1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. amroha murder case will not be hanged shabnam demands cbi probe son met in jail shabnam lover salim awaits decision on mercy petition who killed 7 people avd

Shabnam Hanging Case : क्या 7 लोगों को मौत के घाट उतारने वाली शबनम की नहीं होगी फांसी ? रख दी ऐसी मांग...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
क्या 7 लोगों को मौत के घाट उतारने वाली शबनम की नहीं होगी फांसी ?
क्या 7 लोगों को मौत के घाट उतारने वाली शबनम की नहीं होगी फांसी ?
twitter

उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले के बाबनखेड़ी में 13 साल पहले प्रेमी के साथ मिलकर अपने ही परिवार के 7 लोगों को मौत के घाट उतारने वाली शबनम और उसके प्रेमी सलीम को फांदी दी जाएगी. हालांकि अब तक यह तय नहीं हो पाया है कि दोनों को फांसी कब दी जाएगी. इस बीच 2019 से रामपुर जेल में बंद शबनम ने मामले की सीबीआई जांच करने की मांग कर दी है.

दरअसल अमरोहा जिले के बाबनखेड़ी गांव में 14-15 अप्रैल 2008 की रात को शबनम ने अपने प्रेमी सलीम के साथ मिलकर अपने परिवार के 7 लोगों की जान ले ली थी. उसी घटना को लेकर दोनों को फांसी की सजा सुनाई गयी है. दोनों ने राष्ट्रपति के पास भी दया याचिका दी थी, राष्ट्रपति ने शबनम की दया याचिका को ठुकरा दिया है. जबकि सलीम की याचिका अब भी लंबित है. शबनम को अगर फांसी होती है तो आजादी के बाद देश में यह पहली घटना होगी जब किसी महिला को फांसी दी जाएगी.

इधर फांसी की सजा तय हो जाने के बाद शबनम से उसके बेटे ने जले में मुलाकात की. जेल में मां से मिलने के बाद बेटे ताज ने बताया कि उसकी अम्मी ने कहा कि वो अच्छे पढ़ाई करे. शबनम के बेटे ताज ने राष्ट्रपति से भी गुहार लगायी है कि उसकी मां को फांसी न दिया जाए. ताज ने राष्ट्रपति से अपील की है कि उसकी मां को माफ कर दें.

इधर ताज का लालन-पालन करने वाले उस्मान ने कहा कि शबनम निर्दोष है. उन्होंने कहा, एक बार शबनम को मीडिया के सामने अपनी बात रखने की अनुमति मिलनी चाहिए. उस्मान ने कहा, उसने एक बार शबनम से पूछा था कि क्या उसने अपराध किया है, तो उसने बताया था कि उसे फंसाया गया है. शबनम ने पहले भी कोर्ट में जांच की मांग की थी, लेकिन उसकी मांग को ठुकरा दिया गया.

तो शबनम की फांसी में हो सकती है देरी

शबनम की फांसी में देरी हो सकती है. इसके पीछे कारण बताया जा रहा है कि फिलहाल उसके प्रेमी सलीम की दया याचिका राष्ट्रपति के सामने लंबित है. अब ऐसी खबर आ रही है कि जब तक सलीम की दया याचिका पर फैसला नहीं आ जाता है, तब तक शबनम को भी फांसी नहीं होगी. ऐसा इसलिए क्योंकि दोनों एक ही जुर्म के दोषी हैं. ऐसे में जब तक सलीम की दया याचिका खारिज नहीं हो जाती, तब तक शबनम के खिलाफ डेथ वारंट जारी होना मुश्किल लग रहा है.

नैनी जेल में बंद है सलीम

शबनम का प्रेमी सलीम इस समय नैनी जेल में बंद है. दरअसल सुप्रीम कोर्ट से दया याचिका खारिज होने के बाद सलीम को नैनी जेल में बंद कर दिया गया है. जहां उसे हाई सिक्योरिटी सेल में रखा गया है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें