1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. kodarma
  5. jharkhand crime news three including trainee dsp of bihars buxar district will face murder case koderma police sent to jail deceaseds father accused trainee dsp of murder in mutual enmity also accused of betting in ipl grj

बिहार के ट्रेनी DSP समेत तीन पर चलेगा मर्डर केस, पुलिस ने भेजा जेल, मृतक के पिता व परिजनों ने लगाये संगीन आरोप

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand Crime News : हत्या के आरोपियों को जेल भेजती पुलिस
Jharkhand Crime News : हत्या के आरोपियों को जेल भेजती पुलिस
प्रभात खबर

Jharkhand Crime News, कोडरमा न्यूज (विकास कुमार) : झारखंड के कोडरमा जिले के चंदवारा थाना क्षेत्र के जवाहर घाट के पास शुक्रवार की शाम गोली लगने से युवक की मौत मामले में बिहार के बक्सर के प्रशिक्षु डीएसपी व उसके दो दोस्तों पर हत्या का केस दर्ज किया गया है. मृतक निखिल रंजन के पिता ऋषिदेव प्रसाद सिंह (निवासी महावीर नगर 70 फीट रोड थाना बेउर जिला पटना) के लिखित आवेदन पर चंदवारा थाना में (कांड संख्या 62/21) मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपी प्रशिक्षु डीएसपी सहित तीन आरोपियों को शनिवार को जेल भेज दिया. मृतक के पिता व परिजनों ने ट्रेनी डीएसपी पर संगीन आरोप लगाये हैं.

जेल भेजे गए आरोपियों में प्रशिक्षु डीएसपी आशुतोष कुमार के अलावा सौरव कुमार (निवासी महावीर नगर थाना बेउर पटना) व सूरज कुमार (निवासी गिरिडीह बाईपास रोड कोडरमा) शामिल हैं. पूरे मामले में जहां मृतक के पिता ने पैसे को लेकर तीन वर्ष से रंजिश की वजह से हत्या का आरोप लगाया है, वहीं मृतक के मामा ने मीडिया के समक्ष दिए बयान में प्रशिक्षु डीएसपी पर आईपीएल सट्टेबाजी का गिरोह चलाने व इसी को लेकर पैसे का विवाद होने का आरोप लगाया है. पुलिस दोनों बयान के आधार पर आगे की जांच कर रही है. पुलिस ने सर्विस पिस्टल को जब्त कर लिया गया है. घटनास्थल से एक खोखा भी बरामद किया गया है.

जानकारी के अनुसार अपने पुत्र की गोली लगने से मौत की खबर सुनकर कोडरमा थाना पहुंचे गया के चेरखी थाना में वर्तमान में पुलिस अवर निरीक्षक के रूप में पदस्थापित ऋषिदेव प्रसाद सिंह ने आवेदन देकर कहा है कि नौ जुलाई की शाम 4:30 बजे सूचना मिली कि उनके पुत्र निखिल रंजन की हत्या उसके दोस्त आशुतोष कुमार (बक्सर जिला में प्रशिक्षु डीएसपी) के अलावा सौरव कुमार व सूरज कुमार ने गोली मार कर कर दी है. आरोपियों ने आशुतोष कुमार की सर्विस पिस्टल से आपसी रंजिश के कारण घर से लाकर डैम के पास गोली मार कर हत्या कर दी. उन्होंने बताया कि आठ जुलाई की शाम छह बजे आशुतोष बिहार शरीफ इंगेजमेंट में ले जाने की बात कहकर घर से निखिल को बुलाकर ले गया था. इससे पहले निखिल को 30 जून को भी आशुतोष अपने दोस्तों के साथ खगौल पटना से लेकर गया था.

उन्होंने कहा कि उनके पुत्र के साथ तीन वर्ष से उसकी रंजिश चल रही थी. एक बार पैसे के लेनदेन में हम घर वालों को पैसा चुकाना पड़ा था. फिर नए तरीके से पैसे की मांग कर रहा था, जिसके कारण निखिल परेशान रहता था. वह इनसे दोस्ती भी खत्म करना चाहता था, पर किसी अज्ञात कारण से इनके साथ चला गया. इधर, मृतक के मामा अनिल कुमार सिन्हा ने मीडिया को बताया कि पूरे विवाद की वजह आईपीएल में सट्टेबाजी है. कुछ लड़की की भी बात सामने आई है. ये आईपीएल सट्टेबाजी का रैकेट चलाता है और पैसा जमा कर इसमें लगाता है. पिछले साल नुकसान होने पर हम सभी ने पैसे देकर विवाद सुलझाया था.

आपको बता दें कि शुक्रवार शाम को यह बात सामने आई थी कि प्रशिक्षु डीएसपी अपने तीन अन्य दोस्तों के साथ तिलैया डैम पिकनिक मनाने आए थे. यहां जवाहर घाट के पास सर्विस रिवाल्वर लेकर फोटो खिंचाने के दौरान उसके दोस्त से गोली चल गई जो पास खड़े निखिल को लगी थी. घायल अवस्था में डीएसपी व एक दोस्त उसे लेकर सदर अस्पताल पहुंचे, जहां डाक्टरों ने निखिल को मृत घोषित कर दिया था. वहीं घटना के बाद से गायब एक अन्य दोस्त बाद में कोडरमा थाना पहुंचा. शुरुआत में पूरे मामले को दबाने का प्रयास किया जा रहा था, पर बाद में अधिकारियों ने घटना की पुष्टि की थी. हाई प्रोफाइल मामला होने की वजह से डीसी के आदेश पर मेडिकल बोर्ड द्वारा शव का अंत्यपरीक्षण मेडिकल बोर्ड द्वारा किया गया.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें