.

email
TwitterFacebookemailemail

CM बोले- विकास दुबे को ढेर करने तक कानपुर में ही रहे बड़े अधिकारी

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कानपुर में डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी के साथ ही शीर्ष पुलिस अधिकारियों को तैनात कर दिया है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने साफ कहा है कि अब यह अधिकारी तभी कानपुर से वापस जायेंगे, जब तक यह टीम विकास दुबे को पकड़ नहीं लेती या फिर मुठभेड़ में धराशायी नहीं कर देती है. उन्होंने पुलिस कर्मियों की हत्या को लेकर सख्त आदेश दिये और कहा कि सभी आला अधिकारियों से कहा है कि जब तक हिस्ट्रीशीटर विकास दूबे खत्म न हो जाये तब तक घटनास्थल पर ही कैंप करें. दरअसल इस घटना से अपराधियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जीरो टालरेंस नीति को खुली चुनौती दी है, जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त तेवर अपनाते हुए बेहद गंभीरता से लिया.

email
TwitterFacebookemailemail

बदमाशों ने सीओ देवेंद्र मिश्रा को घर के अंदर खींच कर मार दी गोली

कानपुर देहात के बिकरु गांव में पुलिस पार्टी पर हमले में अब नई बातें सामने आ रही हैं. मीडिया रिपोर्ट्स और पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, छापे की जानकारी विकास दुबे को पहले लग गयी थी. आसपास के घरों में बदमाश छिप गये थे. पुलिस जैसे विकास के घर के सामने पहुंची, छत से ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू हो गयी. अचानक हुई फायरिंग से पुलिस हैरान रह गयी. एक टीम पीछे हट कर बैकअप देने लगी. दो टीमों ने आगे बढ़ कर फायरिंग का जवाब देना शुरू किया. सूत्रों ने बताया कि टीम का नेतृत्व सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा कर रहे थे. उन्होंने घर के अंदर जाने की कोशिश की, तभी बदमाशों ने उन्हें अंदर खींच लिया और सिर पर गोली मार दी. इसी तरह सिपाहियों को पकड़ लिया और पीट-पीट कर उनकी हत्या कर दी. अचानक हुए हमले में सर्कल ऑफिसर (डीएसपी) और तीन एसआई समेत 8 पुलिसकर्मियों की मौत हो गयी.

email
TwitterFacebookemailemail

विपक्ष ने यूपी के कानून व्यवस्था पर उठाये सवाल

कानपुर के घटना पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गंधी समेत पिपक्ष के तमाम नेतााओं ने अपनी प्रतिक्रिया दी है और योगी सरकार पर निशाना भी साधा है. राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, “यूपी में गुंडाराज का एक और प्रमाण। जब पुलिस सुरक्षित नहीं, तो जनता कैसे होगी? मेरी शोक संवेदनाएँ मारे गए वीर शहीदों के परिवारजनों के साथ हैं और मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.

email
TwitterFacebookemailemail

सीएम योगी ने दी श्रद्धांजलि

कानपुर में पुलिस टीम और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में शहीद 8 पुलिसकर्मियों को सीएम योगी ने श्रद्धांजलि दी है. सीएम योगी ने पुलिसकर्मियों के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त किया. सीएम योगी ने अपने ट्वीट में लिखा कि जनपद कानपुर में 'कर्तव्य पथ' पर अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले 08 पुलिसकर्मियों को भावभीनी श्रद्धांजलि. उनका यह बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा.

email
TwitterFacebookemailemail

पुलिस ने दो अपराधियों को मार गिराया 

उत्तर प्रदेश के कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों के शहीद होने के बाद एक्शन में आयी यूपी पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है. पुलिस ने 2 अपराधियों का एनकाउंटर किया है. न्यूज एजेन्सी ANI को कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल ने बताया कि बीती रात मुठभेड़ के बाद तलाशी अभियान के दौरान दो पुलिस कर्मी घायल हो गए और दो अपराधियों को हमने मार गिराया है. हमने ऐसे हथियार भी बरामद किए हैं जिनका इस्तेमाल रात में पुलिस कर्मियों पर फायरिंग में किया गया था. अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए तलाशी जारी है.

email
TwitterFacebookemailemail

घटना स्थल पर पहुंचे ADG

ADG लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार घटना स्थल पर पहुंच चुके हैं. घटना स्थल पर पहुंचने का बाद उन्होंने कहा कि घटना में7लोग (5पुलिसकर्मी,1होम गार्ड,1सिविलि) घायल हुए है. कुछ पुलिस हथियार गायब हुए हैं।जिसकी जांच चल रही. जो भी लोग इस कार्य में शामिल है हम उन्हें ढूंढकर उसको कानून के सामने पेश करेंगे.

email
TwitterFacebookemailemail

STF की गयी तैनाती 

उत्तर प्रदेश के कानपुर में अपराधियों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हुए हमले के मामले में राज्य के डीजीपी ने कहा है कि फॉरेन्सिक टीम घटनास्थल पर पहुंच गई है. इसके साथ ही बदमाशों की धरपकड़ के लिए ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है. घटनास्थल पर ADG लॉ एंड आर्डर पहुंच चुके हैं. एसएसपी और आईजी भी मौके पर मौजूद हैं. घटना में कानपुर की फॉरेंसिक टीम जांच कर रही है और लखनऊ से भी एक टीम फोरेंसिक टीम को रवाना किया जा रहा है. STF की भी तैनाती कर दिया गया है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें