1. home Hindi News
  2. state
  3. rajasthan
  4. political crisis ends in rajasthan rebel mlas of sachin pilot group start returning home bhanwar lal sharma meets cm ashok gehlot

Rajasthan Crisis : राजस्थान में सियासी संकट खत्म? सचिन गुट के बागी विधायकों की घर वापसी शुरू

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
twitter

नयी दिल्ली : राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार पर संकट के बादल अब छंटते नजर आ रहे हैं. सचिन पायलट दिल्ली में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने मुलाकात की. उसके बाद से सचिन गुट के बागी विधायकों की घर वापसी शुरू हो चुकी है. नाराज चल रहे बागी विधायक भंवर लाल शर्मा आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिले. मुलाकात के उन्होंने कांग्रेस पार्टी को एक परिवार और अशोक को मुखिया बताया. भंवर लाल ने कहा, जब परिवार में कोई नाराज होता है तो खाना नहीं खाता. हमने एक महीने तक नाराजगी जाहिर की अब नाराजगी दूर हो गई है. पार्टी अब जनता से किए वादों को पूरा करेगी.

भंवर लाल शर्मा ने कहा, कोई कैंप नहीं था कोई बंदी नहीं था. भंवर लाल एक ऐसा आदमी है जो कभी बंदी रहता ही नहीं है. मैं इच्छा से गया था और इच्छा से आया हूं. इधर कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने बताया कि सचिन पायलट ने आज कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की और विस्तार से अपनी शिकायतें बताई. सचिन पायलट ने कांग्रेस पार्टी और राजस्थान में कांग्रेस सरकार के इंटरेस्ट में काम करने की प्रतिबद्धता जताई. सचिन पायलट भी खुश हैं और हमारे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी खुश हैं.

इधर अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच मनमुटाव को खत्म करने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने तीन सदस्यीय समिति गठित करने का फैसला किया ताकि पायलट एवं उनके समर्थक विधायकों द्वारा उठाए गए मुद्दों का निदान हो सके और मामले का उचित समाधान किया जा सके.

सूत्रों का कहना है कि पायलट जल्द ही एक बार फिर राहुल गांधी से मुलाकात कर सकते हैं. पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा, इस बैठक के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने फैसला किया है कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी पायलट एवं अन्य नाराज विधायकों की ओर से उठाए गए मुद्दों के निदान एवं उचित समाधान तक पहुंचने के लिए तीन सदस्यीय समिति का गठन करेगी.

गौरतलब है कि पायलट और उनके साथी 18 अन्य विधायकों की बगावत के कारण गहलोत सरकार मुश्किल में आ गई है. गहलोत और कांग्रेस अपनी सरकार बचाने के लिए पिछले कई हफ्तों से जुटे हुए हैं. पहले विधायकों को जयपुर के होटल में रखा गया था. बाद में उन्हें जैसलमेर के एक होटल में भेज दिया गया.

Posted By - Arbind Kumar Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें