1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. jharkhand news one and a half months ago anand of chainpur was found hanging on the tree anger among the villagers smj

डेढ़ माह पहले अगवा हुए चैनपुर के आनंद का नरकंकाल पेड़ पर लटकता मिला, ग्रामीणों में आक्रोश

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : डेढ़ माह से अगवा आनंद का कोठी पहाड़ के जंगल से मिला. चैनपुर पुलिस जांच में जुटी.
Jharkhand news : डेढ़ माह से अगवा आनंद का कोठी पहाड़ के जंगल से मिला. चैनपुर पुलिस जांच में जुटी.
प्रभात खबर.

Crime News, Jharkhand News, Gumla News, गुमला : झारखंड के गुमला जिले के चैनपुर थाना के केड़ेंग गांव निवासी 19 वर्षीय आनंद तिग्गा की हत्या से ग्रामीणों में आक्रोश है. डेढ़ माह पहले आनंद का अपहरण कर लिया गया था. उसका शव डुमरी थाना के कोठी पहाड़ के जंगल में पेड़ से लटका हुआ मिला. शव नरकंकाल हो गया था और इससे दुर्गंध आ रही थी.

अपहरण के बाद आनंद को पुलिस खोज नहीं पायी थी. परिजन अपने स्तर से आनंद को खोज रहे थे. शनिवार की शाम को मामा ख्रीस्टोफर बाड़ा व भाई जस्टीन बाड़ा ने आनंद के शव को कोठी पहाड़ से खोज निकाला. ख्रीस्टोफर व जस्टीन ने बताया की डेढ़ माह से हमलोग लगातार आनंद को खोज रहे थे. सप्ताह में दो दिन आनंद की तलाश में निकलते थे. डेढ़ माह बाद आनंद मिला, लेकिन उसका शव मिला. शव मिलने के बाद इसकी जानकारी पुलिस को दी. पुलिस मौके पर पहुंच पेड़ में लटका नरकंकाल को चैनपुर लायी. शव को पोस्टमार्टम के लिए गुमला भेज दिया गया है.

3 दोस्तों का अपहरण हुआ था, 2 भाग निकले थे

जानकारी के अनुसार, डेढ़ माह पहले आनंद तिग्गा, रोहित बाड़ा व नेल्सन तिग्गा को 30 से 40 की संख्या में पहुंचे अपराधियों ने अगवा कर कोठी पहाड़ की ओर ले गया था. जिसमें नेल्सन तिग्गा किसी प्रकार अपराधियों के चंगुल से भाग निकला था. आनंद तिग्गा व रोहित बाड़ा को अपराधी कोठी पहाड़ ले गये और दोनों को मारपीट कर पेड़ से लटका दिया था.

रोहित बाड़ा के अनुसार, पेड़ में लटकाने के बाद आनंद तिग्गा मर चुका था. रोहित बाड़ा को भी पेड़ में लटकाया गया था. लेकिन, अपराधी रोहित बाड़ा को मरा समझ कर वहां से चले गये. इस बीच रोहित बाड़ा किसी प्रकार रस्सी खोलकर नीचे गिरा और घंटों मूर्छित रहा. बाद में होश आने पर वह वहां से भागकर गांव पहुंचा और गांव वालों को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी. जिसके उपरांत गांव वालों ने चैनपुर पुलिस को सूचना कर आनंद तिग्गा के शव को रोहित बाड़ा की निशानदेही पर खोजने निकले. लेकिन, आनंद का शव को खोज निकालने में सभी नाकाम रहे.

अपराधियों के चंगुल से बचकर निकले रोहित बाड़ा घटनास्थल को बता नहीं सका. पुलिस रोहित की मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने की जानकारी दी. साथ ही, पुलिस ने रोहित को ही आनंद की हत्या का आरोपी मानकर डेढ़ माह पहले उसे जेल भेज चुकी है. इधर, शव मिलने के बाद पुलिस मामले की नये सिरे से जांच शुरू कर दी है.

इस संबंध में चैनपुर थाना प्रभारी अमित चौधरी ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है. कॉल डिटेल्स खंगाला जा रहा है. शव का पोस्टमार्टम के बाद डीएनए टेस्ट भी कराया जायेगा, जिसके बाद दोषी व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी. श्री चौधरी ने कहा कि रोहित बाड़ा निर्दोष है या नहीं यह जांच का विषय है. निर्दोष जो भी होंगे. उस पर कोई कार्रवाई नहीं होगी. रोहित बाड़ा की निशानदेही पर पुलिस आनंद के शव को खोजने में गयी थी. लेकिन घटनास्थल को बताने में रोहित नाकाम रहा था. पुलिस हर पहलू पर जांच करेगी और दोषी व्यक्ति के विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई करेगी.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें