JHARKHAND : सरकारी स्कूल के मास्टर लंदन के ट्रेनर से सीखेंगे अंग्रेजी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रांची : राज्य सरकार सरकारी विद्यालय के शिक्षकों को चरणबद्ध तरीके से अंगरेजी पढ़ाने व स्पोकन अंगरेजी का प्रशिक्षण देगी. इसके लिए झारखंड शिक्षा परियोजना ने ट्रिनिटी कॉलेज लंदन के साथ एमओयू किया है. एमओयू शुक्रवार को शिक्षा परियोजना कार्यालय में हुआ. प्रथम चरण में तीन हजार शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जायेगा. प्रशिक्षण छह माह का होगा. दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जायेगा.
परीक्षा पास होने के बाद शिक्षक को प्रशिक्षित होने का प्रमाण पत्र दिया जायेगा. परीक्षा रांची में होगी. समय-समय पर कॉलेज के शिक्षक संबंधित जिला में कक्षा भी लेंगे. शिक्षकों को अंगरेजी पढ़ाने व बोलने का प्रशिक्षण देंगे.
मौके पर झारखंड शिक्षा परियोेजना के निदेशक ए मुथुकुमार ने कहा कि इसका लाभ सरकारी विद्यालय के शिक्षक व बच्चों को मिलेगा. मौके पर ट्रिनिटी कॉलेज लंदन के जेनरल मैनेजर, शिक्षा परियोजना के राज्य समन्वयक डॉ अभिनव कुमार, भारत में ट्रिनिटी कॉलेज लंदन की शैक्षणिक प्रमुख अनुपमा सिंह समेत अन्य लोग उपस्थित थे.
आइआरसीटीसी के साथ हुआ एमओयू : रांची. राज्य के बच्चों के शैक्षणिक भ्रमण के लिए शुक्रवार को आइआरसीटीसी के साथ भी एमओयू किया गया. चार ट्रेन अलग-अगल दिन बच्चों को लेकर जायेगी. हटिया-न्यूजलपायीगुड़ी से बच्चे दार्जिलिंग जायेंगे. यात्रा पांच दिनों की होगी.
हटिया-यशवंतपुर से बच्चे बेंगलुरू व मैसूर जायेंगे. यात्रा छह दिनों की होगी. हटिया-दिल्ली से बच्चे आगरा जायेंगे. यात्रा पांच दिनों की होगा. हटिया-मुंबई से बच्चे महाबालेश्वर जायेंगे. यात्रा छह दिनों की होगी. बच्चों के शैक्षणिक भ्रमण पर 502.26 लाख खर्च होंगे. पहली ट्रेन 18 सितंबर को खुलेगी.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें