1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. jharkhand crime news mithilesh kumar of gumla working against human trafficking killed shot first then strangled smj

मानव तस्करी के खिलाफ काम कर रहे मिथिलेश कुमार की हत्या, पहले मारी गोली, फिर रेता गला

गुमला शहर के बीचोबीच गोकुल नगर में दिनदहाड़े एक व्यक्ति की गोली मार कर हत्या कर दी गयी. मानव तस्करी के खिलाफ काम कर रहे मिथिलेश की अपराधियों ने पहले गोली मारी, फिर गला रेत कर हत्या कर दी. पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
मानव तस्करी के खिलाफ काम करने वाले मिथिलेश कुमार की गोली मार कर हत्या. पुलिस जांच में जुटी.
मानव तस्करी के खिलाफ काम करने वाले मिथिलेश कुमार की गोली मार कर हत्या. पुलिस जांच में जुटी.
प्रभात खबर.

Jharkhand Crime News (गुमला) : झारखंड के गुमला शहर के रिहायसी इलाकी गोकुल नगर में बाल मजदूर मुक्ति संस्थान के संचालक मिथिलेश कुमार साहू (35 वर्ष) की दिनदहाड़े हत्या कर दी गयी. अपराधियों ने पहले गोली मारी, फिर लगा रेत दिया. घटना मंगलवार की सुबह 10 बजे की है. मृतक का घर डुमरी प्रखंड के जैरागी गांव में है. पिछले 5 महीने से गोकुल नगर में ऑफिस खोलकर अपना एनजीओ चला रहा था. वह मानव तस्करी के खिलाफ काम रहा था.

एक माह पहले दिल्ली से दो लड़कियों को मुक्त कराया था. मृतक पूर्व में हत्या मामले में जेल भी जा चुका है और इन दिनों जमानत पर बाहर था. घटना की सूचना पर SDPO मनीष चंद्र लाल, थानेदार मनोज कुमार पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. पुलिस अनुसंधान में जुट गयी है.

क्या है पूरा मामला

जिस समय मिथिलेश की हत्या की गयी. संस्थान की सदस्य पूजा देवी वहीं पास थी. पूजा ने बताया कि मंगलवार की सुबह दो लोग बारिश के कारण बरसाती पहन कर आये थे. उस समय मैं सो रही थी. उनके जाने के बाद मैं सुबह 9 बजे उठी. उसके बाद मिथिलेश कुमार साहू नहाने के लिए गये. नहाकर पूजा-अर्चना कर कार्यालय में बैठे थे.

इसी बीच किसी का फोन आया था. उनको हमने बोलते सुना कि नहाकर कार्यालय में बैठे हैं. इसी बीच मैं दूध गर्म करने अंदर किचन की ओर गयी. तभी 5 की संख्या में अज्ञात लोग पहुंचे और अचानक गोली चलने की आवाज आयी. मैं दौड़ कर बाहर निकली. देखा कि अज्ञात लोगों ने मिथिलेश को गोली मार दी है. मिथिलेश कुमार की अंतिम आवाज में सिर्फ मां बोलते सुनी.

मुझे देखते ही अपराधियों ने गाली- गलौज कर पकड़ने की बातें कही, तो मैं अपने बेटे को लेकर अंदर कमरे में घुस गयी. जिसके बाद अपराधियों ने बाहर से कमरे का दरवाजा बंद कर दिया और मिथिलेश की गला रेत दिया. इसी बीच मैंने उसके छोटे भाई अविनाश उर्फ अखिलेश साहू को फोन कर दी. जिसके बाद वे पहुंचकर बाहर से बंद कमरे का दरवाजा खोला. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गयी. उन्होंने बताया कि सभी अपराधी दो बाइक में सवार होकर आये थे जो हत्या करने के बाद फरार हो गये.

पूजा का पति जेल में है

हत्या की चश्मदीद पूजा देवी का पति नरेश कुमार गुप्ता वर्तमान में गुमला जेल में है. उसके खिलाफ पूजा ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का केस की थी. जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. वहीं, पूजा बाल मजदूर मुक्ति संस्थान में समिति सदस्य के रूप में मिथिलेश के साथ काम कर रही है.

जांच में जुटी पुलिस

इस संबंध में गुमला थाना प्रभारी मनोज कुमार ने कहा कि मृतक मिथिलेश का पूर्व से कुछ लोगों से दुश्मनी थी. साथ ही उसके सहयोगी पूजा के पति नरेश कुमार जो जेल में है. कहीं उससे कुछ अनबन तो नहीं थी. पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें