1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. jal shakti minister swatantra dev said up government provide clean drinking water at home nrj

जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव बोले- हर घर नल योजना से घर-घर स्वच्छ पेयजल पहुंचाने का संकल्प हो रहा पूरा

जल शक्ति मंत्री जल जीवन मिशन के तहत प्रदेश में संचालित हो रही हर घर नल योजना की प्रगति का ब्योरा पेश कर रहे थे. जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत सरकार ने पांच साल में तीन लाख 70 हजार करोड़ रुपये का बजट देने का प्रावधान किया ताकी हर घर नल से जल पहुंच सके.

By Prabhat Khabar Digital Desk, Lucknow
Updated Date
स्वतंत्र देव सिंह
स्वतंत्र देव सिंह
twitter

Lucknow News: जल जीवन मिशन देश के और प्रदेश के विकास को एक नई गति दे रहा है. पिछले तीन वर्षों से कम समय में जिस तरह से घरों में नल से जल पहुंचा है. वह जन आकांक्षाओं और जन भागीदारी की एक बड़ी मिसाल है. यह बात जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने सोमवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय में प्रेस कांफ्रेस के दौरान कही.

3.70 लाख करोड़ रुपए का बजट

जल शक्ति मंत्री जल जीवन मिशन के तहत प्रदेश में संचालित हो रही हर घर नल योजना की प्रगति का ब्योरा पेश कर रहे थे. जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत सरकार ने पांच साल में तीन लाख 70 हजार करोड़ रुपये का बजट देने का प्रावधान किया ताकी हर घर नल से जल पहुंच सके. पानी के लिए किसी को भटकना न पड़े. दुर्गम पहाड़ी समेत ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को पीने का पानी साफ मिले और घर की महिलाओं को पानी की समस्या से पूरी तरह छुटकारा मिल जाए.

66 जिलों में गांव-गांव शुद्ध जल योजना

जल शक्ति मंत्री ने बताया कि प्रथम चरण में बुंदेलखंड और विंध्य के साथ-साथ प्रदेश 66 जिलों में घर-घर शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए युद्ध स्तर पर काम चल रहा है. प्रदेश के 66 जिलों में गांव-गांव तक नल के माध्यम से शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने की योजना पर युद्धस्तर से कार्य चल रहा है. प्रदेश भर में ऑनगोईंग योजनाओं (नई योजनाओं) के तहत कुल 913537 घरों में पानी के कनेक्शन देकर शुद्ध जलापूर्ति शुरु करा दी गई है. प्रदेश में पुरानी योजनाओं की मरम्मत कर नए सिरे से (रेट्रोफिटिंग योजना) 1644139 घरों को पानी के कनेक्शन से जोड़ा जा चुका है. जल शक्ति मंत्री ने कहा कि यूपी के ग्रामीण क्षेत्रों में 13.47 प्रतिशत से ज्यादा शुद्ध जलापूर्ति की जा रही है. इसमें सबसे ज्यादा काम प्राथमिकता के आधार पर बुंदेलखंड और विंध्य के ग्रामीण क्षेत्रों में किया गया है. जहां पेयजल की सबसे अधिक समस्या थी. प्रदेश के आर्सेनिक और जेईई प्रभावित क्षेत्रों में 28008 घरों तक पहुंची पेयजल आपूर्ति, 112032 लोगों को स्वच्छ पेयजल मिला है.

2 योजनाओं से 9050 घरों तक पानी का कनेक्शन

जल शक्ति मंत्री ने फंक्शनल हाउस होल्ड टैप कनेक्शन की जिलेवार प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए कहा कि बुंदेलखंड के झांसी में जल जीवन मिशन की 10 स्कीमों के माध्यम से 1401 घरों में पानी के कनेक्शन पहुंच चुके हैं. ललितपुर में 15 योजनाओं से 8067 घरों में कनेक्शन दिये गये हैं. जालौन में संचालित 5 स्कीमों से 5748 परिवारों तक और हमीरपुर में जल जीवन मिशन की 2 योजनाओं से 9050 घरों तक पानी का कनेक्शन पहुंच चुका हैं . बांदा में संचालित 2 योजनाओं से 12648, चित्रकूट में 2 योजनाओं के माध्यम से 2902, महोबा में 5 योजनाओं के माध्यम से 11435 और मिर्जापुर में 9 योजनाओं के माध्यम से 26588 परिवारों पानी सप्लाई शुरू की जा चुकी है. सोनभद्र में संचालित जल जीवन मिशन की 13 योजनाओं से 321403 परिवारों तक फंक्शनल हाउस होल्ड कनेक्शन का लक्ष्य रखा गया है.

बुंदेलखंड और विंध्याचल के 9 जिलों का हाल

इसी तहर से रेट्रोफिटंग योजना में बुंदेलखंड और विंध्याचल के 9 जिलों में पुरानी योजनाओं को जल जीवन मिशन ने जब अपने हाथों में लिया ओर उसको नए सिरे से शुरू किया है. रेट्रोफिटिंग के तहत जालौन में 29 में से 28 योजनाओं को पूरा किया गया है और 9156 घरों तक पानी के कनेक्शन का लाभ दिया गया. झांसी में 40 में से 37 रेट्रफिटिंग के तहत पुरानी योजनाएं नए सिरे से चालू की गई हैं. इसका फायदा 20969 परिवारों तक पानी कनेक्शन के माध्यम से मिलना शुरू हो चुका है.

10974 घरों तक पानी के कनेक्शन पहुंचे

ललितपुर में 3 योजनाएं सफलतापूर्वक चलना शुरू हो चुकी हैं और यहां 1450 घरों तक पानी के कनेक्शन मिल चुके हैं. महोबा में 43 रेट्रोफिटिंग योजनाओं का फायदा 11966 परिवारों को मिल रहा है. हमीरपुर में 26 रेट्रोफिटिंग स्कीमों से 10554 घरों तक, चित्रकूट में रेट्रोफिटिंग की 1 योजना के संचालित होने से 835 पानी के कनेक्शन घरों तक पहुंचे. बांदा में 22 रेट्रोफिटिंग से 12391 घरों तक पानी कनेक्शन मिले. विंध्य के मिर्जापुर में 62 में से 59 रेट्रोफिटिंग योजनाएं पूरी हो चुकी हैं और 24150 परिवारों तक और सोनभद्र में 37 रेट्रोफिटिंग स्कीमें से 10974 घरों तक पानी के कनेक्शन पहुंच चुके हैं.

जल जीवन मिशन योजना का दिया वरदान

ऑनगोइंग योजना के तहत बुंदेलखंड और विंध्य के जो इलाके आर्सेनिक की अधिकता या अन्ये जल जनित व संक्रामक बीमारियों की चपेट में थे वहां के लोगों के लिए जल जीवन मिशन योजना वरदान साबित हुई है. जालौन में 2 ऑनगोइंग योजनाओं से 1189 घरों तक पानी कनेक्शन हो चुका है. झांसी में 2 स्कीमों के माध्यम से 2750 घरों, ललितपुर में 2 स्कीमों से 5389 परिवारों को पानी के कनेक्शन मिल चुके हैं. महोबा में 5062 परिवारों तक पानी पहुंचाने का काम तेजी से चल रहा है. हमीरपुर में 2 ऑनगोइंग स्कीमों से 1686 परिवारों तक, चित्रकूट में 3 ऑनगोइंग स्कीमों से 1219 घरों तक और बांदा में 2 ऑनगोइंग स्कीमों के माध्यम से 4849 परिवारों तक पानी कनेक्शन दिये जा चुके हैं. मिर्जापुर में एक ऑनगोइंग स्कीम के माध्यम से 917 परिवारों तक और सोनभद्र में 4 ऑनगोइंग स्कीम से 10009 घरों तक पानी कनेक्शन पहुंचाए जा चुके हैं.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें