1. home Hindi News
  2. state
  3. up
  4. akhilesh yadav reached azamgarh jail boosted morale of workers amy

Akhilesh Yadav: अखिलेश यादव पहुंचे आजमगढ़ जेल, कार्यकर्ताओं का बढ़ाया मनोबल

सपा कार्यकर्ताओं से मिलने आजमगढ़ पहुंचे अखिलेश यादव ने कहा कि लोकतंत्र को बचाने के लिए उठे समाजवादियों के कदम पीछे नहीं हटेंगे. उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार लोगों को चिह्नित करके बुलडोजर से डराना चाहती है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Akhilesh Yadav reached Azamgarh Jail
Akhilesh Yadav reached Azamgarh Jail
Social Media

Azamgarh News: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव बुधवार को आजमगढ़ के दौरे पर थे. वह पूर्व मंत्री दारा सिंह चौहान की माता जी के तेहरवीं संस्कार में शामिल होने पहुंचे थे. दौरान वह जेल में बंद सपा कार्यकर्ताओं से मिलने पहुंचे. पुलिस ने चुनाव के दौरान ईवीएम को लेकर हुये विवाद के मामले में सभी को जेल भेजा है.

सपा कार्यकर्ताओं से मिलने आजमगढ़ पहुंचे अखिलेश यादव ने कहा कि लोकतंत्र को बचाने के लिए उठे समाजवादियों के कदम पीछे नहीं हटेंगे. उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार लोगों को चिह्नित करके बुलडोजर से डराना चाहती है. खासकर विपक्षी दलों के लोगों और मुसलमान भाईयों पर दुर्भावना से बुलडोजर चल रहा है.

श्रद्धांजलि अर्पित करते अखिलेश यादव
श्रद्धांजलि अर्पित करते अखिलेश यादव
सोशल मीडिया

आजमगढ़ पहुंचे सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव सबसे पहले दारा सिंह चौहान के घर पहुंचे. वहां उन्होंने पूर्व मंत्री की माता जी की फोटो पर पुष्प अर्पित किये. उन्हें श्रद्धांजलि दी. शोक संतप्त परिवार को सांत्वना दी. उनके साथ विधायक व पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव सहित अन्य नेता मौजूद थे.

उन्होंने कहा कि कानपुर देहात में एक गरीब सब्जी बेचने गया और घर वापस आया तो उसका मकान गिरा हुआ था. आजमगढ़ में एक यूनिवर्सिटी है जिसका सम्मान न सिर्फ देश में बल्कि विदेश में भी है. उस यूनिवर्सिटी की भी बाउंड्री गिरा दी गयी. देश कानून-संविधान से चलता है. देखा जाए तो सबसे ज्यादा अवैध मकान भाजपाइयों के हैं.

अखिलेश यादव ने कहा कि जिस तरीके से सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट में बहस चल रही है, उससे बहुत जल्द मो. आजम खान जेल से बाहर आ जायेंगे. सरकार की लगातार कोशिश रही है कि उनके ऊपर इतना दबाव हो कि वह जेल से बाहर न निकल पाएं. समाजवादियों को और पूरी जनता को उम्मीद है कि उनके साथ न्याय होगा.

ज्ञानवापी मस्जिद मामले पर सपा नेता ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के तमाम फैसले हैं. जिसमें यह कहा गया कि पुरानी चीजों में छेड़खानी नहीं हो सकती है. क्या उन फैसलों को भी भाजपा नहीं मानेगी. मैं कोर्ट से अपील करूंगा कि कोई ऐसा काम न हो, जिससे समाज में खाई पैदा हो. जानबूझकर मुसलमान भाइयों के बीच डर पैदा करने के लिए यह काम किया जा रहा है.

अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में कहीं गेहूं नहीं खरीदा गया. 5 बड़ी कंपनियों ने किसानों का गेहूं खरीद लिया. अब आटा महंगा मिलेगा. गेहूं की कीमत से कम पर भूसा बिक गया. वह प्रदेश के बाहर चला गया. भाजपा राज में सरसों का तेल, पेट्रोल-डीजल महंगा हो गया. सरिया, ईंटा ही नहीं चलना भी महंगा हो गया है.

किसान सम्मान निधि में घोटाले की जांच इसलिए हो रही है कि सरकार के पास बजट नहीं है. राशन बंटना भी बंद होगा. 20 लाख ईवीएम गायब हैं. इसकी कोई जानकारी नहीं है. पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की सुरक्षा और गुणवत्ता दोनों बर्बाद हैं. उन्होंने कहा कि बेकारी, गरीबी, महंगाई पर भाजपा चर्चा नहीं करती है. नौकरियां नहीं है. पूंजी निवेश नहीं है. रुपए की कीमत गिर गई है.

सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा नए तरीके की राजनीति कर रही है. वह जानबूझकर नफरत पैदा करती है. भाजपा जानती है कब कौन विवाद पैदा करना है. वह उसको प्रायोजित और वित्तीय मदद भी देती है. भाजपा जनहित के मुद्दे नहीं अनावश्यक सांप्रदायिकता फैलाने वाले मुद्दों को उठाकर जनता को गुमराह कर रही है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें