मौसम विभाग ने एक घंटे में जारी की दो-दो बुलेटिन, इन जिलों में बारिश और वज्रपात की चेतावनी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

रांची : मौसम विभाग ने बुधवार को एक घंटे के भीतर दो-दो तात्कालिक चेतावनी जारी की. इसमें झारखंड के कई जिलों में बारिश और वज्रपात की चेतावनी दी गयी. पहला बुलेटिन 12:30 बजे आया, जिसमें कहा गया कि बोकारो, धनबाद, गिरिडीह, गोड्डा, गुमला, हजारीबाग, जामतारा, रांची और खूंटी जिलों में कुछ जगहों पर दो से तीन घंटे के भीतर मेघ गर्जन के साथ हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है. इसके साथ ही वज्रपात की भी संभावना है.

इसके 45 मिनट बाद रांची के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट स्थित मौसम केंद्र से दूसरी बुलेटिन 1:15 बजे आयी. इसमें संथाल परगना के दो जिलों साहेबगंज और पाकुड़ के कुछ स्थानों पर हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश और वज्रपात की संभावना जतायी गयी. हालांकि, किसी भी बुलेटिन में झारखंड के किसी भी जिले में भारी बारिश की आशंका नहीं जतायी गयी.

दूसरी बुलेटिन आने से पहले रांची समेत कई जिलों में बारिश शुरू हो गयी. इसके साथ ही कई दिनों से तेज धूप और उमस भरी गर्मी से लोगों ने राहत की सांस ली. दूसरी तरफ, थोड़ी ही देर की बारिश में रांची के कई इलाके जलमग्न हो गये. जलजमाव की वजह से ट्रैफिक व्यवस्था चरमराने लगी. हालांकि, यह समस्या कुछ ही इलाकों में हुई.

मौसम विभाग के मुताबिक, गुरुवार से शनिवार (25 जुलाई से 27 जुलाई) तक झारखंड में लगभग सभी स्थानों पर हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होगी. 25 जुलाई को झारखंड के कोल्हान प्रमंडल तथा सिमडेगा जिला में और मध्य झारखंड (रांची, बोकरो, गुमला, हजारीबाग, खूंटी और रामगढ़) में एक-दो जगहों पर भारी वर्षा हो सकती है.

अगले चार दिनों (25 से 28 जुलाई तक) रांची का न्यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस बने रहने का अनुमान मौसम केंद्र ने जताया है. इस दौरान अमूमन हर दिन बादल छाये रहेंगे. दो या अधिक बार हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है. सिर्फ 25 जुलाई को मध्यम से भारी बारिश का अनुमान जताया गया है.

बहरहाल, मौसम विभाग ने कहा है कि 24 घंटे के दौरान झारखंड में मॉनसून सक्रिय रहा. राज्य के कई स्थानों पर हल्के से मध्यम दर्जे की वर्षा हुई. उत्तरी झारखंड में कहीं-कहीं भारी वर्षा हुई. सबसे अधिक 115.4 मिमी बारिश राजमहल में दर्ज की गयी. इस दौरान जमशेदपुर में सबसे ज्यादा 37.6 डिग्री सेंटीग्रेड तापमान दर्ज किया गया, जबकि रांची में न्यूनतम तापमान 24.1 डिग्री सेंटीग्रेड रहा.

बुलेटिन के मुताबिक, मंगलवार को राजमहल, सतगांव, मसानजोर, जरमुंडी, पाकुड़िया, कुड़ू, कोडरमा, बरही, गोविंदपुर, पाकुड़, मरकच्चो, मोहारो, गोड्डा, बोआरीजोड़, बगोदर, पुटकी, तेनुघाट, बिश्रामपुर, महेशपुर, हिरणपुर, अमरापाड़ा, तिलैया, मैथन, सिकाड़िया, पापुंकी, पंचेत, धनबाद, सारठ, जारीडीह, जामताड़ा, मेघवन, बड़कीसुरैया, नंदाडीह, खुशियारी, दुमका, तोपचांची, कोनार और बोकारो (चास) में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश हुई.

उल्लेखनीय है कि मॉनसून के करीब दो महीने बीतने को आये, लेकिन झारखंड में पर्याप्त बारिश नहीं हुई. एक जून से 24 जुलाई की सुबह तक 449.2 मिमी सामान्य बारिश की बजाय सिर्फ 252.7 मिमी बारिश हुई है, जो सामान्य से 44 फीसदी कम है. कम बारिश की वजह से धान के बीचड़े नहीं लगे. लेकिन, जिन किसानों ने बिचड़ा लगा लिये थे और फसल बर्बाद होने की चिंता में डूबे थे, को इस बारिश ने बड़ी राहत दी है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें