23.1 C
Ranchi
Friday, March 1, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

पलामू : महापुरुषों की प्रतिमा स्थापित होने तक जारी रहेगा आंदोलन, संविधान बचाओ मोर्चा ने दिया धरना

संविधान बचाओ मोर्चा के बैनर तले मंगलवार को जिला परिषद स्थित कचहरी परिसर में धरना दिया गया. इसकी अध्यक्षता त्रिपुरारी सिंह ने की. संचालन अजय सिंह चेरो ने किया.

संविधान बचाओ मोर्चा के बैनर तले मंगलवार को जिला परिषद स्थित कचहरी परिसर में धरना दिया गया. इसकी अध्यक्षता त्रिपुरारी सिंह ने की. संचालन अजय सिंह चेरो ने किया. धरना के दौरान समाहरणालय परिसर में राजा मेदिनीराय व शहीद नीलांबर-पीतांबर की प्रतिमा लगाने की मांग की गयी. मोर्चा से जुड़े संगठनों के लोगों ने कहा कि राजा मेदिनी राय पलामू के प्रतापी राजा थे. उनके नाम पर प्रमंडलीय मुख्यालय का नामकरण किया गया. लेकिन उस प्रतापी राजा की प्रतिमा शहर में कहीं भी स्थापित नहीं की गयी. वहीं नीलांबर-पीतांबर बंधु ने अपनी मातृभूमि की रक्षा के लिए अंग्रेजों से लोहा लिया और शहीद हो गये. लेकिन उन आदिवासी मूलवासी को सरकार एवं प्रशासन ने उचित मान-सम्मान नहीं दिया. आजादी के 75 वर्षों के बाद भी जिला प्रशासन ने उन महापुरुषों की प्रतिमा स्थापित नहीं की. इस मामले में पलामू के सांसद-विधायक भी मौन हैं. वक्ताओं ने कहा कि शहर में उनकी प्रतिमा स्थापित करने की मांग वर्ष 2018 से की जा रही है. लेकिन प्रशासन इसके प्रति गंभीर नहीं है. राज्य स्थापना दिवस पर मोर्चा ने तीनों महापुरुषों की प्रतिमा कचहरी परिसर में स्थापित की थी. लेकिन सदर एसडीओ अनुराग तिवारी ने 25 नवंबर की शाम उक्त स्थल से प्रतिमा हटवा दी. इससे पहले एसडीओ ने दो दिनों के अंदर समाहरणालय परिसर में उचित जगह पर सम्मानपूर्वक प्रतिमा स्थापित करने का आश्वासन दिया था. लेकिन अभी तक प्रशासन ने प्रतिमा लगाने की दिशा में कदम नहीं बढ़ाया है. इसलिए विवश होकर मोर्चा के बैनर तले अनिश्चित कालीन धरना-प्रदर्शन शुरू किया गया है. प्रतिमा स्थापित होने तक आंदोलन जारी रहेगा. मौके पर युगल पाल, रवि पाल, चंद्रधन महतो, टाइगर रौशन मेहता, जंगाली महतो, दिलकेश्वर कुशवाहा, अनुराग, शंभु, अजीत मेहता, कमेश सिंह चेरो, प्रताप तिर्की, नागमनी रजक, गुड्डी देवी, आशा देवी, मणि देवी, रामराज सिंह चेरो, शंखनाथ सिंह, उमेश सिंह चेरो सहित काफी संख्या में लोग मौजूद थे.

आंदोलन में शामिल हैं मोर्चा के घटक संगठन

मोर्चा ने प्रतिमा स्थापित करने की मांग को लेकर आंदोलन तेज कर दिया है. इस आंदोलन को गति देने में मोर्चा के घटक सामाजिक न्याय परिषद, पिछड़ा वर्ग महासंघ, अखिल भारतीय आदिवासी महासभा, जन संग्राम मोर्चा, मूल निवासी संघ, हूल झारखंड क्रांति दल, अखिल भारतीय किसान महासभा के सदस्य शामिल हैं.

Also Read: पलामू : मुख्यमंत्री मेधा छात्रवृत्ति परीक्षा में पलामू के 322 विद्यार्थी सफल

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें