1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. cm hemant soren inaugurated schemes worth 50 crores related to health service demanded this from the central government srn

सीएम हेमंत सोरेन ने स्वास्थ्य से जुड़ी 50 करोड़ की योजनाओं का किया उदघाटन, केंद्र सरकार से की ये मांग

सीएम ने स्वास्थ्य से जुड़ी 50 करोड़ की योजनाओं का किया उदघाटन. 19 जिलों के 27 स्थानों पर लगाये गये पीएसए ऑक्सीजन प्लांट का भी उद्घाटन . रिम्स में सेंट्रल लेबोरेटरी और कोबास 6800 लैब का शुभारंभ, प्रतिदिन 1200 सैंपल की होगी जांच

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Jharkhand News : सीएम हेमंत सोरेन ने स्वास्थ्य से जुड़ी 50 करोड़ की योजनाओं का किया उदघाटन
Jharkhand News : सीएम हेमंत सोरेन ने स्वास्थ्य से जुड़ी 50 करोड़ की योजनाओं का किया उदघाटन
सोशल मीडिया

रांची : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन व स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने बुधवार को रिम्स परिसर में स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़ी 50 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण किया. राज्यवासियों को मिलनेवाली नवनिर्मित स्वास्थ्य सेवाओं का उद्घाटन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ऑनलाइन किया. इसमें 19 जिलों में 27 स्थानों पर लगाये गये पीएसए अॉक्सीजन प्लांट भी शामिल हैं.

इसके पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बुधवार को सदर अस्पताल में 100 लीटर प्रति मिनट क्षमतावाले पीएसए ऑक्सीजन प्लांट और रिम्स में कोबास-6800 मशीन का उदघाटन किया. कोबास मशीन से प्रतिदिन 1,200 सैंपल के जांच की सुविधा मिलेगी. मुख्यमंत्री उदघाटन कार्यक्रम में सबसे पहले सदर अस्पताल पहुंचे और ऑक्सीजन प्लांट का शुभारंभ किया.

इसके बाद वह 12:55 मिनट पर रिम्स के माइक्रोबायोलॉजी विभाग पहुंचे. वहां वायरोलॉजी लैब में स्थापित कोबास मशीन का शुभारंभ किया. रिम्स निदेशक डॉ कामेश्वर प्रसाद और विभागाध्यक्ष डॉ मनोज कुमार से मशीन की जांच क्षमता और जांच की गुणवत्ता की जानकारी ली. उदघाटन कार्यक्रम को स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता व अपर मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह ने संबोधित किया.

स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर करने का प्रयास

मौके पर स्वास्थ्य सचिव अरुण कुमार सिंह ने कहा है कि राज्य में कोरोना जांच के लिए आठ लैब संचालित हैं. 10 लैब और स्थापित किये जाने की तैयारी चल रही है. 13000 ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड लगाये गये हैं. 72 पीएसए प्लांट तैयार किये जा रहे हैं. इनमें 38 पीएम केयर और 34 राज्य सरकार के सहयोग से तैयार किये जा रहे हैं. शीघ्र ही 21 हजार ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड तैयार कर लिये जायेंगे. डॉक्टर और मैनपावर बढ़ाये जा रहे हैं.

रिम्स में ओपीडी की क्षमता 1500 से बढ़ा कर छह हजार करनी है. जमशेदपुर के एमजीएम अस्पताल की आधारभूत संरचना 60 साल पुरानी है, जिसे बदलने का खाका तैयार कर लिया गया है. राज्य में 86 फीसदी विशेषज्ञ डॉक्टरों के पद खाली हैं. नियमावली आसान बनायी गयी है, जिससे ज्यादा से ज्यादा डॉक्टर की नियुक्ति हो पायेगी. केंद्र से स्वास्थ्य का बजट बढ़ाने की मांग की जायेगी.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें