1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamshedpur
  5. former cm raghubar das raging on pm narendra modi on the sidelines of cm hemant of jharkhand said center is fully cooperating in oxygen plant bed and testing kit smj

PM नरेंद्र मोदी पर झारखंड के CM हेमंत के तंज से भड़के पूर्व CM रघुवर दास, बोले- ऑक्सीजन प्लांट, बेड व टेस्टिंग किट में केंद्र कर रहा है पूरा सहयोग

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन के बयान पर भड़के पूर्व सीएम रघुवर दास.
Jharkhand news : झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन के बयान पर भड़के पूर्व सीएम रघुवर दास.
ट्विटर.

Jharkhand News (जमशेदपुर) : भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का एक ट्वीट देखकर काफी दुख हुआ. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड समेत देश के अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कोरोना से संबंध में जानकारी लेने के लिए फोन किया था. उन्होंने सहयोग देने का आश्वासन दिया. लेकिन, झारखंड के मुख्यमंत्री ने जिस गैर जिम्मेदाराना व्यवहार का प्रदर्शन किया और अमर्यादित टिप्पणी की है वह निंदनीय है. हर किसी के पद की एक गरिमा होती है, यह गरिमा मुख्यमंत्री ने गिरायी है.

पूर्व सीएम रघुवर दास ने कहा कि बाकी मुख्यमंत्रियों या उनके कार्यालयों ने प्रधानमंत्री से बात करने के बाद जो टिप्पणी की है और जो झारखंड के मुख्यमंत्री टिप्पणी की है, उसी से समझ में आ जाता है कि हेमंत सोरेन झारखंड को लेकर कितने गंभीर हैं. बाकी सभी मुख्यमंत्रियों ने, जिनमें ज्यादातर विपक्ष के मुख्यमंत्री हैं, सभी ने प्रधानमंत्री से सकारात्मक बातचीत की बात कही.

श्री दास ने कहा कि राज्य में नयी सरकार बनने के बाद से मुख्यमंत्री हर क्षेत्र में अपनी नाकामी को छिपाने के लिए दिन-रात केंद्र सरकार पर कोसते रहे हैं. कोरोना महामारी के खिलाफ काम करने में देश के प्रधानमंत्री लगातार लगे हुए हैं. हर राज्यों को चाहे स्वास्थ सेवाओं में सुधार के संबंध में हो, वेंटिलेटर, पीपीइ कीट आदि बनाने के संबंध में हो या वैक्सीनेशन बनाने के संबंध में हो, मोदी सरकार हर कदम पर सुविधा उपलब्ध करा रही है.

पिछले दिनों रिम्स में बनाये गये 450 बेड के जिस कोविड सेंटर का उद्घाटन मुख्यमंत्री ने किया है, उसमें भी केंद्र सरकार ने 75 प्रतिशत राशि का सहयोग किया है. इसी प्रकार टेस्टिंग किट में भी केंद्र सरकार 75 प्रतिशत का सहयोग कर रही है. ऑक्सीजन प्लांट लगाने में सहयोग केंद्र सरकार द्वारा किया जा रहा है. गरीबों के भोजन के लिए प्रधानमंत्री ने फिर से दो महीने तक मुफ्त राशन देने की शुरुआत कर दी है. झारखंड को पिछले चार माह के अंदर आपदा प्रबंधन के तहत 200 करोड़ से अधिक की राशि भारत सरकार द्वारा दी गयी है. स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी गयी राशि वह अलग है.

पूर्वी सीएम श्री दास ने कहा कि इतने सहयोग के बावजूद राज्य में अनुभवहीन मुख्यमंत्री होने के कारण हेमंत सोरेन ऐसी गैर मर्यादित टिप्पणी करते हैं. वह पूरी तरह अक्षम साबित हो रहे हैं. सरकार चलाना उनके बस की बात नहीं है. वेंटिलेटर के बिना लोग मर रहे हैं और जो भारत सरकार ने भेजा वे वेंटिलेटर पड़े-पड़े धूल फांक रहे हैं.

उन्होंने कहा कि कि आज झारखंड में जो भी स्वास्थ्य सेवाओं में थोड़ा बहुत सुधार दिख रहा है, वह पिछले भाजपा की डबल इंजन सरकार के 5 साल के कार्यों का परिणाम है. राज्य में तीन नये मेडिकल कॉलेज, 108 एंबुलेंस सेवाएं आज निर्णायक साबित हो रही हैं. बड़ी संख्या में नर्स व पारा मेडिकल स्टॉफ की भर्ती हमारी सरकार ने की. उन्हीं की सेवा से लोगों को राहत मिल रही है. रामगढ़ में जिस इंजीनियरिंग कॉलेज में कोविड सेंटर की शुरुआत की है, वह इंजीनियर कॉलेज भी हमारे शासनकाल में ही खोला गया था.

पलामू, हजारीबाग और जमशेदपुर में पांच-पांच सौ बेड के अस्पताल बन रहा है. देवघर में एम्स का निर्माण अंतिम चरण में है. ये सब कार्य हमारी सरकार ने पिछले 5 सालों में किया था. यह पूछने का तो समय नहीं है, लेकिन श्री दास ने सीएम हेमंत सोरेन से पिछले 2 साल के कार्यकाल का हिसाब मांगा है. उन्होंने कहा कि अगर सीएम हेमंत सोरेन इतना आरोप लगाते हैं, तो आपको जरूर बताना चाहिए कि पिछले 2 वर्षों में आपने राज्य के लिए क्या किया है. चिकित्सा क्षेत्र तो क्या किसी भी क्षेत्र में आपकी क्या उपलब्धियां रही. आपकी सरकार के कारण राज्य के 300 बच्चे मेडिकल की पढ़ाई में शामिल होने से वंचित हो गये, लेकिन आपको किसी की चिंता नहीं है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें