1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. cyber plunder of land babulal wrote to cm demanding sit investigation prt

जमीन की साइबर लूट : बाबूलाल ने सीएम को लिखा पत्र, एसआइटी जांच की मांग

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बाबूलाल ने सीएम को लिखा पत्र, एसआइटी जांच की मांग
बाबूलाल ने सीएम को लिखा पत्र, एसआइटी जांच की मांग

झारखंड में जमीन की साइबर लूट का मामला गरमा रहा है़ मंत्री रामेश्वर उरांव के बाद भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी व मांडर विधायक बंधु तिर्की ने भी यह मामला उठाया है़ बाबूलाल मरांडी ने प्रभात खबर में प्रकाशित खबर का हवाला देते हुए सीएम को पत्र लिखा है, वहीं बंधु तिर्की ने हेसल मौजा में खतियान में किये गये हेराफेरी को सामने लाया है़ श्री तिर्की ने सारे मामले में सरकार को गंभीरता के साथ कार्रवाई का आग्रह किया है़ उन्होंने कहा है कि अंचलाधिकारियोें पर सरकार को कार्रवाई करनी चाहिए़

रांची : सीएनटी जमीन लूटी जा रही- प्रभात खबर में छपी खबर का दिया हवाला

भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा है कि पूरे राज्य में जमीन की हेराफेरी हो रही है़ जमीन के मूल दस्तावेज बदले जा रहे है़ अवैध तरीके से जमीन बेची जा रही है़ सीएनटी-एसपीटी एक्ट की धज्जियां उड़ायी जा रही है़ बाबूलाल ने इस मामले में प्रभात खबर में छपी खबरों का हवाला देते हुए एसआइटी के गठन की मांग की है़

श्री मरांडी ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिख कर कहा है कि यह गंभीर मामला है़ जानकार पदाधिकारियों व विशेषज्ञों की एक विशेष जांच दल बने़ दोषी पदाधिकारियों को एक समय सीमा के अंदर चिह्नित कर कार्रवाई होनी चाहिए़ भविष्य में कोई पदाधिकारी ऐसा दु:साहस ना कर सके़ पदाधिकारियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले़ श्री मरांडी ने सीएम को लिखे पत्र में कहा है कि धनबाद जिला के गोविंदपुर, बाघमारा, धनबाद और बलियापुर अंचल के साथ अन्य अंचलों में अधिकारी-कर्मचारी की मिलीभगत से बड़े पैमाने पर फरजीवाड़ा हो रहा है़

भुक्तभोगी आदिवासी समाज के लोग भी है़ं गरीब आदिवासी व कमजोर लोगों की जमीन दूसरे के नाम से बंदोबस्त की जा रही है़ गरीबों का मुआवजा भी हड़पा जा रहा है़ कई मामले मेें अधिकारी पकड़े भी गये है़ं मूल रैयतों को बिचौलिया नाम मात्र पैसा दे रहे है़ं धनबाद के कई अंचल में अधिकारियों की मिलीभगत से सीएनटी की जमीन भी निबंधित की जा रही है़

भाजपा नेता श्री मरांडी ने कहा कि सही तरीके से जांच हुई, तो बड़े अधिकारी फंसेंगे़ बड़े पदाधिकारी अपने रसूख का फायदा उठा कर छोटे कर्मचारी को फंसा रहे है़ं श्री मरांडी ने कहा है कि पूरे राज्य में यह चल रहा है़ धनबाद के साथ देवघर, गिरिडीह सहित कई जिलों में फरजीवाड़ा चल रहा है़ भुक्तभोगी जिनकी जमीन लूटी जा रही है, वे अंचल कार्यालय का चक्कर लगा कर थक चुके है़ं ऐसे लोगों को न्याय नहीं मिल रहा है़ श्री मरांडी ने कहा है कि ऐसे फरजीवाड़ा को रोकने के लिए स्थायी समाधान की दिशा में काम करना होगा़

  • दोषी पदाधिकारियों को एक समय सीमा के अंदर चिह्नित कर कार्रवाई

  • धनबाद के गोविंदपुर अंचल में बड़े पैमाने पर हुई है जमीन की हेराफेरी

राज्य में अधिकारी व भू-माफिया के गठजोड़ की बानगी है गोविंदपुर अंचल : धनबाद के सभी अंचलों में जमीन के ऑनलाइन रिकॉर्ड में हेराफेरी का मामला सामने आया है़ अफसर व भू-माफिया की बानगी है गोविंदपुर अंचल़ इस अंचल में बड़े पैमाने पर जमीन की खरीद-बिक्री में हेराफेरी हुई है़ यहां हर तरह की जालसाजी हुई है़ रैयतों की जमीन बेची गयी है़ खरीद-बिक्री के दौरान दस्तावेजों के साथ छेड़छाड हुआ है़ दस्तावेज की सही तरीके से जांच-पड़ताल के बिना ही निबंधन किया गया है़

यही नहीं खतियान में जितनी जमीन है, उससे भी ज्यादा जमीन की खरीद-बिक्री हुई है़ गोविंदपुर अंचल के दर्जनों डीड की जांच उपायुक्त के स्तर से की जा रही है़ भू-राजस्व सचिव केके सोन को मामले की जानकारी मिलने के बाद उन्होंने उपायुक्त को अपने स्तर पर कार्रवाई का निर्देश दिया था़ समय-समय पर उपायुक्त को भी इस अंचल में चल रहे खेल की जानकारी दी गयी थी़

कैसे हुई गड़बड़ी जानिए : केस 1 : गोविंदपुर अंचल के मौजा कांडरा खाता संख्या 85 प्लॉट संख्या 1097 रकबा 24.5 डिसमिल भूमि का म्यूटेशन किया गया़ म्यूटेशन पांच जुलाई को क्रेता राजेश कुमार गुप्ता के नाम किया गया़ खाता संख्या 85 प्लॉट संख्या 1097 के खतियान की जांच की गयी, तो खतियान में प्लॉट संख्या 1097 में फैसन बीबी के नाम 23 डिसमिल जमीन ही है़ जबकि दाखिल खारिज 24.5 डिसमिल भूमि का कर दिया गया़ दाखिल खारिज के मुताबिक राजेश कुमार गुप्ता ने जमीन सादुदीन अंसारी से खरीदी है़

केस 2 : गोविंदपुर अंचल के मौजा आमाघाटा खाता संख्या 12 प्लॉट संख्या 812 , 813 रकबा 4 .59 डिसमिल भूमि का म्यूटेशन क्रेता पूनम कुमारी के नाम किया गया़ खाता संख्या 12 के खतियान काे देखा जाये, तो इसमें प्लॉट संख्या 812 और 813 अंकित नहीं है़ प्लॉट संख्या 812 एवं 813 का वास्तविक खाता संख्या 22 है़ पूनम कुमारी ने यह जमीन सुनील कुमार बरनवाल से खरीदी है़

केस 3: गोविंदपुर अंचल के मौजा पंडुकी खाता संख्या 42 प्लॉट संख्या 906 रकबा 2 डिसमिल भूमि का दाखिल खारिज रीता देवी व सुभद्रा कुमारी के नाम किया गया़ खाता संख्या 42 के खतियान में यह प्लॉट है ही नही़ प्लॉट संख्या 906 का वास्तविक खाता संख्या 25 है़

Post by : Prirtish Sahay

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें