रांची रेल मंडल में बनेंगे पांच रेल ओवरब्रिज

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रांची : आमलोगों की परेशानी व रेल परिचालन में आ रही समस्या को को देखते हुए रांची रेल मंडल में पांच अारओबी (रेल ओवरब्रिज) बनाये जायेंगे. इससे संबंधित प्रस्ताव रेलवे ने राज्य सरकार को भेजा है. पहला आरओबी चांदनी चौक हटिया से झारखंड पुलिस मुख्यालय जाने वाली सड़क के बीच में बनना है.
वर्तमान में यहां मैंड रेल क्रॉसिंग है. अधिकतर समय ट्रेनों की आवाजाही होने के कारण गेट बंद रहने से लोगों को काफी परेशानी हो रही है.
इसे देखते हुए यहां आरओबी बनाया जायेगा. इस आरओबी की लंबाई लगभग एक किलाेमीटर और चौड़ाई फोर लेन की होगा. इसमें 20 से 25 करोड़ रुपये खर्च होने की संभावना है. राज्य सरकार से स्वीकृति मिलने और टेंडर होने के बाद इसका निर्माण शुरू किया जायेगा. इसके निर्माण में एक वर्ष से अधिक का समय लगेगा.
दूसरा आरओबी चुटिया पावर हाउस गेट के समीप बनेगा. रेलवे की ओर से संयुक्त जीएडी बनाने के लिए राज्य सरकार के पास प्रस्ताव भेजा गया है. तीसरा आरओबी नामकुम-रांची रोड केतारी बगान के पास बनाने का प्रस्ताव है. इसकी स्वीकृत के लिए रेलवे ने राज्य सरकार को पत्र लिखा है.
मंत्री व सांसद कर चुके हैं आरओबी बनाने की मांग
राज्य के नगर विकास मंत्री सीपी सिंह नामकुम-रांची रोड केतारी बगान के पास आरओबी बनाने की मांग कई बार कर चुके हैं. उन्होंने आरओबी बनाने के प्रस्ताव पर रेल राज्य मंत्री व मुख्यमंत्री के समक्ष रेलवे के अधिकारियों को फटकार भी लगायी थी. श्री सिंह ने कहा था कि रेलवे के अधिकारी चार वर्षों में एक प्रस्ताव भी नहीं बना सके हैं. वहीं सांसद संजय सेठ ने चुटिया पावर हाउस के पास आरओबी बनाने की मांग की थी. श्री सेठ ने कहा था कि आरआेबी नहीं बनने से आये दिन लोगों को घंटों जाम में फंसना पड़ता है.
टाटीसिलवे, सिल्ली में काम अधूरा
टाटीसिलवे के पास बन रहे आरआेबी काम धीमी गति से चल रहा है. रेलवे के अधिकारी ने बताया कि आरओबी बनने में अभी छह माह से अधिक समय लगेगा. बारिश के कारण कार्य अभी धीमा हो रहा है. वहीं सिल्ली मेें बन रहे आरओबी का कार्य लगभग पूरा हो गया है. नवंबर में कार्य पूरा होने की संभावना है.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें