1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamshedpur
  5. good news for sons and daughters of tata steel group employees get scholarship up to 90 percent apply soon smj

टाटा स्टील ग्रुप के कर्मचारी पुत्र-पुत्रियों के लिए खुशखबरी, मिलेगी 90 फीसदी तक स्कॉलरशिप, जल्द करें आवेदन

टाटा स्टील और टाटा स्टील ग्रुप के कर्मचारी पुत्र-पुत्रियों के लिए स्कॉलरशिप की घोषणा हुई है. मणिपाल एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन और टाटा स्टील के बीच इसको लेकर समझौता हुआ है. इसके तहत कर्मचारी पुत्र-पुत्रियों को 90 फीसदी तक स्कॉलरशिप मिल सकती है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
टाटा स्टील ग्रुप के कर्मचारी पुत्र-पुत्रियों को 90 फीसदी तक मिलेगी स्कॉलरशिप.
टाटा स्टील ग्रुप के कर्मचारी पुत्र-पुत्रियों को 90 फीसदी तक मिलेगी स्कॉलरशिप.
फाइल फोटो.

Jharkhand News (जमशेदपुर) : मणिपाल यूनिवर्सिटी से मेडिकल, इंजीनियरिंग समेत अन्य उच्च शिक्षा प्राप्त करने वाले टाटा स्टील और टाटा स्टील ग्रुप की कंपनी के कर्मचारियों के पुत्र-पुत्रियों के लिए नये स्कॉलरशिप की घोषणा हुई है. इस घोषणा के तहत टाटा स्टील ग्रुप के कर्मचारी पुत्र-पुत्रियों को 90 फीसदी तक स्कॉलरशिप मिलेगी. इस संबंध में टाटा स्टील कॉरपोरेट सर्विसेस के वीपी के हस्ताक्षर से सर्कुलर जारी किया गया है.

मणिपाल एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन (Manipal Academy of Higher Education- MAHE) और टाटा स्टील के बीच इसको लेकर समझौता हुआ है. मालूम हो कि जमशेदपुर के बारीडीह में टाटा स्टील और MAHE की साझेदारी से मेडिकल कॉलेज खोला गया है. टाटा स्टील कर्मियों की ओर से इस संबंध में मांग की जा रही थी कि मिलेनियम स्कॉलरशिप को मणिपाल यूनिवर्सिटी से लागू की जाये. इसी को ध्यान में रखते हुए MAHE और टाटा स्टील के बीच स्कॉलरशिप को लेकर समझौता हुआ.

मणिपाल के विभिन्न कॉलेजों के लिए दो संतानों को मिलेगी स्कॉलरशिप

इस समझौते के तहत MAHE के अधीन संचालित मैंगलोर, बेंगलुरु और जमशेदपुर के कॉलेज में डिग्री, डिप्लोमा, मेडिकल, पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स में एडमिशन लेने वाले और सामान्य वर्ग में एडमिशन लेने वाले कर्मचारी पुत्र-पुत्री इस स्कॉलरशिप के हकदार होंगे. टाटा स्टील और ग्रुप की किसी भी कंपनी के कर्मचारी के अविवाहित दो संतान को इसका लाभ मिलेगा.

ऐसे मिलेगी स्कॉलरशिप

मेडिकल और डेंटल कोर्स में एडमिशन लेने के लिए NEET के जनरल मेरिट के माध्यम से स्कॉलरशिप मिल सकती है. इसके अलावा मणिपाल इंट्रेस टेस्ट के माध्यम से बी टेक के लिए टेस्ट में 10 हजार रैंक तक आने वाले स्टूडेंट्स और बी फार्मा के लिए 1500 रैंक के अंदर होना अनिवार्य है. वहीं, तय रैंक के ऊपर रैंक के साथ एडमिशन लेने वाले स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप का लाभ नहीं मिलेगा, बल्कि उन्हें पूरी फीस देनी होगी. यहां ध्यान रखें कि इक्जामिनेशन मार्क्स में 70 फीसदी या 7 CGPA से कम अंक लाने वाले स्टूडेंट्स को भी स्कॉलरशिप का लाभ नहीं मिलेगा.

10 फीसदी से लेकर 90 फीसदी तक स्कॉलरशिप

- 5 लाख तक फैमिली इनकम होने पर 90 फीसदी स्कॉलरशिप मिलेगी.
- 5 से 7.5 लाख फैमिली इनकम होने पर 75 फीसदी स्कॉलरशिप मिलेगी.
- 7.5 लाख से 10 लाख फैमिली इनकम होने पर 50 फीसदी स्कॉलरशिप मिलेगी.
- 10 से 12.5 लाख फैमिली इनकम होने पर 25 फीसदी स्कॉलरशिप मिलेगी.
- 12.5 लाख से अधिक फैमिली इनकम होने पर 10 फीसदी स्कॉलरशिप मिलेगी.

इन्हें नहीं मिलेगी स्कॉलरशिप

- सरकारी या NRI श्रेणी के तहत अगर शामिल (इनरॉल्ड) होंगे, तो उन्हें स्कॉलरशिप का लाभ नहीं मिलेगा.
- पीसी कोर्स के लिए सर्विस कोटा के तहत एडमिशन लेने वाले को इसका लाभ नहीं मिलेगा.
- स्टूडेंट्स अगर किसी भी सोर्स से किसी भी तरह का स्कॉलरशिप ले रहे हों, तो उन्हें इसका लाभ नहीं मिलेगा.
- अस्थायी तौर पर नियुक्त हुए वरीय नागरिक को इसका लाभ नहीं मिलेगा.
- डिस्टेंस मोड में शिक्षा लेने वाले स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप नहीं मिलेगी.

3 साल की सर्विस अनिवार्य

यह स्कॉलरशिप टाटा स्टील और टाटा स्टील ग्रुप की किसी भी कंपनी के वैसे कर्मचारियों के पुत्र-पुत्रियों के लिए है, जो कम से कम 3 साल नियमित रूप से ऑन रोल सर्विस कर रहे हो. स्टूडेंट्स के एडमिशन की तारीख तक 3 साल की सर्विस होना अनिवार्य है. वहीं, जिन कर्मचारियों की 3 साल नौकरी की नहीं हुई हो, वैसी स्थिति में पुत्र-पुत्रियों का दाखिला MAHE इंस्टीट्यूशन में हो जाता है, तो उन्हें स्कॉलरशिप का लाभ नहीं मिलेगा.

अगर पढ़ाई के दौरान कर्मचारी का तीन साल पूरा हो जाता है, तो वैसे स्टूडेंट्स को स्कॉलरशिप मिलना शुरू हो जायेगा. लेकिन, 3 साल नौकरी के होने के बाद के वर्षों से उनकी गिनती शुरू होगी. यानी किसी पुत्र-पुत्री के दाखिला के एक साल बाद उनके माता-पिता (कर्मचारी का) 3 वर्ष होता है, तो उन्हें पहले वर्ष की स्कॉलरशिप नहीं मिलेगी. लेकिन, उसके बाद के वर्ष से वह शुरू हो जायेगी.

5 नवंबर, 2021 तक करें आवेदन

टाटा स्टील कर्मचारी के पुत्र-पुत्रियों की ओर से कर्मचारी कार्य दिवस में विभागीय हेड और एचआर के माध्यम से आवेदन करेंगे. आवेदन व्यक्तिगत तौर पर या कुरियर के माध्यम से 5 नवंबर, 2021 तक जमा करा सकते हैं. इस आवेदन को चीफ ग्रुप एचआर, आईआर जमशेदपुर कार्यालय द्वारा MAHE, एडमिशन डारेक्टर, मणिपाल को भेज देंगे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें