1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. pakur
  5. corona treatment facilities in pakur hospitals dc made this appeal grj

Jharkhand News: कोरोना से जंग को तैयार पाकुड़ के अस्पतालों में इलाज की क्या है व्यवस्था, DC ने की ये अपील

डीसी वरुण रंजन ने जिलेवासियों को एहतियात बरतने की अपील करते हुए कहा है कि कोरोना का संक्रमण धीरे-धीरे बढ़ता ही जा रहा है. ऐसे में लोगों को ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है. लोग मास्क पहनकर घरों से बाहर निकलें.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News: उपायुक्त वरुण रंजन
Jharkhand News: उपायुक्त वरुण रंजन
प्रभात खबर

Jharkhand News: झारखंड के पाकुड़ जिले में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. फिलहाल जिले में एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या 40 है. जिनका इलाज स्वास्थ्य विभाग की निगरानी में होम आइसोलेशन में किया जा रहा है. इन सभी कोरोना मरीजों में लक्षण काफी सामान्य हैं. ऐसे में कोई गंभीर लक्षण सामने नहीं आने पर उन सभी मरीजों का होम आइसोलेशन में ही इलाज किया जा रहा है. इसके लिए जिला प्रशासन की ओर से सभी मरीजों को होम आइसोलेशन किट दिया जा रहा है. इसमें इलाज के लिए दवाइयां, विटामिन, सैनिटाइजर सहित अन्य जरूरी सामान मौजूद हैं. जिले के अस्पताल में एक भी कोरोना संक्रमित मरीज एडमिट नहीं है. डीसी वरुण रंजन ने जिलेवासियों को एहतियात बरतने की अपील की है.

डीसी वरुण रंजन ने जिलेवासियों को एहतियात बरतने की अपील करते हुए कहा है कि कोरोना का संक्रमण धीरे-धीरे बढ़ता ही जा रहा है. ऐसे में लोगों को ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है. लोग मास्क पहनकर घरों से बाहर निकलें. उन्होंने जिले में बढ़ रहे कोरोना मरीजों की संख्या को लेकर कहा कि जिले में पर्याप्त स्वास्थ्य सुविधाएं मौजूद हैं. सभी कोरोना मरीज स्वास्थ्य विभाग के संपर्क में हैं. स्वास्थ्य विभाग लगातार उनकी निगरानी कर रहा है और उन्हें बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करा रही है. जिले में ऑक्सीजन, बेड, नेबुलाइजर और दवाइयों की कोई कमी नहीं है. लोग सावधान रहें और सुरक्षित रहें. जितना हो सके घरों में ही रहे ताकि हम कोरोना को फैलने से रोक सके और जिले को जल्द ही कोरोना मुक्त कर सकें. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश दिया गया है. जिला एवं प्रखंड स्तर से स्वास्थ्य सुविधाएं एवं सेवाओं को बेहतर बनाने को लेकर सारी तैयारियों और व्यवस्थाओं की नियमित मॉनिटरिंग भी की जा रही है ताकि इसी प्रकार की समस्या मरीजों को ना हो.

पाकुड़ जिले में कुल 605 बेड है. जिसमें ऑक्सीजन सपोर्टेड पाइपलाइन बेड सदर अस्पताल में 82, रिंची अस्पताल लिट्टीपाड़ा में 64 और 52 आईसीयू बेड मौजूद है. कोरोना मरीजों के इलाज के लिए जिले में पर्याप्त सुविधाएं मौजूद जिले में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 559 ऑक्सीजन सिलेंडर, 518 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 404 पल्स ऑक्सीमीटर, 12 मल्टीपारा मॉनिटर, बच्चों के लिए 5 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 48 वेंटिलेटर, 19 बीपी मशीन, 42 नेबुलाइजर, 10 टेबल टॉप 10 ऑक्सीमीटर सहित अन्य सुविधाएं मौजूद हैं.

सदर अस्पताल रिंची हॉस्पिटल लिट्टीपाड़ा, एएनएम ट्रेनिंग सेंटर सोनाजोड़ी सहित जिले के सभी प्रखंडों के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं. इनमें सदर अस्पताल में बच्चों के लिए 5 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 145 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 130 पल्स ऑक्सीमीटर, 8 मल्टीपारा मॉनिटर, एक टेबल टॉप ऑक्सीमीटर, 26 वेंटिलेटर, 19 बीपी मशीन, 23 नेबुलाइजर, बी टाइप 20 ऑक्सीजन सिलेंडर, डी टाइप 93 ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद है. वहीं रिंची हॉस्पिटल लिट़्टीपाड़ा में 40 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 9 पल्स ऑक्सीमीटर, 3 मल्टीपारा मॉनिटर, 9 टेबल टॉप पल्स ऑक्सीमीटर, 15 वेंटिलेटर, 8 नेबुलाइजर, 59 ए टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर, 52 बी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर और 76 डी टाइप, ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद है. वहीं एएनएम ट्रेनिंग सेंटर सोनाजोड़ी में 50 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 2 पल्स ऑक्सीमीटर, एक मल्टीपारा मॉनिटर, 3 वेंटिलेटर, एक नेबुलाइजर, 30 बी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर, 40 लीटर ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद है.

पाकुड़ प्रखंड में 5 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 30 पल्स ऑक्सीमीटर मौजूद है. महेशपुर प्रखंड में 54 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 27 पल्स ऑक्सीमीटर, दो नेबुलाइजर, 6 बी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर और 10 डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद है. हिरणपुर प्रखंड में 39 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 30 प्लस ऑक्सीमीटर, 2 नेबुलाइजर, 4 बी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर और 10 डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद है. लिट्टीपाड़ा प्रखंड में 39 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 13 पल्स ऑक्सीमीटर, एक नेबुलाइजर, 4 बी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर और 10 डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद है. अमड़ापाड़ा प्रखंड में 69 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 17 पल्स ऑक्सीमीटर, एक नेबुलाइजर, 4 बी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर और 10 डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद है. पाकुरिया प्रखंड में 39 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 17 पल्स ऑक्सीमीटर, एक नेबुलाइजर, 4 बी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर और 10 डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद है, वहीं स्वास्थ्य विभाग के पास 37 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 129 पल्स ऑक्सीमीटर, चार वेंटीलेटर, तीन नेबुलाइजर, 108 बी टाइप से ऑक्सीजन सिलेंडर और 10 डी टाइप ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद है.

रिपोर्ट: रमेश भगत

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें