1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. dhanbad adj murder case demand for cbi probe in supreme court high court says law and order in jharkhand worse than nagaland grj

धनबाद ADJ मर्डर केस: सुप्रीम कोर्ट में CBI जांच की मांग, हाइकोर्ट ने बताया नागालैंड से बदतर हालात

धनबाद के एडीजे उत्तम आनंद की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की गई है. इधर, झारखंड हाइकोर्ट ने गंभीर टिप्पणी करते हुए कहा कि यहां की कानून व्यवस्था नागालैंड से बदतर है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Dhanbad ADJ Murder Case : सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई जांच की मांग
Dhanbad ADJ Murder Case : सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई जांच की मांग
Twitter

Dhanbad ADJ Murder Case, रांची न्यूज (राणा प्रताप) : धनबाद के एडीजे उत्तम आनंद की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की गई है. इधर, झारखंड हाइकोर्ट ने गंभीर टिप्पणी करते हुए कहा कि यहां की कानून व्यवस्था नागालैंड से बदतर है.

धनबाद के एडीजे उत्तम आनंद की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत का मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है. सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन की ओर से अधिवक्ता विकास सिंह ने जस्टिस चंद्रचूड़ की अध्यक्षा वाली बेंच के समक्ष ये मामला उठाते हुए स्वत: संज्ञान लेने का आग्रह किया. इसके साथ ही इस मामले की सीबीआई से जांच कराने का आग्रह किया.

श्री सिंह ने बेंच को बताया कि जज उत्तम आनंद की जघन्य हत्या न्यायपालिका पर प्रहार है. इसके कारण भविष्य में न्यायपालिका पर गहरा असर हो सकता है. इसलिए इस मामले की स्वतंत्र जांच कराने की जरूरत है. इसलिए जांच की जिम्मेवारी सीबीआई को सौंप दी जानी चाहिए. जस्टिस चंद्रचूड़ ने अधिवक्ता विकास सिंह को सुनने के बाद उन्होंने सारी बातों को चीफ जस्टिस के समक्ष रखे जाने का आश्वासन दिया.

आपको बता दें कि झारखंड हाईकोर्ट ने आज इस मामले की सुनवाई करते हुए गंभीर टिप्पणी की है और कहा है कि राज्य में पिछले एक साल से अपराध का ग्राफ तेजी से बढ़ा है. अपराधियों पर कोई लगाम नहीं है. अपराधियों को कोई डर-भय नहीं है. लॉ एंड ऑर्डर के मामले में नागालैंड से बदतर स्थिति झारखंड की हो गई है. खंडपीठ ने घटना की सीसीटीवी फुटेज देखते हुए कहा कि कोई बच्चा भी देखेगा तो बता सकता है कि पीछे से धक्का लगेगा तो आगे के बल गिरेगा, लेकिन जज आनंद बायीं तरफ कैसे गिरे. जरूर कोई टैंपू में बैठा हुआ था जिसने जज पर हमला किया है.

धनबाद के एडीजे उत्तम आनंद हर दिन की तरह बुधवार को भी मॉर्निंग वॉक पर निकले थे. रणधीर वर्मा चौक के पास पीछे से जा रहे ऑटो ने उन्हें टक्कर मार दी. इससे वह सड़क पर गिर पड़े. वहां से गुजर रहे लोगों ने आनन-फानन में उन्हें शहीद निर्मल महतो मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (SNMMCH) पहुंचाया. जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. इसके बाद इस मामले में एसआईटी गठित की गयी. इतना ही नहीं ये मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है.

धनबाद पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी ऑटो चालक समेत तीन लोगों को गिरिडीह से गिरफ्तार कर लिया है. ऑटो भी जब्त कर लिया गया है. जज उत्तम आनंद की हत्या में शामिल ऑटो चालक और उसके सहयोगी लखन वर्मा और राहुल वर्मा को गिरिडीह से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. ये दोनों जोड़ापोखर थाना क्षेत्र के डिगवाडीह 12 नंबर के रहने वाले हैं. इस दौरान पुलिस ने ऑटो को भी जब्त कर लिया है.

पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता एवी होमकर के अनुसार सिटी एसपी राम कुमार के नेतृत्व में एसआइटी गठित कर दी गयी है. पूरी टीम को खुद धनबाद एसएसपी संजीव कुमार लीड कर रहे हैं, जबकि बोकारो रेंज डीआइजी कन्हैया मयूर पटेल धनबाद पहुंच घटना को लेकर चल रही जांच की बारीकी से मॉनिटरिंग कर रहे हैं. डीजीपी नीरज सिन्हा के निर्देश पर रांची से फोरेंसिक और सीआइडी टीम को जांच में सहयोग के लिए धनबाद भेजा गया है. तकनीकी साक्ष्य के लिए घटनास्थल और आसपास के सीसीटीवी का फुटेज पुलिस एकत्र कर रही है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें