1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand by election arrest if hemants government dares to fall into mutual conflict deepak prakash srn

Jharkhand By Election : आपसी फूट में गिरेगी हेमंत की सरकार, हिम्मत है तो गिरफ्तार करें, भाजपा झारखंड अध्यक्ष व सांसद दीपक प्रकाश ने यूं किया हमला

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Jharkhand news : भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद दीपक प्रकाश ने हमला बोलते हुए कहा कि अंतरविरोध के कारण राज्य की हेमंत सरकार गिरेगी़
Jharkhand news : भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद दीपक प्रकाश ने हमला बोलते हुए कहा कि अंतरविरोध के कारण राज्य की हेमंत सरकार गिरेगी़
सोशल मीडिया.

रांची : भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद दीपक प्रकाश ने एक बार फिर कहा है कि अंतरविरोध के कारण राज्य की हेमंत सरकार गिरेगी़. यह सरकार आपसी फूट और विरोध के कारण स्वतः गिर जायेगी़. सत्ताधारी दल ने एक देशप्रेमी को देशद्रोही बना दिया. समाज इनको माफ नहीं करेगा़.

इस सरकार में देशद्रोही को बचाने का काम हो रहा है़ राज्य सरकार में हिम्मत है, तो गिरफ्तार करे़ मैं सोमवार को दस बजे तक रांची में हू़ं भाजपा अध्यक्ष श्री प्रकाश रविवार को पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से बात कर रहे थे़ उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार में मुख्यमंत्री और मंत्रियों को छोड़ कर यूपीए के किसी विधायक का कोई वजूद नहीं है़.

विधायकों को चपरासी भी नहीं पूछ रहा है़ जनसमस्याओं का हल नहीं हो रहा है, उनके मन में मलाल है़ प्रदेश अध्यक्ष ने पत्रकारों के उस सवाल का जवाब नहीं दिया कि यह सरकार कब जायेगी़ इशारे में बताया कि तीन महीने में चली जायेगी़ श्री प्रकाश ने कहा कि भाजपा सशक्त विपक्ष की भूमिका निभायेगी़ जनहित पर सरकार से सवाल पूछेंगे, हिम्मत है, तो जेल में भेजे़ं.

इससे पूर्व भी दमन के खिलाफ संघर्ष किया है़ आपातकाल में जेल गये़ यह बैसाखी की सरकार है, इसमें कितना दम है यह भी देख लेंगे़ भाजपा अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि दुमका-बेरमो में पुलिस व प्रशासन के पदाधिकारी पार्टी कार्यकर्ता की तरह काम कर रहे है़ं उन्होंने कहा कि यह सरकार अपनी विफलताओं के कारण घबराहट में है़.

जनता इनकी नीयत और नीति को 10 महीने में ही समझ चुकी है़ मुख्यमंत्री को देश की संवैधानिक संस्थाओं पर भरोसा नहीं है, न्यायालय पर भरोसा नहीं है़ इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने वाले को क्लीन चीट देते है़ं राज्य में विधि-व्यवस्था की भयावह स्थिति है़ हेमंत सरकार की उदासीनता के कारण 12 हजार आदिवासी मूलवासी की शिक्षकों की नौकरी आज अधर में लटक गयी है़.

अनुबंधकर्मियों पर पुलिसिया जुल्म ढ़ाया जा रहा है़ इस सरकार से सवाल नहीं पूछा जाये, तो किससे पूछेंगे़ उन्होंने कहा कि सारे सवालों पर सरकार निरुत्तर हो चुकी है़ इसलिए बौखलाहट में अनाप-शनाप निर्णय ले रही है़ मौके पर प्रदेश के महामंत्री आदित्य साहू, प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव व मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक भी मौजूद थे़

posted by : sameer oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें