1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. singhbhum east
  5. coronavirus death rate in east singhbhum reached near 3 percent 270 percent higher than jharkhand national mortality rate is lower than 2 pc mth

पूर्वी सिंहभूम में कोरोना से मौत की दर 3 फीसदी के करीब पहुंची, झारखंड से 270 फीसदी ज्यादा, राष्ट्रीय रेट है 1.85 फीसदी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
झारखंड में हुई मौतों में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमितों ने पूर्वी सिंहभूम में तोड़ा दम.
झारखंड में हुई मौतों में सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमितों ने पूर्वी सिंहभूम में तोड़ा दम.
Social Media

रांची/जमशेदपुर : झारखंड के एक जिला में कोरोना से होने वाली मृत्यु की दर राज्य की डेथ रेट से करीब तीन गुणा अधिक है. झारखंड में इस वक्त मृत्यु दर 1.08 फीसदी है, जबकि पूर्वी सिंहभूम में यह दर 2.92 फीसदी हो चुका है. राष्ट्रीय स्तर पर कोरोना से होने वाली मृत्यु की दर 1.85 फीसदी है. राष्ट्रीय स्तर पर मृत्यु दर में लगातार कमी आ रही है, जबकि झारखंड में इसका ग्राफ धीरे-धीरे चढ़ रहा है.

हालांकि, काफी संख्या में कोरोना पॉजिटिव मरीज संक्रमणमुक्त होकर अपने घर लौट रहे हैं. इसकी वजह से झारखंड और पूर्वी सिंहभूम का रिकवरी रेट धीरे-धीरे बढ़ रहा है. 25 अगस्त को जिले का रिकवरी रेट 56.00 प्रतिशत था, तो डेथ रेट 2.92 प्रतिशत. 26 अगस्त को पूरे देश का रिकवरी रेट 75.27 प्रतिशत तथा झारखंड का रिकवरी रेट 67.50 प्रतिशत रहा.

पूर्वी सिंहभूम के जिला मुख्यालय जमशेदपुर में रोजाना कोरोना से 8 से 10 मौतें हो रही हैं. इसकी वजह से मृत्यु दर बढ़ता जा रहा है. स्वास्थ्य विभाग के आंकड़े बताते हैं कि 25 अगस्त तक कुल 68,383 सैंपल जांच के लिए भेजे गये, जिसमें से 55,432 की रिपोर्ट निगेटिव, 5,618 पॉजिटिव आयी. 26 अगस्त तक जिला में कुल 164 लोगों की मौत हो चुकी है. 3146 लोग स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं. जिले में 27 अगस्त की सुबह तक एक्टिव केस की संख्या 2120 है.

जिला में 301 कंटेनमेंट जोन बने, 122 अब भी एक्टिव

पूर्वी सिंहभूम जिला में लगातार कोरोना पॉजिटिव केस मिलने की वजह से कंटेनमेंट जोन की संख्या भी बढ़ रही है. जिले में अब माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाये जाने लगे हैं. घर में पोस्टर लगाकर कंटेनमेंट जोन की घेराबंदी की जा रही है. आंकड़ों के अनुसार, अब तक कुल 301 कंटेनमेंट जोन बनाये जा चुके हैं, जिसमें से 179 की बंदिशें हटा ली गयी हैं. जिला में इस वक्त 122 कंटेनमेंट जोन एक्टिव हैं.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें