60 दिनों तक एक्शन मोड में रहेगा आयकर विभाग, टैक्स चोरी करनेवालों के खिलाफ चलेगा अभियान

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
टारगेट से 200 कराेड़ रुपये पिछड़ा आयकर विभाग
जमशेदपुर : झारखंड के मुख्य आयकर आयुक्त राकेश मिश्रा ने कहा कि आयकर विभाग का जमशेदपुर सर्किल अपने लक्ष्य से 200 कराेड़ रुपये पीछे है.
वित्तीय वर्ष के बाकी 60 दिनाें में विभाग सिर्फ एक्शन के माेड में रहेगा. झारखंड में कर वंचना के 1000 मामले पकड़ में आये हैं, जिनके खिलाफ जांच शुरू कर दी गयी है. इसके अलावा 2206 से अधिक मामले आइटीसी फ्रॉड से संबंधित पकड़ में आये हैं, जिन्हाेंने 25 प्रतिशत अधिक छूट की मांग के साथ क्लेम फाइल कर दिया है. इन मामलाें में शामिल सभी आयकर दाताआें काे नाेटिस भेजा जायेगा. यदि वे स्वेच्छा से बकाया का भुगतान नहीं करेंगे, ताे उनके खिलाफ ब्याज वसूली, पेनाल्टी आैर कानूनी कार्रवाई की प्रक्रिया शुरू की जायेगी.
जमशेदपुर के प्रधान आयकर आयुक्त के सर्किट हाउस स्थित 47 कार्यालय में शुक्रवार काे आयाेजित संवाददाता सम्मेलन काे संबाेधित करते हुए मुख्य आयकर आयुक्त राकेश कुमार मिश्रा ने कहा कि आयकर विभाग ने दिव्यांग के नाम पर झारखंड में टैक्स चोरी के मामले काे पकड़ा है. यह मामला हजारीबाग में पकड़ा गया, लेकिन ऐसे कई मामले जमशेदपुर समेत अन्य कई सर्किलाें में उजागर हाे गये हैं, जिनकी जांच शुरू कर दी गयी है. प्रधान आयकर आयुक्त कार्यालय में विभागीय अधिकारियाें के साथ बैठकर राकेश मिश्रा ने साफ कर दिया है कि टैक्स चाेरी करनेवालाें काे किसी तरह छूट विभाग नहीं देगा. आयकर विभाग किसी भी टैक्स पेयर से न ताे जबरन टैक्स वसूलेगा आैर न ही उनसे जायज टैक्स वसूलने से पीछे हटेगा.
श्री मिश्रा ने कहा कि जीएसटी आैर आयकर का रिटर्न भी दाखिल नहीं कर रहे हैं. ऐसे लाेगाें काे चिह्नित कर लिया गया है, जिनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी. उनके बैंक खाताें काे सीज किया जायेगा. जमशेदपुर में एडवांस टैक्स के रूप में 206.04 कराेड़ आैर सेल्फ एसेसमेंट टैक्स के रूप में 214 कराेड़ रुपये हाेने हैं, जिसे 31 मार्च तक स्वत: लाेग जमा करा दें.
टैक्स चोरी करनेवालों के खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य
मुख्य आयकर आयुक्त राकेश मिश्रा ने बताया कि विभाग के पास टैक्स चोरी करने वालों के खिलाफ पर्याप्त दस्तावेज उपलब्ध है. वित्तीय वर्ष 2015-2016 458 और 2016-2017 में 889 कर दाता द्वारा कर वंचना की गयी है. इसके अलावा ऐसे कई मामलाें काे पकड़ा है, जिसमें फर्जी दस्तावेज के आधार पर लोगों का टैक्स चोरी करने में सहयोग किया जा रहा है.
जमशेदपुर सर्किल का 2019-2020 में लक्ष्य 459.15 करोड़ रुपये था. वहीं 251.83 करोड़ रुपये की वसूली की गयी. करीब 200 करोड़ रुपये लक्ष्य से विभाग पीछे है, जिसके लिए विभाग की ओर से कदम उठाये जा रहे है. झारखंड में आयकर विभाग का लगभग 3337 करोड़ रुपये का बकाया है, जिसमें कोल्हान में करीब 300 करोड़ रुपये बकाया की राशि शामिल है, जिसकी वसूली का अादेश दिया गया है.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें