1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. picture of the city will change these four ponds of gumla will be beautified more than one crore rupees will be spent srn

शहर की बदलेगी तस्वीर, गुमला के इन चार तालाबों का होगा सुंदरीकरण, एक करोड़ रुपये से भी अधिक होंगे खर्च

गुमला शहरी क्षेत्र अंतर्गत चार तालाबों यथा मुरली बगीचा तालाब, सिसई रोड छठ तालाब (भट्ठी तालाब), वन तालाब एवं चेटर तालाब की तस्वीर बदलने वाली है. नगर परिषद (नप) गुमला ने उपरोक्त चारों तालाबों के सुंदरीकरण करने की योजना बनायी है

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Jharkhand News : गुमला के इन चार तालाबों का होगा सुंदरीकरण
Jharkhand News : गुमला के इन चार तालाबों का होगा सुंदरीकरण
Prabhat Khabar

गुमला शहरी क्षेत्र अंतर्गत चार तालाबों यथा मुरली बगीचा तालाब, सिसई रोड छठ तालाब (भट्ठी तालाब), वन तालाब एवं चेटर तालाब की तस्वीर बदलने वाली है. नगर परिषद (नप) गुमला ने उपरोक्त चारों तालाबों के सुंदरीकरण करने की योजना बनायी है. चारों योजनाओं का बजट एक करोड़ रुपये से भी अधिक है. चारों तालाबों के सुंदरीकरण की अलग-अलग योजना है. जिसमें मुरली बगीचा तालाब में 72.46 लाख रुपये की लागत से होगा.

उक्त राशि से तालाब का सुंदरीकरण के तहत गार्डवॉल निर्माण, रेलिंग निर्माण, तालाब के सीढ़ियों के नीचे फ्लोरिंग, तालाब में मिट्टी भराई एवं अन्य छोटी-छोटी मरम्मत व रंगरोगन का काम होगा. वहीं सिसई रोड छठ तालाब (भट्ठी तालाब) का सुंदरीकरण 9.65 लाख रुपये, वन तालाब का सुंदरीकरण 9.85 लाख रुपये एवं चेटर तालाब का सुंदरीकरण 9.85 लाख रुपये की लागत से होगा.

इन तीनों तालाबों में रेलिंग लगायी जायेगी. शेड का निर्माण किया जायेगा. साथ ही छोटी-छोटी मरम्मत एवं रंगरोगन का काम होगा और जगह-जगह पर सीमेंटेड बेंच बनाया जायेगा. यहां बतातें चले कि स्थानीय लोगों द्वारा उपरोक्त चारों तालाबों की सुंदरीकरण की मांग की जाती रही है. स्थानीय लोग कभी उपायुक्त तो कभी नगर परिषद कार्यालय में कई बार आवेदन दे चुके हैं. यहां तक स्थानीय लोग अपने संबंधित वार्ड के पार्षद से भी कई बार तालाबों के सुंदरीकरण की मांग कर चुके हैं.

स्थानीय लोगों की मांग का असर हुआ कि नप ने तालाबों के सुंदरीकरण की योजना बनायी. इधर, नगर परिषद से मिली जानकारी के अनुसार तालाबों के सुंदरीकरण के लिए योजनाओं की निविदा निकाली गयी है. काफी संख्या में ठेकेदारों ने योजनाओं में निविदा डाला है. निविदा खुलने के बाद संबंधित ठेकेदार द्वारा जल्द ही काम शुरू कर दिया जायेगा.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें