1. home Hindi News
  2. state
  3. maharashtra
  4. 4 lakh people could not take second dose due to lack of corona vaccine maharashtra health minister rajesh tope seeks help from central government aml

वैक्सीन की कमी के कारण 4 लाख लोग नहीं ले पाए दूसरा डोज, महाराष्ट्र में दवाओं की भी किल्लत, स्वास्थ्य मंत्री ने केंद्र से मांगी मदद

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
राज्य में कोरोना की स्थिति की जानकारी देते महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे.
राज्य में कोरोना की स्थिति की जानकारी देते महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे.
ANI

मुंबई : महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने कहा है कि राज्य में कोरोना वैक्सीनेशन में कमी आ रही है, क्योंकि वैक्सीन (Corona vaccine) की घोर किल्लत है. उन्होंने कहा कि 45 साल से ज्यादा उम्र के करीब 4 लाख लोग वैक्सीन की दूसरी डोज के लिए इंतजार कर रहे हैं. हमारे पास पर्याप्त मात्रा में टीके उपलब्ध नहीं है. केंद्र सरकार वैक्सीन की सप्लाई में तेजी लाएं. कोवैक्सीन (Covaxin) की आपूर्ति ही नहीं हो रही है.

उन्होंने कहा कि अगर यही स्थिति रही तो 18 से 44 साल के लोगों के लिए जो वैक्सीन हैं, उसे 45 से ज्यादा उम्र के लोगों को लगाना मजबूरी हो जायेगी. हमें दो दिन पहले तक वैक्सीन के 9 लाख डोज मिले थे. अब तक 8 लाख टीके लगाये जा चुके हैं. हम केंद्र से अनुरोध करते हैं कि हमें बड़ी मात्रा में वैक्सीन प्रदान करें. वैक्सीन की कमी के कारण वैक्सीनेशन की प्रक्रिया बाधित हो रही है.

इसी प्रकार राज्य में ऑक्सीजन की कमी बताते हुए उन्होंने कहा कि हमें हर दिन 1700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आवश्यकता है. हम केंद्र सरकार से ऑक्सीजन प्रदान करने का आग्रह करते हैं. उन्होंने राज्य में रेमडेसिविर दवाओं की कमी के बारे में भी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि फार्मा कंपनियां हमें जरूरत के अनुसार दवाओं की सप्लाई नहीं कर रहे हैं.

टोपे ने आरोप लगाया है कि अधिकतर दवा कंपनियां हमें रेमडेसिविर की तय मात्रा की आपूर्ति नहीं कर रही हैं. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने प्रत्येक राज्य के लिए रेमडेसिविर दवा की शीशियों का कोटा तय किया है. इसके बावजूद अधिकतर दवा कंपनियां महाराष्ट्र के लिए तय कोटे के मुताबिक उसे दवा की आपूर्ति नहीं करा रही हैं. अमेरिकी मदद के तौर पर केंद्र को रेमडेसिविर की जितनी शीशियां मिली हैं उसमें से केवल 52 हजार शीशियां ही महाराष्ट्र को मिली हैं.

मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार के फार्मास्यूटिकल विभाग की यह जिम्मेदारी है कि वह यह सुनिश्चित करे कि जिस राज्य का जितना कोटा है उसे उतनी मात्रा में दवाएं मिले. बता दें कि गुरुवार को महाराष्ट्र में एक दिन में कोरोना संक्रमण के 62,194 नये मामले दर्ज किये गये हैं. वहीं, एक दिन में 853 मरीजों की मौत हो गयी है. राज्य में अब तक इस संक्रमण से 73,515 लोगों की मौत हो चुकी है. राज्य में इस समय 6,39,075 एक्टिव मामले हैं.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें