1. home Hindi News
  2. state
  3. rajasthan
  4. lightning in amer fort of jaipur rajasthan bijli girne se 11 youths death during pleasant weather victim father narrated painful story of thunderstorm lightning strike smt

Jaipur Lightning: सुहावने मौसम में आमेर किला पहुंचे 11 युवकों की ठनका से मौत, पीड़ित बाप ने सुनायी दास्तां

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jaipur Lightning Death Update
Jaipur Lightning Death Update
Prabhat Khabar Graphics

Jaipur Lightning Strike, Video, Death Update: रविवार को आकाश से कहर के रूप में गिरी बीजली ने राजस्थान के 23 लोगों की जान ले ली. इनमें जयपुर के 11 लोग भी शामिल है. सोशल मीडिया में आमेर किले पर गिरी बीजली का वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है. इस घटना के पीड़ित परिवार ने जो बताया वह काफी हैरान करने वाला और दर्दनाक है.

दरअसल, जयपुर के एसएमएस अस्पताल में अपने भतीजों का ईलाज करवा रहे मोहम्मद ईमरान से बातचीत के आधार पर अंग्रेजी वेबसाइट इंडियन एक्सप्रेस ने छापा है. इमरान ने बताया है कि रविवार का सुहावना मौसम देखते हुए उनके भतीजे आमेर किले पर घूमने निकले थे. जहां बीजली गिरने से कई लोगों की मौत और कई घायल भी हुए.

इमरान के अनुसार उनकी फैमिली ने इसका वीडियो देखा और बच्चों को फोन लगाया. लेकिन, नंबर स्वीच ऑफ आ रहा था. ऐसे में जब वे वहां पहुंचे तो पाया कि सभी बच्चे रो रहे थे. एक ने कहा कि ठनका से हमारे एक दोस्त की मौत हो गयी है.

अस्पताल में अपने बेटे की बॉडी के लिए खड़े 50 वर्षीय मोहम्मद शमीम के आवाज ही निकल रही थी. और निकलती भी कैसे 11 बच्चों में मरने वालों में उनका 18 वर्षीय बेटा मोहम्मद शोहेब भी शामिल था. उन्होंने बताया कि शोहेब अपने दो और दोस्तों के साथ घूमने गया था. जिनमें से तीनों की जान आकाशीय बीजली ने ले ली. शोहेब के पिता चुड़ियों की फैक्टरी में काम करते हैं.

रिश्तेदार के सामने घायलों ने तोड़ा दम

मोहम्मद शोहेब के फैमिली मेंबर मुजाहिद हुसैन ने बताया कि जब वे वाच टॉवर पर पहुंचे तो उनके सामने ही कुछ घायलों ने दम तोड़ा. वहां बहुत कम पुलिस वाले मौजूद थे. अगर समय पर इन लोगों को इलाज मिल पाता तो शायद उनकी जान बचायी जा सकती थी.

27 लोगों के बुरी तरह से घायल

आपको बता दें कि इसी किले के वॉच टॉवर पर सेल्फी लेने के दौरान दो बार बीजली गिरी थी जिसमें 11 लोगों की मौत हो गयी जबकी 10 घायल है. आपदा प्रबंधन एवं नागरिक सुरक्षा के प्रमुख सचिव आनंद कुमार के अनुसार इस घटना के बाद कुल 27 लोगों के बुरी तरह घायल और इलाजरत होने की सूचना दी है.

क्या कहती है पुलिस

इधर, जयपुर नार्थ के एएसपी, सुमीत गुप्ता ने बताया कि पुलिस मौके पर तुरंत पहुंच गयी थी और फौरन बचाव कार्य शुरू कर दिया गया था. जो सुबह के तीन बजे तक जारी रहा.

5 लाख का मुआवजा

इधर, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मृतकों के परिवार को 5 लाख और घायलों के फैमिली को 2-2 लाख मुआवजे के तौर पर देने की बात कही है.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें