1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. global student prize winners jharkhand news daughter seema get one lakh dollar prize war was waged against child marriage srn

झारखंड की बेटी सीमा को मिलेगा एक लाख डॉलर का पुरस्कार, बाल विवाह के खिलाफ छेड़ी थी जंग, जानें क्या है मामला

रांची ओरमांझी की सीमा को एक लाख डॉलर का पुरस्कार. बाल विवाह जैसी कुप्रथा के खिलाफ आवाज और शिक्षा के अधिकार के लिइ उन्होंने खूब लड़ाईयां लड़ी, ग्लोबल स्टूडेंट पुरस्कार के लिए चयनित.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सीमा को मिलेगा एक लाख डॉलर का पुरस्कार
सीमा को मिलेगा एक लाख डॉलर का पुरस्कार
Twitter

Jharkhand news, Ranchi News रांची : शिक्षा के अधिकार और बाल विवाह के खिलाफ आवाज बुलंद करने के लिए ओरमांझी की 17 वर्षीय सीमा कुमारी को ग्लोबल स्टूडेंट पुरस्कार देने की घोषणा की गयी है. इस पुरस्कार के तहत सीमा को एक लाख डॉलर (लगभग 73 लाख 51 हजार रुपये) की धनराशि दी जायेगी. गुरुवार को पहली बार शुरू किये गये चेगडॉटओआरजी ग्लोबल स्टूडेंट पुरस्कार ( chegg.org global student prize ) में शीर्ष 50 विद्यार्थियों की सूची में चार भारतीय विद्यार्थी शामिल हैं.

इनमें रांची (झारखंड) की 17 वर्षीय छात्रा सीमा कुमारी (फुटबॉलर), जामिया मिलिया इस्लामिया, नयी दिल्ली के वास्तुकला के 21 वर्षीय छात्र कैफ अली, आइआइएम अहमदाबाद के 23 वर्षीय एमबीए छात्र आयुष गुप्ता और हरियाणा के केंद्रीय विश्वविद्यालय का 24 वर्षीय छात्र विपिन कुमार शर्मा शामिल हैं.

सीमा के माता-पिता किसान हैं :

रांची के ओरमांझी थाना क्षेत्र के डहू गांव की रहनेवाली सीमा के माता-पिता किसान हैं. कभी लोग फुटबॉल खेलने के लिए शॉर्ट्स पहनने पर उसका मजाक उड़ाते थे. उनसे कभी उनकी परवाह नहीं की और फुटबॉल खेलती रही. सीमा साल 2012 में युवाओं की फुटबॉल टीम में शामिल हुई थी.

फुटबॉल टीम में शामिल होने के बाद सीमा ने शिक्षा के अधिकार और बाल विवाह के खिलाफ जंग छेड़ी. शॉर्ट्स पहने को लेकर उनका मजाक भी उड़ाया गया, लेकिन इन बातों की परवाह किये बिना सीमा फुटबॉल खेलती रही. बाद में सीमा की प्रतिभा को देखते हुए अमेरिका (यूएसए) की हार्वर्ड यूनिवर्सिटी ने स्कॉलरशिप देकर पढ़ाई के लिए आमंत्रित किया. सीमा के पिता सिकंदर महतो ने बताया कि वह अभी हार्वर्ड में ही पढ़ाई कर रही है. इसी बीच उसे यह पुरस्कार भी मिला है.

असाधारण प्रतिभावान छात्रों के लिए है यह पुरस्कार

शिक्षा जगत में काम करनेवाली कंपनी ‘चेग’ की अनुसंधान इकाई और ब्रिटेन स्थित वार्के फॉउंडेशन की ओर से असाधारण प्रतिभावान छात्रों को इसी वर्ष एक लाख अमेरिकी डॉलर का पुरस्कार देने की घोषणा की गयी है. ‘ग्लोबल स्टूडेंट’ पुरस्कार, बड़े स्तर पर समाज और शिक्षा को प्रभावित करनेवाले छात्रों की प्रतिभा को मंच प्रदान करने के उद्देश्य से दिया जा रहा है.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें