36.9 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

झारखंड में बिजली उत्पादन करने की क्षमता 6200 मेगावाट, लेकिन मिलती है केवल 1300, जानें इसकी वजह

झारखंड को पूरी बिजली नहीं मिलने की कई वजह है. मैथन थर्मल पावर लिमिटेड (एमपीएल) धनबाद की जब स्थापना हुई थी. तब राज्य से कहा गया था कि वे पावर परचेज एग्रीमेंट कर लें.

सुनील चौधरी, रांची : झारखंड में स्थापित पावर प्लांट की क्षमता 6200 मेगावाट है. जबकि आम तौर पर 1600 मेगावाट की जगह मुश्किल से 1300 मेगावाट बिजली मिल पाती है. बरसात के मौसम में ही 1600 मेगावाट बिजली मिल पाती है. इसका कारण है कि पूरी क्षमता से पावर प्लांट से उत्पादन नहीं होता है. गर्मी के मौसम में बिजली की मांग बढ़कर 2500 से तीन हजार मेगावाट तक हो जाती है. इस मांग की पूर्ति के लिए बिजली खरीदनी पड़ती है. एनटीपीसी के राज्य के बाहर स्थित प्लांट से 700 मेगावाट बिजली ली जाती है. वहीं हाइडल व सोलर से करीब 300 मेगावाट तक बिजली मिल पाती है. शेष बिजली पावर एक्सचेंज से खरीद कर आपूर्ति की जाती है. पावर एक्सचेंज से बिजली खरीदने पर जेबीवीएनएल को प्रति यूनिट 12 रुपये तक भुगतान करना पड़ता है.

क्यों पूरी बिजली नहीं मिलती :

झारखंड को पूरी बिजली नहीं मिलने की कई वजह है. मैथन थर्मल पावर लिमिटेड (एमपीएल) धनबाद की जब स्थापना हुई थी. तब राज्य से कहा गया था कि वे पावर परचेज एग्रीमेंट कर लें. लेकिन झारखंड ने इनकार कर दिया. इस कारण एमपीएल से उत्पादित बिजली दिल्ली, केरल व बंगाल भेज दी जाती है. गोड्डा स्थित अदाणी पावर से 1600 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है. इससे उत्पादित सारी बिजली बांग्लादेश भेज दी जाती है. हालांकि शर्तों के अनुसार, अदाणी झारखंड को 400 मेगावाट बिजली देने पर सहमत है. इसके लिए भी पीपीए की प्रक्रिया पूरी होनी बाकी है.

झारखंड में स्थित पावर प्लांट

प्लांट क्षमता राज्य को कितनी मिलती है
टीटीपीएस(ललपनियां) 420 380 मेगावाट
इनलैंड पावर 63 63 मेगावाट
सिकिदिरी हाइडल 130 130 मिलती है, पर बारिश के मौसम में ही चालू होती है
आधुनिक पावर 540 180 मेगावाट
केटीपीएस(डीवीसी) 1162 600 (डीवीसी कमांड एरिया)
एनटीपीसी नॉर्थ कर्णपुरा 660 170 मेगावाट
पंचेत हाइडल(डीवीसी) 80 00
प्लांट क्षमता राज्य को कितनी मिलती है
सीटीपीएस(डीवीसी) 500 00 मेगावाट
बीटीपीएस(डीवीसी) 500 00 मेगावाट
एमपीएल धनबाद 1050 150 मेगावाट डीवीसी
(टाटा पावर) कमांड एरिया के लिए
जोजेबेड़ा(टाटा पावर) 469 टाटा स्टील के माध्यम से

जमशेदपुर को मिलती है
अदाणी पावर गोड्डा 1600 00 मेगावाट
अन्य (सोलर) 80 80 मेगावाट

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें