1. home Home
  2. state
  3. maharashtra
  4. maharashtra health minister rajesh tope said infection increases restrictions increase in mumbai rts

मुंबई में कोरोना का संक्रमण दर 4 फीसदी, स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- 1 फीसदी और बढ़ा संक्रमण तो बढ़ेंगी पाबंदियां

महाराष्ट्र में कोरोना का प्रकोप बढ़ता जा रहा है. ओमिक्रॉन के मामले भी दिल्ली के बाद सबसे अधिक महाराष्ट्र में मिले हैं. फिलहाल मुंबई में कोरोना का संक्रमण दर 4 फीसदी है. .

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे, महाराष्ट्र
स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे, महाराष्ट्र
ANI

Maharashtra Coronavirus News: महाराष्ट्र में कोरोना के मामले लगातार मिल रहे हैं. वहीं, कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन का खतरा भी बढ़ता जा रहा है. दिल्ली के बाद सबसे ज्यादा कोरोना के मामले महाराष्ट्र में मिल रहे हैं. देश में ओमिक्रॉन के कुल मामले 781 हो गए हैं. वहीं, महाराष्ट्र में इसके 167 मामले दर्ज किए जा चुके हैं. इनमें से 90 मरीजों को अस्तपाल से छुट्टी मिल चुकी है. वहीं, बुधवार को महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि मुंबई में कोरोना संक्रमण का दर फिलहाल 4 फीसदी है अगर यह एक फीसदी भी बढ़ता है तो पाबंदियों को बढ़ा दिया जाएगा.

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि राज्य में अब तक 167 ओमिक्रॉन के मामले हैं. इनमें से 90 मरीजों को छुट्टी दे दी गई है. इनमें से कोई भी मरीज गंभीर स्थिति में नहीं था. हमें सार्वजनिक परिवहन, विवाह समारोह आदि में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए प्रतिबंध लगाने के बारे में सोचना होगा, उन्होंने आगे चिंता जाहिर करते हुए कहा कि राज्य में एक्टिव केस की संख्या बढ़ना चिंता का विषय है।. मुंबई का पॉजिटिविटी रेट 4% है. अगर यह 5% से ऊपर जाता है, तो हमें प्रतिबंध लगाने के बारे में सोचना होगा.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री करेंगे बैठक

स्वास्थ्य मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जल्द ही कोविड टास्क फोर्स के साथ बैठक करेंगे. जिसमें कोविड-19 से बचाव को देखते हुए एहतियाती कदम उठाए जाने को लेकर चर्चा होगी. वहीं, पीएम के ऐलान के बाद महाराष्ट्र में बच्चों के वैक्सीनेशन को लेकर उन्होंने कहा कि हम स्कूलों में 15 से 18 साल के बच्चों को वैक्सीन लगाने की योजना बना रहे हैं. वहीं, कोविड वैक्सीनेशन पर भी ध्यान देने की आवश्यकता बताई.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें