25.1 C
Ranchi
Wednesday, February 28, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Noida में 150 जगहों पर लगाए गए 1300 कैमरे, SOS इमरजेंसी बॉक्स, बटन दबाते ही मदद को पहुंचेगी पुलिस…

नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने बताया कि शहर में लगभग 150 स्थानों पर 1300 कैमरे, एसओएस आपातकालीन बॉक्स और अन्य उपकरण लगाए हैं. साथ ही एसओएस बटन लगाए गए हैं, ताकि आपात स्थिति में तुरंत पुलिस को सूचना दी जा सके.

Noida: शहर में महिलाओं की सुरक्षा सहित आकस्मिक स्थिति में मदद पहुंचाने के लिए नोएडा प्राधिकरण ने एक बड़ा कदम उठाया है. प्राधिकरण ने शहर में लगभग 150 स्थानों पर 1300 कैमरे लगाए हैं. इन कैमरों से चौबीस घंटे कमांड कंट्रोल रूम के जरिए नजर रखी जा सकेगी. किसी भी तरह की आकस्मिक स्थिति में कमांड कंट्रोल रूम पर बैठा शख्स संबंधित थाना क्षेत्र की पुलिस को सूचना दे सकेगा. जिस पर पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच जाएगी. इसके साथ ही एसओएस आपातकालीन बॉक्स और अन्य उपकरण लगाए हैं, जिनके जरिए लोग सड़क पर मदद मांग सकेंगे.

ऐसी स्थिति में मांगी जा सकती है मदद

नोएडा अथॉरिटी ने शहर के विभिन्न क्षेत्रों में एसओएस इमरजेंसी बॉक्स लगाए हैं. इन बॉक्स के जरिए कोई भी व्यक्ति किसी भी समय में जल्द से जल्द मदद हासिल कर सकता है. इन बॉक्स को ट्रैफिक लाइट के पोल में लगाया गया है. अगर किसी को सड़क या अन्य जगह पर किसी भी तरह की मदद चाहिए या सड़क हादसे और अचानक सेहत बिगड़ने की स्थिति में वह उसी वक्त बॉक्स में बने हेल्प बटन को दबाकर मदद हासिल कर सकता है. महिला हिंसा, अपराध, सड़क पर चोरी, लूट जैसी घटनाओं के दौरान भी लोग इस हेल्प बटन को दबाकर जानकारी दे सकते हैं.

हेल्प बटन दबाते ही ऐसे होगा काम

हेल्प बटन को दबाते ही वह सीधे कमांड कंट्रोल रूम में बैठे ऑपरेटर से कनेक्ट हो जाएगा. इसके बाद बॉक्स के स्पीकर से ऑपरेटर सीधे उस इलाके में तैनात पुलिसकर्मी को फोन कर मामले की सूचना देगा और कुछ ही पलों में पुलिस पीड़ित की मदद के लिए पहुंच जाएगी.

शहर को स्मार्ट बनाने के लिए पहल

नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने बताया कि शहर में लगभग 150 स्थानों पर 1300 कैमरे, एसओएस आपातकालीन बॉक्स और अन्य उपकरण लगाए हैं. साथ ही एसओएस बटन लगाए गए हैं, ताकि आपात स्थिति में तुरंत पुलिस को सूचना दी जा सके. शहर को स्मार्ट बनाने के लिए इस तरह की पहल की गई है. ये सड़क पर चलने वाले सभी लोगों के लिए मददगार साबित होगी.

Also Read: सर्दी बनी जानलेवा: कानपुर में 24 घंटे में हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक से 25 मौतें, सामने आई ये वजह…
शहरवासियों को अभी ज्यादा जानकारी नहीं

वहीं नोएडा प्राधिकरण की इस पहल के बारे में अभी शहरवासियों को ज्यादा जानकारी नहीं है. प्राधिकरण इसके पीछे हाल ही में इस सेवा का शुरू होने की बात कह रहा है. अधिकारियों के मुताबिक कुछ समय होने पर लोगों को इसकी जानकारी होने पर वह स्वयं जहां इसका इस्तेमाल करेंगे, वहीं उनके जरिए अन्य लोगों को भी इस बारे में पता चलेगा. कमियां मिलने पर उन्हें सुधारा जाएगा. इससे शहरवासियों को आकस्मिक स्थिति में काफी मदद मिलेगी.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें