1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand minister and senior jmm leader haji hussain ansari died at medanta hospital ranchi after recovering from coronavirus mtj

झारखंड के मंत्री हाजी हुसैन अंसारी का निधन, कोरोना संक्रमण की वजह से अस्पताल में हुए थे भर्ती

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Haji Hussain Ansari Died: कांग्रेस से राजनीतिक जीवन की शुरुआत करने वाले हाजी हुसैन अंसारी 90 के दशक में झामुमो में शामिल हो गये थे.
Haji Hussain Ansari Died: कांग्रेस से राजनीतिक जीवन की शुरुआत करने वाले हाजी हुसैन अंसारी 90 के दशक में झामुमो में शामिल हो गये थे.
Social Media

Haji Hussain Ansari Died: जमशेदपुर/रांची : झारखंड के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री हाजी हुसैन अंसारी निधन हो गया है. कोरोना के संक्रमण से जंग जीतने के बाद हाजी हुसैन अंसारी ने शनिवार को रांची के मेदांता अस्पताल में अंतिम सांस ली. शुक्रवार को उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आयी थी. वह पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन समेत सभी दलों के नेताओं ने हाजी हुसैन अंसारी के निधन पर शोक व्यक्त किया है.

झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के केंद्रीय प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने बताया कि उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी. कोरोना से जंग जीतने के बाद झारखंड मुक्ति मोर्चा के वरिष्ठ नेता जिंदगी की जंग हार गये. पार्टी के लिए यह अपूरणीय क्षति है. उन्होंने बताया कि उन्हें सांस लेने में दिक्कत हुई और इसी की वजह से उनका निधन भी हो गया. देवघर जिला के मधुपुर प्रखंड के पिपरा गांव में 23 जुलाई, 1947 को जन्मे अंसारी ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत कांग्रेस पार्टी से की थी.

हाजी हुसैन अंसारी बाद में दिशोम गुरु शिबू सोरेन की पार्टी झारखंड मुक्ति मोर्चा में शामिल हो गये और मधुपुर विधानसभा क्षेत्र से 1995 से 2019 तक लगातार चुनाव लड़ते रहे. अपने ही गढ़ में उन्हें दो बार हार का भी सामना करना पड़ा. जब भी झारखंड मुक्ति मोर्चा की सरकार बनी, वह उसमें मंत्री बने. हेमंत सोरेन की अगुवाई में पहली बार बनी बहुमत की सरकार में भी वह मंत्री थे. हाजी हुसैन अंसारी झारखंड की हज कमेटी के चेयरमैन भी रहे हैं. 12वीं तक पढ़े हाजी हुसैन अंसारी की पढ़ाई देवघर के अलमित्रा स्कूल से हुई थी.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी. सीएम ने लिखा, ‘सरकार में मेरे साथी मंत्री आदरणीय हाजी हुसैन अंसारी साहब जी के निधन से अत्यंत आहत हूं. हाजी साहब ने झारखंड आंदोलन में अग्रणी भूमिका निभायी थी. वह सरल भाव और दृढ़ विश्वास वाले जननेता थे. परमात्मा हाजी साहब की आत्मा को शांति प्रदान कर परिवार को दुःख सहन करने की शक्ति दे.’

झारखंड के प्रथम मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने भी हाजी हुसैन अंसारी के निधन पर शोक जताया है. श्री मरांडी ने कहा, ‘झारखंड सरकार के मंत्री हाजी हुसैन अंसारी के निधन की दुःखद सूचना प्राप्त हुई. ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें एवं परिजनों को यह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें.’

झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन ने हाजी हुसैन अंसारी के निधन पर कहा कि वह उनके निधन से मर्माहत हैं. हाजी हुसैन अंसारी सर्वसुलभ जनप्रिय नेता होने के साथ-साथ मेरे प्रिय साथी भी थे. संगठन एवं जनहित के मुद्दों को लेकर हमेशा सजग रहने वाला झारखंड का सच्चा नेता अब हमारे बीच नहीं है.

झामुमो महासचिव एवं केंद्रीय प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने हाजी हुसैन के निधन पर शोक व्यक्त किया. कहा, ‘हाजी हुसैन अंसारी साहब का निधन पार्टी के लिए अपूरणीय क्षति है. हाजी साहब का संपूर्ण जीवन सरल, सहज एवं सादा रहा है. वह पार्टी के अभिभावक एवं नेता होते हुए भी सबके लिए सहज उपलब्ध रहते थे. उनका निधन मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है. मैंने अपना अभिभावक खोया है और समाज ने सही मायने में एक सच्चा इंसान को खोया है.’

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें