1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. making labor card of workers in gumla became a big challenge so far only 95764 people have been made srn

गुमला में श्रमिकों का श्रम कार्ड बनना बनी बड़ी चुनौती, अब तक सिर्फ 95764 लोगों का ही बन पाया है

गुमला जिले में श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाने का कार्य चल रहा है. विगत 15 नवंबर तक जिले भर के 95764 श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन करने बाद श्रम कार्ड बनाया जा चुका है. श्रम कार्ड बनाने का कार्य जिले भर के 359 प्रज्ञा केंद्रों में चल रहा है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Jharkhand News: गुमला में श्रमिकों का श्रम कार्ड बनना बनी बड़ी चुनौती
Jharkhand News: गुमला में श्रमिकों का श्रम कार्ड बनना बनी बड़ी चुनौती
Prabhat Khabar

गुमला : गुमला जिले में श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाने का कार्य चल रहा है. विगत 15 नवंबर तक जिले भर के 95764 श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन करने बाद श्रम कार्ड बनाया जा चुका है. श्रम कार्ड बनाने का कार्य जिले भर के 359 प्रज्ञा केंद्रों में चल रहा है. इसके अतिरिक्त जिला एवं प्रखंड प्रशासन द्वारा आयोजित जिला एवं प्रखंड स्तरीय कार्यक्रमों में भी प्रज्ञा केंद्र संचालकों द्वारा श्रम कार्ड बनाने का कार्य किया जा रहा है.

श्रम कार्ड बनाने का कार्य 31 दिसंबर 2021 तक चलेगा. परंतु लक्ष्य के अनुरूप जिले के शत-प्रतिशत श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाना एक चुनौती बनती जा रही है. 31 दिसंबर तक जिले भर के 337966 श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाया जाना है. जिसके विरुद्ध अब तक महज 95764 श्रमिकों का ही श्रम कार्ड बनाया जा सका है और अब इधर, डेढ़ माह के अंदर कुल 242202 श्रमिकों का श्रम कार्ड और बनाया जाना है. बतातें चले कि असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाने के लिए जिले के सभी 12 प्रखंडों की आबादी के हिसाब से प्रखंडवार लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

जिसमें सर्वाधिक लक्ष्य सदर प्रखंड गुमला का है. गुमला के कुल 54924 श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाने का लक्ष्य है. इसी प्रकार अलबर्ट एक्का जारी प्रखंड के 10562, बसिया के 31687, भरनो के 25349, बिशुनपुर के 21125, चैनपुर के 21125, डुमरी के 19012, घाघरा के 38024, कामडारा के 21125, पालकोट के 29547, रायडीह के 27462 एवं सिसई प्रखंड के 38024 श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाने का लक्ष्य निर्धारित है. जिसके विरुद्ध 15 नवंबर तक गुमला के 22885, जारी प्रखंड के 1211, बसिया के 7647, भरनो के 6864, बिशुनपुर के 3060, चैनपुर के 4213, डुमरी के 3007, घाघरा के 15578, कामडारा के 3227, पालकोट के 6483, रायडीह के 4751 एवं सिसई प्रखंड के 14379 श्रमिकों का ही श्रमिक कार्ड बनाया जा सका है. इसके अतिरिक्त 2459 श्रमिकों ने खुद से ही ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर अपना श्रम कार्ड बनाया है.

श्रम कार्ड तेजी से बनाया जा रहा है : श्रम अधीक्षक

श्रम अधीक्षक एतवारी महतो ने बताया कि जिले भर के कुल 337966 श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाने का लक्ष्य है. जिसके विरुद्ध 95764 श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन करने बाद श्रम कार्ड बनाया जा चुका है. 31 दिसंबर तक निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए शत-प्रतिशत श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाया जायेगा. हालांकि अभी भी काफी श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाया जाना बाकी है. परंतु पूरा-पूरा प्रयास किया जा रहा है कि निर्धारित समय तक शत-प्रतिशत श्रमिकों का श्रम कार्ड बन जाये.

श्रम कार्ड बनाने के लिए 20 को लगेगा शिविर

असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का श्रम कार्ड बनाने के लिए गुमला शहर के पुराना नगरपालिका परिसर में 20 नवंबर को शिविर लगाया जायेगा. यह जानकारी श्रम अधीक्षक एतवारी महतो ने दी. उन्होंने बताया कि शिविर में शहर के सभी प्रतिष्ठानों में कार्यरत कर्मचारियों का श्रम कार्ड बनाया जायेगा. उन्होंने बताया कि इसके लिए सभी प्रतिष्ठानों में पंपलेट का वितरण कराया जा रहा है. उन्होंने प्रतिष्ठान संचालकों से 20 नवंबर को श्रम कार्ड बनाने के लिए अपने-अपने कर्मचारियों को पुराना नगरपालिका परिसर भेजने की अपील की है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें