1. home Home
  2. state
  3. maharashtra
  4. maharashtra government announces a special incentive of rs 1 lakh 21 thousand each for resident doctors treating covid 19 patients in all government and municipal medical colleges smb

कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे महाराष्ट्र के रेजीडेंट डॉक्टरों को मिलेंगे 1.21 लाख रुपये, उद्धव सरकार का एलान

Special Incentive For Resident Doctors कोरोना योद्धाओं का हौसला बढ़ाने के उद्देश्य से महाराष्ट्र सरकार ने बड़ी घोषणा की है. महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि कोरोना काल में मरीजों की सेवा करने के लिए सभी सरकारी और म्यूनिसिपल मेडिकल कॉलेजों के रेसिडेंट डॉक्टरों को 1.25 लाख रुपये का इंसेंटिव दिया जाएगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
उद्धव ठाकरे सरकार का एलान, रेजीडेंट डॉक्टरों को मिलेंगे 1.21 लाख रुपये
उद्धव ठाकरे सरकार का एलान, रेजीडेंट डॉक्टरों को मिलेंगे 1.21 लाख रुपये
Video Grab

Special Incentive For Resident Doctors कोरोना योद्धाओं का हौसला बढ़ाने के उद्देश्य से महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार को बड़ी घोषणा की है. महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि कोरोना काल में मरीजों की सेवा करने के लिए सभी सरकारी और म्यूनिसिपल मेडिकल कॉलेजों के रेसिडेंट डॉक्टरों को 1.25 लाख रुपये का इंसेंटिव दिया जाएगा.

न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, उद्धव ठाकरे सरकार ने सभी सरकारी और म्यूनिसिपल मेडिकल कॉलेजों में कोविड-19 मरीजों का इलाज कर रहे रेजीडेंट डॉक्टरों को बड़ा तोहफा देते हुए 1.21 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि देने का एलान किया है. बता दें कि कोरोना वायरस संक्रमण के मामले में महाराष्ट्र देश में अव्वल रहा था. जब कोरोना संक्रमण पीक पर था, यहां सबसे ज्यादा केस सामने आ रहे थे. इसके साथ ही देश में सबसे अधिक मौतें भी महाराष्ट्र में हुई है. हालांकि, वर्तमान में कोरोना संक्रमण के सबसे अधिक मामले केरल में सामने आ रहे हैं.

वहीं, महाराष्ट्र में स्थिति पहले के मुकाबले काफी सुधरी है और राज्य में कोरोना मरीजों का ग्राफ लगातार गिर रहा है. इन सबके बीच, कोरोना संक्रमण की दर कम करने के लिए उद्धव ठाकरे सरकार कोरोना निवारण टीका लगाने के लिए महाराष्ट्र सरकार मिशन कवच कुंडल अभियान शुरू करने जा रही है. इसके तहत 8 से 14 अक्टूबर के बीच प्रतिदिन 15 लाख लोगों को टीका लगाया जा रहा है. वहीं, स्वास्थ्य विभाग के अनुसार महाराष्ट्र में रिकवरी रेट 97 प्रतिशत से ज्यादा है. जबकि, डेथ रेट 2 प्रतिशत के आसपास है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें