1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. singhbhum west
  5. dowry solicitors tried to kill chakradharpur daughter in potka fir lodged in kowali police station sam

दहेज लोभियों ने चक्रधरपुर की बेटी को पोटका में मारने की कोशिश की, कोवाली थाना में प्राथमिकी दर्ज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : दहेज की लालच में ससुराल वालों ने रीना से की मारपीट. घायल रीना का चक्रधरपुर अनुमंडल अस्पताल में चल रहा है इलाज.
Jharkhand news : दहेज की लालच में ससुराल वालों ने रीना से की मारपीट. घायल रीना का चक्रधरपुर अनुमंडल अस्पताल में चल रहा है इलाज.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, West Singhbhum news : चक्रधरपुर (पश्चिमी सिंहभूम) : पश्चिमी सिंहभूम (West Singhbhum) जिला अंतर्गत चक्रधरपुर (Chakradharpur) की महिला को पूर्वी सिंहभूम (East Singhbhum) जिला अंतर्गत पोटका (Potka) में ससुराल वालों ने दहेज नहीं मिलने के कारण जान से मारने की कोशिश की है. पीड़ित महिला चक्रधरपुर अनुमंडल अस्पताल में इलाजरत है, जबकि ससुराल वालों के खिलाफ कोवाली थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है.

जानकारी के मुताबिक, चक्रधरपुर प्रखंड के पोनासी गांव की रहने वाली रीना महाकुड़ का विवाह 2017 में कोवाली थाना अंतर्गत मुकुंदासाई निवासी दुर्योधन महाकुड़ के साथ हुई थी. अत्यंत गरीब परिवार से होने के बावजूद विवाह सामाजिक रीति- रिवाज के साथ हुई थी. विवाह के कुछ दिन बाद से ही रीना के साथ मारपीट की जाने लगी. सास एवं ससुर भी उसके साथ मारपीट करते थे.

इस दौरान ससुराल वालों ने मोटरसाईकिल और रुपये की मांग भी की, जबकि विवाह के समय 50 हजार नकद मोटरसाईकिल खरीदने के लिए दिये थे. सगे- संबंधियों से रीना के पिता ने मदद मांग कर मोटरसाईकिल के लिए पैसे दिये थे. गरीब होने के कारण और अधिक पैसे देने में रीना के पिता भागीरथी प्रधान असमर्थ थे. जिस कारण आये दिन रीना के साथ मारपीट की जाती रही. ग्राम प्रधान, वार्ड सदस्य और मुखिया की मौजूदगी में पहले भी 4 बार दोनों परिवार के बीच सुलह करायी गयी, लेकिन मारपीट का सिलसिला जारी रहा.

हर बार मारपीट की घटना को नहीं दोहराने की बात तय होती, लेकिन कुछ दिनों के बाद फिर मारपीट किया जाता रहा. इस दौरान उनके 2 बच्चे भी हो गये. रीना के मुताबिक, गत 2 सितंबर, 2020 को जान से मारने के नियत से सास भवानी महाकुड़ एवं ससुर भगीरथी महाकुड़ ने काफी मारपीट किया. पति दुर्योधन महाकुड़ भी वहां मौजूद था, लेकिन वह डर से बीच- बचाव के लिए नहीं आया.

सास एवं ससुर ने रीना को मारपीट कर बेहोश कर दिया गया और उसे उसी हालत में जमीन पर गिरा छोड़ दिया. उसे मार डालने की योजना था. इत्तेफाक से रीना की छोटी बहन रानी महाकुड़ वहां पहुंच गयी. रीना के घर से मात्र 100 कदम की दूरी पर ही उसका ससुराल था. रानी के आ जाने से रीना की जान बच गयी. रानी ने तत्काल इसकी सूचना अपने पिता को दिया. जानकारी मिलते ही पिता रीना को चक्रधरपुर लाये और अनुमंडल अस्पताल में इलाज करा रहे हैं. इस दौरान पोटका विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत कोवाली थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है, लेकिन अब तक पुलिस ने ससुराल वाले के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें