1. home Home
  2. state
  3. up
  4. gurman singh chaduni ultimatum to government lakhimpur violence case prt

गिरफ्तारी नहीं हुई तो सड़कों पर करेंगे प्रदर्शन, गुरनाम सिंह का अल्टीमेटम, कहा- किसानों को मारने का षड़यंत्र

गुरनाम सिंह ने लखीमपुर खीरी मामले को लेकर अल्टीमेटम दिया है कि अगर 9 अक्टूबर तक दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता है तो वो 12 अक्टूबर से इसके खिलाफ सड़कों पर उतरेंगे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Lakhimpur Violence
Lakhimpur Violence
PTI, File

Lakhimpur kheri Violence News: लखीमपुर मामला तूल पकड़ता जा रहा है. एक तरफ कांग्रेस मामले को लेकर जोर-शोर से प्रदर्शन कर रही है. तो वहीं, भारतीय किसान यूनियन (चढूनी) के प्रमुख गुरनाम सिंह चढूनी के भी अल्टीमेटम का आखिरी दिन कल है. बता दें, गुरनाम सिंह ने इस मामले को लेकर अल्टीमेटम दिया है कि अगर 9 अक्टूबर तक दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया जाता है तो वो 12 अक्टूबर से इसके खिलाफ सड़कों पर प्रदर्शन करेंगे.

गुरनाम सिंह ने इससे पहले पत्रकारों से बात करते हुए कहा था कि, किसानों को मारने के लिए षणयंत्र बनाया गया है. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा था कि, नेता का बेटा ही नहीं खुद मंत्री भी इस मामले में सहयोगी और दोषी हैं. चढूनी ने सरकार से मांग की है कि वो इस मामले में मंत्री, उसके बेटे और अन्य सहयोगी को तुरंत गिरफ्तार करे.

चढूनी से पत्रकारों से बात करते हुए गुरनाम सिंह ने कहा कि, केंद्र सरकार को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री को तत्काल पद से हया देना चाहिए. वहीं, पुलिस को मंत्री उनके बेटे और सहयोगी समेत तुरंत जेल भेज देना चाहिए. गुरनाम सिंह ने कहा कि प्रदेश में गुंडाराज कायम हो गया है. रखूखदार लोगों के मंसूबे काफी बढ़ गये हैं. उन्होंने कहा कि सरकार बात को दबाने के लिए इंटरनेट सेवा बंद कर दी है.

राकेश टिकैत ने भी दी चेतावनी: वहीं, किसान नेता राकेश टिकैत ने लखीमपुर खीरी हिंसा में अबतक गिरफ्तारी नहीं होने पर सवाल उठाया है. टिकैत ने ट्वीट के जरिए कहा है कि केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री व उसके बेटे की गिरफ्तारी नहीं हुई है. टिकैत ने चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार किसान शहीदों के भोग से पहले दोषियों को गिरफ्तार नहीं करती तो किसान संयुक्त मोर्चा बेहद कड़ा फैसला लेगा.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें