1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. coronavirus pandemic 14 peoples infected with covid19 in jharkhand one dead and one serious

Coronavirus Pandemic: झारखंड में 14 लोगों को हुआ कोविड-19, एक की हुई मौत, एक गंभीर

By Mithilesh Jha
Updated Date
झारखंड के तीन जिलों में अब तक 14 लोग कोरोना से संक्रमित हुए.
झारखंड के तीन जिलों में अब तक 14 लोग कोरोना से संक्रमित हुए.
सुमित कुमार

रांची : झारखंड में अब तक 14 लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है. इसमें एक की मौत हो चुकी है और एक अन्य गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती है. दूसरी तरफ, सरकार कोरोना को नियंत्रित करने की कोशिशों में जुटी हुई है. राज्य स्तरीय करोना नियंत्रण कक्ष जरूरतमंद लोगों की आवाज भी सुन रहा है.

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, अभी तक 1,439 लोगों के सैंपल कोविड-19 टेस्ट के लिए लिये गये हैं. इनमें से 14 पॉजिटिव मिले हैं. इनमें से एक की मृत्यु हो चुकी है. पॉजिटिव पाये गये लोगों में 6 बोकारो के हैं, 1 हजारीबाग और 7 रांची के.

कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए राज्य में 2,891 क्वारेंटाइन सेंटर काम कर रहे हैं. इनमें 15,951 लोगों को पृथक वास (क्वारेंटाइन) किया गया है. 1,29,285 लोग होम क्वारेंटाइन में रह रहे हैं. प्रदेश में 35,524 लोगों ने अपना क्वारेंटाइन पूरा कर लिया.

क्वारेंटाइन पूरा करने वालों में 591 लोग ऐसे हैं, जो कहीं से यात्रा करके लौटे हैं. देश-विदेश की यात्रा करके लौटे 2,316 लोगों की निगरानी की जा रही है. यहां बताना प्रासंगिक होगा कि प्रदेश में जो आइसोलेशन सेंटर बनाये गये हैं, उनमें कुल 2,891 बेड हैं.

कोविड19 से लड़ने के लिए कई स्तर पर लड़ाई चल रही है. जिला स्तर से लेकर राज्य स्तर तक विशेष रूप से कोविड19 अस्पताल बनाये गये हैं. प्रदेश के कोविड हॉस्पिटल्स में 30 आइसीयू बेड हैं. जिलों में स्थित कोविड अस्पतालों में कुल 155 नन आइसीयू बेड उपलब्ध हैं. राज्य के क्वारेंटाइन सेंटर्स में कुल 42,381 मरीजों को रखने की क्षमता है.

सरकार का दावा है कि लॉकडाउन की वजह से कोई भूखा न रहे, इसके लिए खाद्य सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामले विभाग अप्रैल एवं मई महीने का राशन उपलब्ध करा रहा है. 1,19,520 लोगों तक विभाग द्वारा अनाज पहुंचा दिया गया है. वहीं, नन पीडीएस के तहत 1,26,557 लोगों तक अनाज पहुंचाया गया है.

सरकार का कहना है कि दाल-भात के विभिन्न केंद्रों में अब तक 21,08,184 लोगों को खाना खिलाया जा चुका है. विभाग द्वारा 32,513 लोगों तक विशेष राहत सामग्री के पैकेट पहुंचाये गये हैं. एनजीओ एवं वॉलेंटियर्स की 805 टीमें 11,07,652 लोगों को खाना खिला चुकी है. प्रवासी मजदूरों के लिए 611 राहत कैंप बनाये गये हैं, जहां 92,846 मजदूरों को खाना खिलाया जा रहा है.

सरकार का कहना है कि राज्य के बाहर फंसे सभी झारखंडवासियों की मदद के लिए हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं. विभिन्न राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों से अब तक श्रम, रोजगार एवं प्रशिक्षण विभाग के हेल्पलाइन नंबर पर 21,424 कॉल्स के माध्यम से झारखंड के 7,48,667 लोगों के अलग-अलग राज्यों में फंसे होने की सूचना राज्य सरकार को मिली है.

इनमें से 5,025 जगहों पर 4,86,061 मजदूरों के फंसे होने की सूचना मिली. इनमें से 4,733 जगहों पर 3,57,717 मजदूरों के खाने एवं रहने की व्यवस्था की गयी है. सरकार बाकी लोगों के लिए भी संबंधित सरकार से राहत के लिए संपर्क कर रही है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें